बिल्ली खाने पीने की चीजों को जूठा कर दे तब क्या करें ।

बिल्ली खाने पीने की चीजों को जूठा कर दे तब क्या करें ।

बिल्ली का जूठा खाने से होते हैं यह 10 भयंकर बिल्ली का जूठा खाने या बिल्ली का झूठा दूध पीने से क्या कोई नुकसान है?

बिल्ली खाने पीने की चीजों को जूठा कर दे तब क्या करें ।

बिल्ली का जूठा खाने से होते हैं यह 10 भयंकरबिल्ली का जूठा खाने या बिल्ली का झूठा दूध पीने से क्या कोई नुकसान है? बिल्ली खाने पीने की चीजों को जूठा कर दे तब क्या करें ।

नमस्कार दोस्तों , आज हम बात करेंगे कि बिल्ली यदि किसी भी खाने पीने की चीज जैसे कि दूध , दही आदि को झूठा कर दे तब हमें क्या करना चाहिए । उस खाने पीने के सामान को फेंक देना चाहिए या फिर हमें काम में लेना चाहिए ।

हमारे शास्त्रों में , वेदों में तथा पुराणों में भी इस बात का उल्लेख मिलता है कि हमें बिल्ली के द्वारा झूठे
किए गए किसी भी खाने को नहीं खाना चाहिए । इसके पीछे भी वैज्ञानिक कारण भी छुपे हुए हैं ।

वैसे देखा जाए तो शास्त्रों का मत भी तर्कसंगत है इसमें कोई झूठ नहीं है । क्योंकि हमारे जैसी तथा मुनियों को भी इन बातों का ज्ञान था कि जानवरों में भी मनुष्य की तरह जीवाणु , विषाणु तथा वायरस पाए जाते हैं ।

बिल्ली खाने पीने की चीजों को जूठा कर दे तब क्या करें

इसके पीछे वैज्ञानिक कारण की बात करें तो बिल्ली की लार में एक प्रकार का परजीवी वायरस पाया जाता है । यदि यह वायरस खाने के माध्यम से हमारे शरीर में चला जाए तो मनुष्य को बीमार कर सकता है तथा एक घातक बीमारी से व्यक्ति संक्रमित भी हो सकता है ।

इसीलिए डॉक्टर तथा वेद पुराण भी बिल्ली द्वारा झूठे की गई खाने को खाने से हमेशा मना ही करते हैं । क्योंकि यह बात सभी जानते हैं ।

हम बिल्ली की बात करें तो बिल्ली एक प्रकार का वन्य तथा मांसाहारी जीव है । यह वन्यजीवों का शिकार करती है । बिल्ली बहुत सारे ऐसे मांसाहारी पक्षियों का शिकार करती है तथा उसे खाती है ।

जिसके कारण बिल्ली के मुंह में बहुत सारे वायरस तथा परजीवी भी पाए जाते हैं । यदि बिल्ली इन खाने को जूठा कर देती है तो वह वायरस बिल्ली के लार से उस खाने में पहुंच जाता है ।

बिल्ली , चूहा , खटमल पक्षी ऐसे कई जानवरों का शिकार करती है तथा उसे खाती है । जिसके कारण बिल्ली का मुंह हमेशा वायरस से संक्रमित रहता है । और वैसे भी जानवरों में बहुत सारे वायरस पाए जाते हैं ।

यदि वह वायरस मनुष्य में पहुंच जाए तो इसका परिणाम अच्छा नहीं होता है । इसका उदाहरण चीन से पहले अभी वायरस को ही देख लीजिए ।

बिल्ली का जूठा

क्योंकि बिल्ली के लार में टोक्सोप्लाज्मा और एंकिलोस्टोमा हुकवर्म नामक वायरस पाया जाता है । जानवरों में पाए जाने वाले यह वायरस बहुत ज्यादा ही खतरनाक होते हैं ।

इंसानों के लिए तो और भी घातक हो सकते हैं तथा यह एक गंभीर बीमारी तथा महामारी का रूप भी ले सकते हैं ।

अगर किसी बाहरी बिल्ली के जूठे खाने को अपने खा लिया तो आपके दिमाग में फोड़े या कभी कभी तो अंधापन भी हो सकता है। इसलिए हमेशा सतर्क रहें।

यह तो कुछ भी नहीं है इससे भी घातक बीमारी भी हो सकती है । यदि ध्यान नहीं रखा जाए तो और यदि कोई बीमारी महामारी का रूप धारण कर ले , तो इसे रोकना भी बहुत मुश्किल हो जाता है । जैसे आज के समय हम उदाहरण के तौर पर बात करें तो कोरोना इसी का एक उदाहरण है ।