दाद को जड़ से खत्म करने के उपाय।पुराने से पुराने दाद की दवा। dad khaj khujali ki angreji dava.

26


Daad ka gharelu upchar – आइए दोस्तों आज हम आपको बताते हैं, कि दाद क्या है, और दाद के घरेलू उपचार क्या है, और दाद कैसे होता है। दाद के बारे में तो आपने सुना ही होगा, दाद अगर किसी व्यक्ति को हो जाता है, तो उस पर बहुत ज्यादा खुजली चलती है, और दाद में कभी कभी खून भी आने लग जाता है।

दाद छूने और संक्रमण से फैलने वाली बीमारी है। यह व्यक्ति के कपड़ों को छूने मात्र से ही फैल जाता है। अगर किसी व्यक्ति के दाद हो, और हम अपने कपड़े उसके कपड़ों के साथ अपने कपड़े धोते हैं।‌

फिर उसके साथ अपने कपड़े रखते हैं, तो दूसरे व्यक्ति को भी दाग जैसी बीमारी हो सकती है। दाद कुछ दिन तक तो धीरे-धीरे फैलता है, लेकिन कुछ समय होने के बाद यह बहुत ज्यादा तेजी से फैलता है।

1 दाद खाज खुजली होने के कारण dad khaj khujli hone ke Karan
2 दाद के पतंजलि इलाज दाद की आयुर्वेदिक दवा dad ka Patanjali ilaaj dad ki ayurvedic dava
3 दाद को जड़ से खत्म करने के उपाय dad ko jad se khatm karne ke upay
4 दाद खाज खुजली के घरेलू नुस्खे – dad ka gharelu upchar .
5 पुराने से पुराने दाद की दवा purane se purane dad ki dava
6 दाद खाज खुजली की अंग्रेजी दवा dad khaj khujali ki angreji dava
दाद खाज खुजली होने के कारण dad khaj khujli hone ke Karan

1 दाद खाज खुजली होने के कारण dad khaj khujli hone ke Karan

दाद की उत्पत्ति फफूंदी के कारण होती है। इस रोग में रोगाणु त्वचा के बाल की जड़ से त्वचा में प्रवेश करते हैं, और त्वचा को प्रभावित करते हैं। यह पैरों हाथों को कोहनी जांघ मैं बहुत जल्दी फैलता है।

dad ऐसी जगह ज्यादा फैलता है। जहां पर बहुत ज्यादा या फिर पूरे दिन नमी रहती हो, उस स्थान पर दाद की उत्पत्ति बहुत ज्यादा होती है, जैसे जांघों में या फिर कहीं भी जहां पर आपको बहुत ज्यादा पसीना आता हो, वहां पर दाद बहुत तेजी से फैलता है।

शुरू में दर्द में छोटे चकत्ते के रूप में दिखाई देता है, लेकिन धीरे-धीरे यह मटमैला हो जाता है। इसमें खुजली और जलन होती है, और उसके बाद यह लाल दिखाई देने लग जाता है।

इसके अलावा अगर हम दाद को ज्यादा खुजा लेते हैं तो उसमें से खून भी निकलने लग जाता हैइसीलिए आपको दर्द का इलाज समय रहते ही करवा लेना चाहिए

2 दाद के पतंजलि इलाज दाद की आयुर्वेदिक दवा dad ka Patanjali ilaaj dad ki ayurvedic dava

1 जिनको भी दाद खाज खुजली होती है। उनको नमक और मीठा बंद कर देना चाहिए, या कम कर देना चाहिए।

2 name ओर giloy aloevera gel प्राकृतिक चीजें हैं और खुजली में बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होती है यह खून को साफ कर देते हैं

3 आपको Patanjali ilaj के लिए कायाकल्प तेल की मसाज करनी चाहिए, और इसके साथ-साथ आप कायाकल्प गोली का सेवन भी कर सकते हैं।

