पत्तियां काटने वाली चिट्टियां के बारे में रोचक तथ्य

पत्तियां काटने वाली चिट्टियां के बारे में रोचक तथ्य

आपने चिट्टियां तो बहुत सारी देखी होगी | क्या आपने कभी ऐसी चीटियां देखी है जो कि छोटे छोटे पेड़ पौधों की पत्तियों को काटकर के अपने साथ ले जाती है | क्या आपने कभी सोचा है कि चीटियां इन घास फूस की पतियों को इकट्ठा करके क्या करती है | वह अपने बिल में ले जाकर के इनका क्या करती है | वह अपने बिल में इन पतियों को क्यों ले जाती है |

चिट्टियां पतियों को कैसे काटती है ?

चीटियों के पेट में एक अलग अंग पाया जाता है जो कि बहुत ही तेज गति से वाइब्रेट करता है | यह वाइब्रेशन चीटियों के दांतो को 1000 time पर सेकंड की स्पीड से हिलाते हैं | जिससे कि इनके छोटे छोटे काटने वाले दांत चाकू की तरह काम करते हैं |

चीटियों के लिए पतियों को काटना एक बात है तथा उसे घोसले में ले जाना एक बात है |

एक चींटी अपने वजन से 50 गुना ज्यादा वजन उठा लेती है |

चिट्टियां अपने से ज्यादा वजन कैसे उठा पाती है ?

चीटियों का बाहरी खोल बहुत ही सख्त होता है | बाकी का काम फिजिक्स कर देती है | जैसे जैसे शरीर का साइज छोटा होता है | मसल उतने ही ज्यादा ताकतवर होते हैं | जिसका सीधा मतलब है ज्यादा वजन ज्यादा दूरी तक उठा सकते हैं |

यह चीटियां 300 फुट की दूरी तक भी अपने वजन को ले जा सकती है |

आपको यह जानकर हैरानी होगी की चीटियां इन पत्तियों को खाती नहीं है | वह उसे घोसले में ले जा करके उसको चबाकर के उसके ऊपर अपनी पॉटी करती है |

वह ऐसा इसलिए करती है क्योंकि वह इन पत्तियों पर फंगस उगाना चाहती है | क्योंकि चीटियों को फंगस खाना बहुत ही पसंद होता है |

चिट्टियां इतनी मेहनत फंगस उगाने के लिए करती है क्योंकि उन्हें पंगत और से ज्यादा पसंद होता है |

चीटियां अपने खाने को कहां पर स्टोर करती है ?

8000000 चीटियों का घोसला एक न्यूयॉर्क सिटी के बराबर होता है | यह एक बिजी शहर है | जिसमें खाना भी बहुत ज्यादा लगता है |

यह सारी पतियों को इकट्ठा करके एक जगह पर डालती है | जिन्हें बैक्टीरिया खा कर के हजम कर जाते हैं | इन कूड़े को संभालने के लिए गार्बेज चीटियां भी होती है जो कि सिर्फ घास को संभालने का काम ही करती है |

कुत्ते एक दूसरे को चाटते क्यों हैं ?

चमगादड़ उल्टा क्यों लटकते हैं

एक कैटर पिलर तितली कैसे बनता है

चील के बारे में रोचक तथ्य

मधुमक्खियां फूलों में रस का पता कैसे लगाती है |