बच्चेदानी का मुंह कितने दिन तक खुला रहता है? बच्चेदानी का मुँह कब तक खुला रहता है ?

बच्चेदानी का मुंह कितने दिन तक खुला रहता है बच्चेदानी का मुँह कब तक खुला रहता है ? Bachchedani ka muh kab tak khula rahta hai ?

बच्चेदानी का मुंह कब खुलेगा यह पीरियड साइकिल पर डिपेंड करता है और यह पीरियड साइकिल हर महिला का अलग-अलग होता है ।

यानी कि हर महिला में पीरियड टाइम अलग अलग होता है । जिससे कि उनके बच्चे दानी के मुंह के खुलने का समय भी अलग अलग होता है ।

बच्चेदानी का मुंह पीरियड साइकिल खत्म होने के बाद भी खुला रहता है । यानी कि जब पीरियड साइकिल खत्म हो जाता है तब यदि आप रिलेशन बनाते हैं तब आप प्रेग्नेंट होने के चांस ज्यादा रहते हैं ।
लेकिन प्रेग्नेंसी हमेशा ओवुलेशन पर डिपेंड करती है क्योंकि ओवुलेशन से ही प्रेगनेंसी निश्चित होती है और ओवुलेशन का पीरियड ही महत्वपूर्ण होता है । लेकिन यह सब में अलग अलग होता है ।

यदि आप प्रेग्नेंट होना चाहते हैं तो आपको पीरियड खत्म होने के बाद में ही रिलेशन बनाना चाहिए । ओवरी से निकलने वाला अण्डा फेलोपियन ट्यूब में 24 से 36 घंटे तक रहता है । जबकि पुरुष के शुक्राणु गर्भाशय में चार से पांच दिनों तक जिंदा रह सकते हैं ।

हर महीला का मासिक चक्कर अलग अलग होता है सामान्य तौर पर 21 से 35 दिन का मासिक चक्र सामान्य मासिक चक्र होता है ।

बच्चेदानी का मुंह कितने दिन तक खुला रहता है ?

आइए अब जान लेते हैं कि बच्चेदानी का मुंह कब खुलता है और कितने दिनों तक खुला रहता है । आमतौर पर जब पीरियड आता है तब बच्चेदानी का मुंह खुलता है और पीरियड खत्म होने के पांच-छह दिनों तक बच्चेदानी का मुंह खुला रहता है ।

ओवुलेशन क्या होता है ?

ओवुलेशन मासिक चक्र का वह समय होता है जब अंडा पूरी तरह से तैयार होकर के मासिक चक्कर के लिए बाहर आता है । बाहर आ करके वह फेलोपियन ट्यूब में आ जाता है और यहां पर इसका मिलन शुक्राणु से होता है और प्रेगनेंसी हो जाती है ।

नोट – ओवुलेशन की तारीख तथा मासिक चक्कर की तारीख के बीच में 14 दिन का अंतराल होता है ।

पीरियड के बाद कितने दिन बच्चेदानी खुली रहती है। Bachchedani ka muh kab tak khula rahta hai.

अब हम आपको बताते हैं कि पीरियड के समय कितने दिनों तक बच्चेदानी का मुंह खुला रहता है अगर आप पीरियड आने के 12 से 18 दिन के बीच में अगर सेक्स करते हैं तो आपके प्रेग्नेंट होने के पूरे चांस रहते हैं ।

क्योंकि उसी समय महिलाओं की बच्चेदानी मैं अंडा विकसित होता है । जिससे अगर आप उस समय संभोग करते हैं तो आपके पार्टनर का प्रेग्नेंट हो ना पक्का है ।

डिलीवरी के कितने दिन पहले बच्चेदानी का मुंह खुलता है ? delivery ke kitne din pahle bache Dani ka muh mein khulata hai.

आप सभी यह बात तो जानते ही होंगे कि नॉर्मल ( normal delivery ) डिलीवरी के लिए बच्चेदानी का मुंह कम से कम 10 सेंटीमीटर ( 10cm ) खुला हुआ होना चाहिए । तभी नॉर्मल डिलीवरी होती है । आपको कैसे पता चलेगा कि आप की बच्चेदानी का मुंह खुल रहा है या नहीं आपको डॉक्टर के पास में कब जाना चाहिए इन सभी के बारे में आज हम discuss करेंगे ।

बच्चेदानी का मुंह खुलने के कौन-कौन से लक्षण होते हैं ? Bachchedani ka munh kholne ke lakshan aur Sanket.

जब डिलीवरी के समय या डिलीवरी से पहले बच्चेदानी का मुंह खुल है या नहीं इस बात का पता लगाना है तो कैसे लगाएंगे या फिर डिलीवरी के समय बच्चेदानी का मुंह खुला है या नहीं यह पता कैसे लगाएंगे ।

अब हम आपको कुछ ऐसे लक्षण बताएंगे जो कि इस बात का संकेत एक ही बच्चेदानी का मुंह खुला है और यह इस बात का भी संकेत है कि डिलीवरी होने वाली है । ‌

बच्चेदानी का मुंह खुलने के संकेत और लक्षण – bachchedani kam mein khoon ke lakshan aur Sanket