4 इन सभी के साथ-साथ आपको लगातार रोज प्रणायाम करना चाहिए।

5 दाद खाज खुजली हो जाए, तो शरीर पर साबुन ना लगाई बल्कि मुल्तानी मिट्टी लेप का प्रयोग करें।

3 दाद को जड़ से खत्म करने के उपाय dad ko jad se khatm karne ke upay

1 त्रिफला के फायदे triple r ke fayde

त्रिफला को पीस लें और चूर्ण बना लें, इस चूर्ण में सरसों का तेल देसी घी थोड़ी सी फिटकरी सरसों का तेल और पानी मिलाकर मरहम बना ले। यह मरहम पकने वाले दांद के लिए रामबाण दवा है ।

2 हल्दी के फायदे Haldi ke fayde

हल्दी में antibacterial गुण पाए जाते हैं के लिए beneficial होते हैं। इसके अलावा हल्दी में antifungal भी होता है। जो कि fungal infection को रोकता है। इसके लिए हल्दी पाउडर को लेकर इस मे पानी मिला ले।

इसका पेस्ट बना लें, और इसके बाद से दाद खाज खुजली वाले स्थान पर लगाएं, और इससे सूखने दें और आंतरिक लाभ लेने के लिए हल्दी पानी आदि की चाय पी पी सकते हैं‌।

3 सेब का सिरका seb ka sirka

सेब का सिरका दाद खाज खुजली में बहुत ही असरदार घरेलू उपचार हैं। इसमें बहुत ही मजबूत antifungal पाई जाती है। यह प्रभावित क्षेत्र पर बहुत जल्दी असर दिखाता है।

दाद खाज खुजली को ठीक करने के लिए सेब के सिरके कोई कपास की रूई में गीला करके अपनी त्वचा पर लगाएं। इससे आपको दाद खाज खुजली से आराम मिलेगा, यह काम आपको दिन में तीन बार करना है।

4 दाद खाज खुजली के घरेलू नुस्खे – dad ka gharelu upchar .

1 दाद पर कच्चे पपीते का दूध कैसे रामबाण इलाज होता है dad per kacche papite ka dudh kaise ramban ilaaj hota hai

अब हम आपको बताते हैं, कि कच्चे पपीते का दूध किस प्रकार दांत पर रामबाण साबित होता है, जी हां आपने कच्चे पपीता तो देखा ही होगा, तो कच्चे पपीते का दूध निकाल ले।

आप अगर दाद खाज खुजली की जगह लगाते हैं, तो इससे आपको जल्दी आराम मिल जाता है, तथा आपका skin infection जी बिल्कुल सही हो जाता है।

2 गुलाब जल और नींबू के रस से दाद खाज खुजली का इलाज gulab jal aur nimbu ke ras se dad khaj khujali ka ilaaj

अब हम आपको बताते हैं, कि दांत पर गुलाब जल और नींबू का रस किस प्रकार फायदेमंद होता है, किस प्रकार हम गुलाब जल और नींबू के रस से अपने दाद की बीमारी को दूर कर सकते हैं।

इसके लिए आपको थोड़ा सा गुलाब जल और थोड़ा नींबू का रस लेना होगा। इन दोनों का मिश्रण बनाकर दाद खाज खुजली की जगह लगा ले। इससे आपको दांत में बहुत जल्दी आराम मिल जाएगा।

3 दाद में लहसुन के रस के लाभ dad mein lahsun ke ras ke Labh

अगर हम लहसुन का रस दांत पर लगाते हैं, तो इससे आपको बहुत फायदा होता है। इससे आपको थोड़ी जलन होती है, लेकिन कुछ ही दिन लगातार लहसुन का रस दाद की जगह पर लगाने से आपको बहुत जल्दी आराम मिलता है।

और इसके साथ-साथ बाद भी जड़ से समाप्त हो जाता है, इसीलिए लहसुन का रस का प्रयोग अवश्य करें।

