आसमान नीला क्यों दिखाई देता है ?aasamaan neela kyon dikhaee deta hai

आसमान नीला क्यों दिखाई देता है ? aasamaan neela kyon dikhaee deta hai यदि हम अंतरिक्ष से आसमान पर नजर डालेंगे तो आसमान काला दिखाई देता है । जबकि यदि हम धरती से आसमान पर नजर डालेंगे तो वह हमें नीला दिखाई देता है ऐसा क्यों होता है ?

जब आसमान में बादल नहीं होते हैं तब वह नीला नजर आता है ।

जैसे जैसे हम धरती से आसमान की तरफ जाते हैं तेजी से रंग बदलने लगता है । ऊंचाई पर पहुंचने पर तापमान में भी बदलाव आता है । लेकिन एकदम से नहीं ।

जैसे जैसे हवा कम होती जाती है हमारे नीले आसमान का रंग काला होने लगता है । हमारे आसपास के चारों और वायुमंडल तथा हवा के कारण तथा धूल के कारण से रोशनी टकराकर के लौटने के कारण हमें आसमान नीला नजर आता है ।

यदि वायुमंडल ना हो तो हमें आसमान काला नजर आएगा जैसा कि अंतरिक्ष से देखने पर होता है ।

विज्ञान की भाषा में इसे प्रकीर्णन कहते हैं प्रकीर्णन के कारण ही हमें आसमान नीला नजर आता है । प्रकीर्णन में होता यह है कि सूर्य से आने वाली रोशनी वायुमंडल में मौजूद कानों से टकराकर के फैल जाती है ।