चिड़िया घोंसला कैसे बनाती है ? Chidiya Ghonsala Kaise banati hai .
चिड़िया घोंसला कैसे बनाती है ? Chidiya Ghonsala Kaise banati hai .

kaise banati hai आज हम चिड़िया के घोसले की बात कर रहे हैं कि चिड़िया का घोंसला कैसा होता है और चिड़िया अपना घोंसला किस प्रकार से बनाती है ।
सभी पक्षों के घोंसला बनाने की कला और तरकीबें अलग-अलग होती है । सभी पक्षी घोंसला अलग अलग तरीके से बनाते हैं । पक्षी घोसले को बनाने के लिए अलग-अलग सामग्री का इस्तेमाल भी करते हैं । सभी घोंसला में काम आने वाली सामग्री एक जैसी नहीं होती है ।

घोसला बनाने में काम आने वाली सामग्री

घोंसला किन-किन चीजों से मिलकर के बना होता है कुछ पक्षी घोसले को बनाने के लिए पेड़ पौधों के तिनकों का और घास फूस का प्रयोग करते हैं । जबकि कुछ पक्षी घास फूस के साथ-साथ कुछ सख्त लकड़ी का भी प्रयोग करते हैं ।

बहुत सारे पक्षी ऐसे भी होते हैं जो कि घोंसला बनाने के लिए तिनको के साथ-साथ मिट्टी का प्रयोग भी करते हैं । वह मिट्टी के घोसले भी बनाते हैं । सभी पक्षियों की प्रकृति के आधार पर वह अपने घोसले का निर्माण करते हैं ।

चिड़िया घोंसला कैसे बनाती है ?

चिड़िया का घोंसला साधारण सा घोंसला होता है । चिड़िया घास फूस और तिनको की मदद से अपना घोंसला बनाती है । घास फूस के लिए वह किसी भी घास की सूखी पत्तियों का उपयोग घोंसला बनाने के लिए प्रयोग करती है ।

चिड़िया का घोंसला कैसा होता है ?

चिड़िया का घोंसला गोल गोल छोटासा कटोरीनुमा होता है । जो कि तिनको को आपस में गुंथ करके बनाया जाता है । इसमें तीनके एक दूसरे के साथ ऐसे फिट और कनेक्ट किए जाते हैं कि उसे निकालना बहुत ही कठिन होता है । वह आपस में इन तिनकों को बांध देती है

कुछ पक्षी घोंसला बनाते समय घोसले के नीचे की तरफ कांटे वाले पौधों की कुछ सूखी टेनिया रख देते हैं । फिर उसके बाद में घास पूस की मुलायम पत्तियां रख देते हैं । उसके बाद में उसके ऊपर अंडे देते हैं ।

चिड़िया का घोंसला कहां बनाती है ?

भारत में रहने वाली चिड़िया घोंसला अक्सर 2 जगहों पर बनाती हुई पाई गई है । पहली तो वह अपने आसपास के घरों में मौजूद चिड़िया हमारे घरों के अंदर की जगहों पर घोंसला बनाती है ।

कुछ चिड़िया पेड़ पौधों पर रहती है । वह पेड़ पौधों की टहनियों पर अपना घोंसला बनाती है और वहीं पर अंडे दे करके अपने बच्चे को पैदा करती है ।

घोसले को बनाने में सभी पक्षियों की कला और स्टेटस जी अलग अलग होती है । कुछ पक्षी घोंसला बनाने के लिए नर पक्षी पूरी तरह से मेहनत करता है और मादा पक्षी को घोंसला बनाने में मदद करता है ।

जबकि कभी कबार ऐसा भी देखा गया है कि पूरा का पूरा घोंसला मादा पक्षी ही बनाता है उसमें नरभक्षी कोई भी हेल्प नहीं करता है ।

इसके अलावा कभी कबार यह भी सामने आया है कि घोंसला बनाने के लिए नर और मादा दोनों पक्षी मिलकर के घोसले को बनाते हैं ।

पक्षियों की घोंसला बनाने की यह प्रकृति पक्षियों के रहने वाले क्षेत्र , खानपान और उनकी प्रकृति पर निर्भर करती है ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here