बाइक चलाते समय आंखें बंद क्यों होती है

बाइक चलाते समय आंखें बंद क्यों होती है


क्या आपने कभी सोचा है कि जब भी हम बाइक चला रहे होते हैं तो हमारी आंखें बार-बार मंद होती है इसका क्या कारण हो सकता है चलिए आज हम इसी के बारे में बात करेंगे

मानव का मस्तिष्क लगभग कितने ग्राम का होता है….

जब हम बाइक चला रहे होते हैं तो हमारे सामने से आने वाली हवा हमारी आंखों से टकराती है हम जितनी तेज बाइक चलाएंगे हवा उतनी ही तेजी से हमारी आंखों से टकराएगी और जब हवा आंखों से टकराती है तो हमारे आंखों में उपस्थित नमी को सोख लेती है जिस कारण से हमें बार-बार पलक बंद करना पड़ता है

क्योंकि आंखों को हमें गिला करना पड़ता है जब भी आंखों में नमी कम होती है हमें पलक झपकाना पड़त है इसलिए हम बार-बार पलक झपकाना पड़ता है तथा आंखों की पुतलियां भी सिकुड़ जाती है क्योंकि हवा हमारे आंखों से बहुत तेजी से टकराती है

इसलिए हवा से आंखों को बचाने के लिए भी आंखें सिकुड़ कर छोटी हो जाती है तथा हमें बार-बार पलक झपकाना पड़ता है |

यह पासवर्ड गलती से भी ना रखें

ट्रेन के आखिरी डिब्बे पर क्रॉस का चिन्ह क्यों होता है

तितली की आँखें रात में क्यों चमकती हैं ( Titali ke ankhai rat Mai q chamakti hai )

मानव का मस्तिष्क लगभग कितने ग्राम का होता है