1 . प्रेगनेंसी में बच्चेदानी का मुंह 38 हफ्ते से लेकर के 40 हफ्ते के बीच में खुलता है । डिलीवरी होने से 4 से 5 दिन पहले बच्चेदानी का मुंह धीरे-धीरे खुलने लगता है । लेकिन कुछ महिलाओं में बच्चेदानी का मुंह नहीं खुलता है । जिसके चलते हुए डॉक्टर को सिजेरियन डिलीवरी ( cesarean delivery ) करवानी पड़ती है ।

2 . जब normal delivery होती है और बच्चेदानी का मुंह खुलता है तब बहुत सारे ऐसे संकेत हमारे शरीर को मिलते हैं जिससे पता चलता है कि बच्चेदानी का मुंह खुलने लगा है ।

3 . डिलीवरी( delivery) से पहले बच्चेदानी का मुंह खुलने का पहला लक्षण यह है कि जब बच्चा पेट से थोड़ा नीचे आ जाता है तब यह समझना चाहिए कि बच्चेदानी का मुंह खुलने लगा है । पेट का ऊपरी हिस्सा हल्का हो जाता है और चलते हैं तब ऐसे लगता है कि जैसे बच्चा गिरने वाला है ।

4 . यदि पेट के निचले हिस्से में लगातार दबाव महसूस हो और दर्द महसूस होने लगे तो समझ जाइए कि बच्चेदानी का मुंह खुलने लगा है ।

5 . Pregnancy के दौरान महिलाओं को बार बार पेशाब आने की शिकायत रहती है । लेकिन उन 38 हफ्ते में और 40 हफ्ते में पेशाब आने की शिकायत और ज्यादा बढ़ जाती है । यह इस बात का संकेत है कि बच्चेदानी का मुंह खुलने लगा है ।

6 . यदि प्राइवेट पार्ट से सफेद स्त्राव होने लगे तो भी समझ जाइए कि bachchedani का मुंह खुलने लगा है। यह स्त्राव सर्दी जुकाम के दौरान निकलने वाले द्रव्य के समान होता है । जब बच्चेदानी का मुंह खुलने लगता है तब यह white discharge हल्का गुलाबी हो सकता है या फिर हल्की bleeding भी हो सकती है ।

7 . पानी की थैली का फटना भी बच्चेदानी का मुंह खुलने का संकेत है । लेकिन यह संकेत डिलीवरी से कुछ समय पहले ही पता चलता है । इससे पता चलता है कि बच्चेदानी का मुंह खुल चुका है । Private partprivate part से निकलने वाला पेशाब के समान चिपचिपा पदार्थ बच्चेदानी की थैली के फटने का होता है ।

8 . बच्चेदानी का मुंह है जब एक से 2 सेंटीमीटर खुले लगता है तो लेबर पेन ( labour pain ) शुरू हो जाता है । यह जो labour pain होता है वह काफी तेज होता है । जब बच्चेदानी का मुंह 3 से 4 सेंटीमीटर तक खुल जाता है तब यह labour pain 2 से 3 मिनट में तीन बार होने लगता है । जैसे-जैसे बच्चेदानी का मुंह खुला लगता है वैसे वैसे ही labour pain बढ़ने लगता है।

Q . डिलीवरी होने के संकेत क्या है ? Delivery hone ke Sanket kya hai

जब पानी की थैली फटती है तब प्राइवेट पार्ट से टॉयलेट के समान पतला तरल निकलता है इसके साथ ही लेबर पेन भी शुरू हो जाता है । यदि इस तरह के संकेत दिखाई देने लगे तो आपको तुरंत ही डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए ।

क्योंकि अब आप की डिलीवरी कभी भी हो सकती है । पानी की थैली का फटना और लेबर पेन का बहुत अधिक बढना यह लक्षण बताते और, इस ओर संकेत करते हैं कि बच्चेदानी का मुंह खुल चुका है और डिलीवरी का समय आ चुका है ।

Q . बच्चेदानी का मुंह कैसे खुलता है ? Bache Dani Ka muh kaise khulta hai .

चलिए दोस्तों आपको बता देते हैं कि बच्चेदानी का मुंह कैसे खुलता है । बच्चेदानी का मुंह प्राकृतिक रूप से सभी महिलाओं में नॉर्मल तरीके से open होता है और बच्चेदानी का मुंह तभी खुलता है जब महिला को डिलीवरी या बच्चा होने वाला होता है । जब किसी महिला के बच्चेदानी का मुंह खुलता है तब बच्चेदानी में मौजूद बच्चा अपना सिर नीचे की तरफ कर लेता है ।

शुरुआत में बच्चेदानी का मुंह बंद होता है । डिलीवरी से कुछ दिन पहले बच्चेदानी का मुंह छोटा होता है । बच्चेदानी का मुंह 1 सेंटीमीटर से 10 सेंटीमीटर के बीच में खुलता है । यदि किसी महिला के बच्चेदानी का मुंह 10 सेंटीमीटर तक खुल जाता है ,तब उसके बच्चा होने वाला होता है या उस महिला की डिलीवरी का समय हो जाता है और उसकी डिलीवरी होने वाली होती है ।

यदि किसी महिला के बच्चेदानी का मुंह 1 सेंटीमीटर खुलता है तब यह समझना चाहिए कि अब डिलीवरी के दिन पास में आ रहे है । धीरे-धीरे बच्चेदानी का मुंह 1 सेंटीमीटर , 2 सेंटीमीटर , 3 सेंटीमीटर खुलेगा फिर 4 सेंटीमीटर खुलेगा । ऐसे करते करते बच्चेदानी का मुंह 10 सेंटीमीटर तक खुलता है ।