4 दाद पर अनार के पत्तों को पीसकर लगाने के फायदे dad per anar ke patton ko piece ke lagane ke fayde

अब हम आपको बताते हैं, कि दाद पर अनार के पत्ते किस प्रकार फायदेमंद होते हैं। अगर हम अनार के कुछ पत्ते पीसकर दाद पर लगाते हैं।

तो इससे हमें दाद खाज खुजली में बहुत जल्दी आराम मिलता है, और आपको दाद जैसी गंभीर समस्या खत्म हो जाती है।

5 दाद में करेले का रस को किस प्रकार फायदेमंद होता है dad mein karele ka ras kis prakar faydemand hota hai

अब हम आपको बताते हैं, कि दांद पर करेले का रस लगाने से आपको किस प्रकार फायदा हो सकता है। करेले का रस बहुत कड़वा होता है, लेकिन दाद खाज खुजली के लिए यह रामबाण इलाज है।

अगर आप करेले का रस निकालकर अपने infection area पर लगाते हैं, तो इसे आपको काफी फायदा होता है, और आपको दाद जैसी बीमारी बिल्कुल ही समाप्त हो जाती है।

6 चाय की पत्ती को दांद पर लगाएं chai ki Patti ko dant per lagaen

अगर हम चाय की पत्ती को दाद खाज खुजली पर लगाते हैं, तो इससे हमें बहुत ही जल्दी फायदा होता है, और हमें दांत से छुटकारा मिल जाता है।

7 दाद पर काली मिर्च का पाउडर देसी घी में मिलाकर लगाए dad per kali mirch ka powder Desi ghee mein milakar lagaen

अगर आप दाद पर काली मिर्च का पाउडर देसी घी में मिलाकर लगाते हैं, तो आपको बहुत फायदा होता है। काली मिर्च दांत पर रामबाण नुस्खा है। अगर आप चार से पांच कालीमिर्च को पीसकर उसे देसी घी में मिलाकर उसका पेस्ट बना लीजिए।

उसके बाद गहरे गहरे पेस्ट को अपने दाद वाले हिस्से पर लगाए यकीन मानिए, आपका दाद कुछ ही दिनों में छूमंतर हो जाएगा।

5 पुराने से पुराने दाद की दवा purane se purane dad ki dava

पुराने समय से ही दाद खाज खुजली को दूर करने के लिए कपूर बहुत ही ज्यादा फायदेमंद होता है। इसके लिए आपको दो टिकिया कपूर की लेनी है, और उसे अच्छे से पूछ लेना है।

कपूर का बारीक चूर्ण बनाकर उसे एक कटोरी में डाल ले, और उसके बाद कुछ तुलसी के पत्ते ले तुलसी के पत्ते से संबंधित कई सारे रोगों में फायदेमंद होते हैं।

इसके बाद तुलसी के पत्तों को छोटा-छोटा करके, कपूर के पाउडर में मिला लें। इसके बाद आपको इसमें कुछ नींबू का रस मिला ना होगा। दो से तीन चम्मच नींबू का रस मिला लें।

इसके बाद इसमें थोड़ा सा एलोवेरा का रस मिला लें। इसके बाद आपको इस पेस्ट को 2 मिनट तक अच्छे से हिलाना है। इसके बाद रूई के पोहे की सहायता से इस पेस्ट को उस जगह पर लगाएं।

जहां पर आपको दाद किस समस्या है, इसका लगातार कुछ दिन तक प्रयोग करने से आपको बहुत जल्दी फायदा मिलेगा।

6 दाद खाज खुजली की अंग्रेजी दवा dad khaj khujali ki angreji dava

1 Patanjali Divya kayakalp vati tablet.
2 Petroleum 200
3 Graphites pentarkan ptk.50
4 Sulphur 30
5 Oltef nf
6 Abzorb b cream
7 Aloevera jail

दाद को जड़ से खत्म करने के उपाय।पुराने से पुराने दाद की दवा। dad khaj khujali ki angreji dava.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here