बाथरूम में गाने की धुन अच्छी क्यों आती है

बाथरूम में हम रॉकस्टार क्यों बन जाते हैं |

बाथरूम में हम रॉकस्टार क्यों बन जाते हैं |


बाथरूम में हम रॉकस्टार बन जाते हैं | इसके पीछे साइंस का ही हाथ है | क्योंकि बाथरूम की दीवारें इस तरह के पत्थर से बनी हुई होती है जो कि ध्वनि तरंगों को अवशोषित नहीं करती है | जब हम बाथरूम में होते हैं तथा हम गाना गुनगुनाते हैं तो ध्वनि तरंगे बाथरूम की दीवारों से टकराती रहती है | वह ध्वनि तरंगों की फ्रीक्वेंसी आगे पीछे होती रहती है तथा वह दीवारों से टकराती रहती है | दीवारें उन ध्वनि तरंगों को अवशोषित नहीं करती है | इस वजह से हमें ध्वनि गूंजती हुई सुनाई देती है और हमें लगता है कि हम एक अच्छे सिंगर हैं तथा हम जो गाना गा रहे हैं वह अच्छे सुर में गा रहे हैं | जबकि ऐसा कुछ नहीं है |

लोग शावर में क्यों गाते हैं? – मनुष्य – 2019

हम भारतीय बाथरूम गाना क्यों गाने लगते है

नहाते समय लगभग हर लड़की के मन में आती हैं ये 11

https://caseearn.com/tears-fact/
https://caseearn.com/machhar-k-rochak-tathay-mosquito-fact/