चिड़िया घोंसला कैसे बनाती है ? Chidiya Ghonsala Kaise banati hai . चिड़िया का घोंसला।

kaise banati hai आज हम चिड़िया के घोसले की बात कर रहे हैं कि चिड़िया का घोंसला कैसा होता है और चिड़िया अपना घोंसला किस प्रकार से बनाती है ।
सभी पक्षों के घोंसला बनाने की कला और तरकीबें अलग-अलग होती है । सभी पक्षी घोंसला अलग अलग तरीके से बनाते हैं । पक्षी घोसले को बनाने के लिए अलग-अलग सामग्री का इस्तेमाल भी करते हैं । सभी घोंसला में काम आने वाली सामग्री एक जैसी नहीं होती है ।

घोसला बनाने में काम आने वाली सामग्री

घोंसला किन-किन चीजों से मिलकर के बना होता है कुछ पक्षी घोसले को बनाने के लिए पेड़ पौधों के तिनकों का और घास फूस का प्रयोग करते हैं । जबकि कुछ पक्षी घास फूस के साथ-साथ कुछ सख्त लकड़ी का भी प्रयोग करते हैं ।

बहुत सारे पक्षी ऐसे भी होते हैं जो कि घोंसला बनाने के लिए तिनको के साथ-साथ मिट्टी का प्रयोग भी करते हैं । वह मिट्टी के घोसले भी बनाते हैं । सभी पक्षियों की प्रकृति के आधार पर वह अपने घोसले का निर्माण करते हैं ।

चिड़िया घोंसला कैसे बनाती है ?

चिड़िया का घोंसला साधारण सा घोंसला होता है । चिड़िया घास फूस और तिनको की मदद से अपना घोंसला बनाती है । घास फूस के लिए वह किसी भी घास की सूखी पत्तियों का उपयोग घोंसला बनाने के लिए प्रयोग करती है ।

चिड़िया का घोंसला कैसा होता है ?

चिड़िया का घोंसला गोल गोल छोटासा कटोरीनुमा होता है । जो कि तिनको को आपस में गुंथ करके बनाया जाता है । इसमें तीनके एक दूसरे के साथ ऐसे फिट और कनेक्ट किए जाते हैं कि उसे निकालना बहुत ही कठिन होता है । वह आपस में इन तिनकों को बांध देती है

कुछ पक्षी घोंसला बनाते समय घोसले के नीचे की तरफ कांटे वाले पौधों की कुछ सूखी टेनिया रख देते हैं । फिर उसके बाद में घास पूस की मुलायम पत्तियां रख देते हैं । उसके बाद में उसके ऊपर अंडे देते हैं ।

चिड़िया का घोंसला कहां बनाती है ?

भारत में रहने वाली चिड़िया घोंसला अक्सर 2 जगहों पर बनाती हुई पाई गई है । पहली तो वह अपने आसपास के घरों में मौजूद चिड़िया हमारे घरों के अंदर की जगहों पर घोंसला बनाती है ।

कुछ चिड़िया पेड़ पौधों पर रहती है । वह पेड़ पौधों की टहनियों पर अपना घोंसला बनाती है और वहीं पर अंडे दे करके अपने बच्चे को पैदा करती है ।

घोसले को बनाने में सभी पक्षियों की कला और स्टेटस जी अलग अलग होती है । कुछ पक्षी घोंसला बनाने के लिए नर पक्षी पूरी तरह से मेहनत करता है और मादा पक्षी को घोंसला बनाने में मदद करता है ।

जबकि कभी कबार ऐसा भी देखा गया है कि पूरा का पूरा घोंसला मादा पक्षी ही बनाता है उसमें नरभक्षी कोई भी हेल्प नहीं करता है ।

इसके अलावा कभी कबार यह भी सामने आया है कि घोंसला बनाने के लिए नर और मादा दोनों पक्षी मिलकर के घोसले को बनाते हैं ।

पक्षियों की घोंसला बनाने की यह प्रकृति पक्षियों के रहने वाले क्षेत्र , खानपान और उनकी प्रकृति पर निर्भर करती है ।

error: Content is protected !!