आज का मानव अपनी जिंदगी में इतना व्यस्त क्यू हो गया है

आज हम बात करेंगे कि आज का मानव इतना व्यस्त क्यों हो गया है वर्तमान समय में मानव इतना व्यस्त था बिजी हो क्या है कि वह एक दूसरे को टाइम भी नहीं दे पा रहा है इसके पीछे बहुत से कारण है उनमें से एक कारण तो यह है कि आज का मानव रोजी-रोटी कमाने में लगा हुआ है तथा वे अपना परिवार का पेट पालने में लगा हुआ है वह पूरे दिन भाग दौड़ तथा मेहनत करता है ताकि अपने परिवार का गुजारा चला सके इससे भागदौड़ भरी कसमकास में उसका पूरा दिन रोजी रोटी कमाने में ही लग जाता है पता भी एक दूसरे दूसरे को टाइम नहीं दे पाता है

दूसरी तरफ देखा जाए तो आज नहीं गई गई नहीं गई इतनी बढ़ गई है कि मानव और युवा जो भी मेहनत करता है उस मेहनत से उसका घर परिवार का गुजारा ही चल पाता है क्योंकि आजकल महंगाई के कारण पैसा तो कम मिलता है और महंगाई ज्यादा है इस कारण से उनको अपने परिवार चलाने के लिए अधिक मेहनत करनी पड़ती है कुछ लोग तो अपना घर चलाने के लिए एक्स्ट्रा या फिर ओवरटाइम काम भी करते हैं वह चाहते हैं कि वह अपने परिवार का गुजारा ढंग से चला सके

आज की युवा पीढ़ी के इतने व्यस्त होने के क्या कारण हो सकते हैं

  • युवा पीढ़ी के इतना व्यस्त होने के कारण तो महंगाई
  • दूसरा कारण यह है कि वह अपने घर परिवार परिवार को चलाने के लिए यह सब कुछ करता है
  • तीसरा कारण यह है कि उसको सैलरी बहुत कम मिलती है जिससे कि उसे एक्स्ट्रा काम भी करना पड़ता है
  • इसके साथ ही वे अपने रिश्तो को बचाना चाहता है तो वह नहीं चाहता कि अपने घर परिवार परिवार में इस वजह से लड़ाई हो
  • वर्तमान समय में जो भी काम कर रहा है उस सैलरी से वह सिर्फ अपने परिवार अपने परिवार से वह सिर्फ अपने परिवार अपने परिवार अपने परिवार का गुजारा ही चला सकता है
  • इतनी कम सैलरी में है वह कभी भी अमीर नहीं बन सकता है

आज का युवा समाज में बने रहने के लिए क्या क्या प्रयास करता है

आज के युवा समाज में बने रहने के लिए बहुत ही कठिन प्रयास करता है इसके अलावा यह बहुत ही कठिन मेहनत करता है इस वजह से वह अपने परिवार को टाइम भी नहीं भेज दे पाता है फिर भी वह चाहता है कि वह अपने परिवार का गुजारा अच्छे से कर सके तथा समाज में अपनी एक वैल्यू बना सके इस वजह से वह अपने परिवार से हमेशा दूर रहता है वह दूर रहकर भी परिवार में हमेशा प्यार बनाए रखना चाहता है कई बार तो इस अकेलेपन को दूर करने के चक्कर में वह बहुत दूर चला जाता है जिससे कि उसके परिवार वाले उसे वापस बुलाने की कोशिश करते हैं वह चाहकर भी अपने परिवार के नजदीक नहीं आ सकता क्योंकि उन्हें पता है कि महंगाई कितनी है और यदि वे घर आ गया तो वह अपने परिवार का गुजारा फिर से चला पाएगा इस वजह से वह घर भी नहीं आता वह परिवार से भी अलग हो जाता है इसमें गाय से वह बहुत तंग आकर कुछ भी नहीं कर पाता ने हुए हैं परिवार में नवा समाज में एक अमीर इंसान बन सकता है पता नहीं वह गरीब के ला सकता है बस वह इन दोनों के बीच में फंस कर रह जाता है

आज के मानव के सामने कई नई समस्या एक चुनौती बन गई है


यह समस्या किसी एक व्यक्ति के नहीं है समाज में रहने वाले हर व्यक्ति के साथ यही समस्या हो गई है यह समस्या हर व्यक्ति के सामने वह आती है तो दाहा रोज इस समस्या का सामना करते हैं तथा वो रोज काम पर निकलते हैं देर शाम को घर आते हैं ताकि वे अपने परिवार का गुजारा चला सके इस महंगाई ने तो आज के मानव का जीना ही दूभर कर दिया है वह चाह कर भी कुछ नहीं कर पाता इसके जिम्मेदार भी वह खुद ही है उनकी आज के मानव ने टेक्नोलॉजी में इतनी तरक्की कर ली है कि उनको एक तो रोजगार के साधन भी चीनते जा रहे हैं आज सारा काम मशीनों से हो गया है मानव की जरूरत हर जगह कम होती जा रही है सारा काम मशीनें करने लग जाती है राणा जी ने आदमी से भी ज्यादा काम कर लेती है

https://caseearn.com/%e0%a4%95%e0%a5%8b%e0%a4%b9%e0%a5%80-%e0%a4%ad%e0%a5%80-%e0%a4%95%e0%a4%82%e0%a4%aa%e0%a4%a8%e0%a5%80-%e0%a4%85%e0%a4%aa%e0%a4%a8%e0%a5%87-%e0%a4%aa%e0%a5%8d%e0%a4%b0%e0%a5%8b%e0%a4%a1%e0%a4%95/