नाई की दुकान ज्ञान की दुकान होती है

नाई की दुकान ज्ञान की दुकान होती है

जब हम बाल कटवाने के लिए या फिर दाढ़ी बनवाने के लिए नाई की दुकान पर जाते हैं , तब वहां पर पहले से ही बहुत सारे लोग बैठे रहते हैं | देखा जाए तो वहां पर किसी ना किसी टॉपिक को लेकर चर्चा छिड़ी रहती है | ज्यादातर बात की जाए तो वहां के लोकल एरिया के आम टॉपिक पर ही बात होती रहती है |

गिलहरी के बारे में रोचक तथ्य…

ज्यादातर बातें उसी एरिया के टॉपिक पर होती है कि आज इस एरिया में क्या हुआ | कैसे हुआ | किसके साथ हुआ | इसी टॉपिक पर बातें होती रहती है और अलग-अलग व्यक्ति अपनी अपनी राय देते रहता है | बहुत सारे तो ऐसे टॉपिक हो जाते हैं जो कि एक मजाक का विषय बन जाता है |

जब कभी भी आप फ्री हो तब आप एक बार नाई की दुकान पर जरूरत है ना वहां पर ऐसे लोग मिल जाएंगे जिनके पास काम धंधा कुछ नहीं होता है | लेकिन ज्ञान उनके अंदर कूट-कूट कर भरा होता है | यदि आप किसी भी टॉपिक पर वहां पर आवाज या फिर बात करने के लिए बहस छेड़ते हैं , तब आपको वहां पर एक ही टॉपिक पर हजारों जवाब मिल जाएंगे |

बिल्लियों के बारे में रोचक तथ्य….

वहां पर बैठ अलग-अलग लोग आपको अपनी राय अलग अलग तरीके से बताएंगे | एक ही टॉपिक वर आपको सारे सवालों का जवाब मिल जाएगा | यह सारे सवाल पॉजिटिव तथा नेगेटिव दोनों तरफ के होंगे

नाई की दुकान पर जो भी व्यक्ति होगा | उसके पास मोहल्ले की हर खबर होगी | उसको पता होगा कि आज मोहल्ले में क्या हुआ होगा तथा कैसे हुआ | यह सारी चीजें उसको पता होती है | इसका सॉल्यूशन भी उसको पता होता है | क्योंकि डिसकस तो नाई की दुकान पर होता है | क्योंकि वहां पर एक आदमी नहीं कई आदमी होते हैं तो जाहिर सी बात है मुद्दा तो उठेगा ही |

मधुमक्खियां शहद कैसे बनाती है…