बाटा किस देश की कंपनी है ? Bata kis desh ki company hai
बाटा किस देश की कंपनी है ? Bata kis desh ki company hai

बाटा कंपनी पुरुषों के लिए उच्च गुणवत्ता के कंफर्टेबल सूटेबल और आरामदायक जूतों का निर्माण करती है ।

आपकी जानकारी के लिए बता देते हैं कि बाटा कंपनी भारतीय कंपनी नहीं है बाटा कंपनी एक विदेशी कंपनी है ।

बाटा कंपनी विदेशी कंपनी होने के बाद भी भारत में अपनी एक छवि बना रखी है और भारत में बाटा कंपनी के जूते काफी पॉपुलर है ।

बाटा कंपनी पुरुषों के लिए अलग-अलग तरीके के अलग-अलग डिजाइन की स्पोर्ट्स शूज बनाती है यह शूज पुरुषों के लिए काफी आरामदायक कंफर्टेबल होते हैं ।

बाटा किस देश की कंपनी है ? Bata kis desh ki company hai .

आइए हम जान लेते हैं एक विदेशी कंपनी जिसका नाम पता है वह चेक रिपब्लिक देश की कंपनी है ।

Bata company ka Malik kaun hai – बाटा कंपनी का मालिक कौन है ?

विदेशी कंपनी बाटा के मालिक की बात करें तो बाटा कंपनी का मालिक Tomáš Baťa है ।

बाटा शूज प्राइस – bata company shoes price .

बाटा के शूज की प्राइस की बात करें तो इनकी प्राइस ₹800 से शुरू होकर के ₹2000 तक हो सकती है ।

इसके अलावा बाटा के शूज की प्राइस जूते पर भी निर्भर करती है कि जूता कौन सा है और जूते की क्वालिटी क्या है इस बात पर भी इनकी प्राइस निर्भर करती है ।

Bata company product list – बाटा कंपनी के प्रोडक्ट ।

1 . All Men Shoes Sneakers Oxfords
2 . Derbies Loafers
3 . Mocassins Athleisure
4 . Thong Slippers Chappals
5 . Flip-Flops
6 . Monk Straps
7 . Espadrilles Lace-ups Men Socks
8 . Formal Casual Boots
9 . Outdoor Sandals.

पुरुषों के लिए बाटा कंपनी के जूते – purushon ke liye bata company ke jute

आइए अब बात करते हैं कि बाटा कंपनी पुरुषों के लिए किस किस प्रकार के जूतों का डिजाइन करती है फॉर्मल से लेकर रनिंग शूज तक की बात करेंगे ।

1 . पुरुषों के लिए बाटा की फॉर्मल शूज
2 . पुरुषों के लिए बाटा की कैजुअल शूज
3 . पुरुषों के लिए बाटा की रनिंग शूज

पुरुषों के लिए डिजाइन किए गए बाटा कंपनी के जूते अधिकतर ब्लैक का ब्राउन कलर के होते हैं यानी कि बाटा कंपनी के जूतों का रंग काला तथा बुरा होता है ।

BRAND STORY : जानें ब्रांड बनने तक बाटा के सफर की पूरी कहानी

आइए सब जानते हैं कि बाटा कंपनी एक ब्रांड कैसे बना बाटा कंपनी के ब्रांड बन्नी का सफर कैसा रहा और किस प्रकार से बाटा कंपनी एक ब्रांड बना । बाटा कंपनी से जुड़े हुए कुछ रोचक जानकारियां और कुछ रोचक तथ्य ।

बाटा कंपनी की स्थापना 1894 में हुई थी । उसके बाद में बाटा कंपनी के मालिक की एक विमान दुर्घटना में मृत्यु हो गई । उनकी मृत्यु के बाद में उनका सारा कारोबार उनके बेटे ने संभाल लिया।

फिर उन्होंने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इसकी मार्केटिंग शुरू की और अपना नाम कमाना शुरू किया । इसी के चलते इस कंपनी को रबड़ और लेदर की आवश्यकता पड़ी ।

बाटा कंपनी भारत कैसे पहुंची ?

रबड़ और लेदर की आवश्यकता को पूरा करने के लिए उन्होंने खोजबीन शुरू की और खोज करते करते यह कंपनी भारत तक पहुंच गई ।

1839 तक भारत में जूतों की कोई कंपनी नहीं थी । भारत विदेशों से ही जूतों का आयात करता था । फिर 1839 में बाटा कंपनी ने कोलकाता में अपने जूते बनाना शुरू किया और जूतों की फैक्ट्री लगाई ।

भारत में जूते की कोई कंपनी नहीं होने के कारण बाटा कंपनी के जूते को पॉपुलर हुए और खूब बिकने लगे और इनके जूतों की सेल बहुत ज्यादा ही बढ़ गई और कंपनी ग्रोथ करने लगी ।

बाटा कंपनी के जूतों की मार्केट में मांग काफी बढ़ गई बाटा कंपनी हर हफ्ते करीब 3500 जूते बनाने लगी ।

वर्तमान में बाटा कंपनी पटना में लेदर के जूतों का भी निर्माण करती है । पटना में इनकी लेदर की फैक्ट्री है ।