जेलीफिश जीव डायनासोर से 25 करोड़ साल पहले इस धरती पर आए थे। जेलीफिश की बहुत सारी प्रजातियां होती है। पर इनकी ज्यादातर प्रजातियां जीवित होती रहती है तथा मरती रहती है। पर जेलीफिश की एक विशेष प्रजाति पाई जाती है जो कि अमर है यानी कि वह मरती नहीं है | उस प्रजाति का नाम है इम्मोर्टल जेलीफिश।

यह जिंदा ही नहीं रहती बल्कि यह बचपन की उम्र में लौट आती है तथा फिर से जवान हो जाती है। यह बच्चे से जवान तथा जवान से बच्चे होने तक का सफर लगातार करती रहती है |

जेलीफिश मरती क्यों नहीं है?

Immortal jellyfish दुनिया के सभी महासागरों में पाई जाती है | यह अपने जीवन को आम ढंग से शुरू करती है। ज्यादातर व्यस्क नहीं हो पाती है। क्योंकि वह दूसरी मछलियों का भोजन बनजाती है। यदि कुछ जवान हो जाए और यदि उसे किसी चोट या भुखमरी का शिकार नहीं होना पड़े तो एक अद्भुत तरीके से फिर से युवा बन सकती है।

इसके लिए imortal जेलीफिश एक्जिस्ट में बदल जाती है और समुद्री तल पर जम जाती है। यहां पर यह एक polib कॉलोनी के रूप में विकसित होती है। जो कि इनके जीवन का प्रथम हिस्सा है। यह प्रक्रिया वैसी ही है जैसे एक तितली कैटरपिलर बनने के लिए दोबारा कोकून में जा रही हो। इस polib कॉलोनी से कई जेलीफिश यानी कि इम्मोर्टल जेलीफिश पैदा हो जाती है। जो की पूरी तरह से इम्मोर्टल एडल्ट जेलीफिश की नकल होती है।

सिर्फ 30 दिनों में यह जेलीफिश जवान से बच्चा बनने का सफर तय कर लेती है


यह प्रक्रिया लगातार चलती रहती है तथा आगे बढ़ती रहती है | यह जेलीफिश हजारों लाखों सालों से जिंदा है।

जेली फिश मछली जेलीफिश को हिंदी में क्या कहते हैं ? jellyfish in hindi .

क्या आपने जेलीफिश का नाम सुना होगा जेलीफिश एक समुद्री जीव है जो समुद्र में रहता है नाम से तो ऐसा लग रहा है जैसे कि यह कोई मछली है जो कि जल में रहती है परंतु ऐसा कुछ नहीं है

जेलीफिश जल में रहने वाला एक प्रकार का जीव है जो बहुत ही खतरनाक होता है यदि कोई मनुष्य इस जीव के संपर्क में आता है तो 3 मिनट के अंदर ही उसकी मृत्यु हो जाती है क्योंकि यह जीव एक प्रकार का हानिकारक रसायन छोड़ता है जो कि हमारे हमारे शरीर के लिए बहुत ही नुकसानदायक होता है

इसका सिर गोल होता है तथा इनके पीछे लंबी लंबी रस्सी की या डोरियों की तरह पूछ होती है इन डोरी पर बहुत सारी हानिकारक कोशिकाएं होती है यह कोशिकाएं हर पल हानिकारक पदार्थ को छोड़ती रहती है जब यह हानिकारक पदार्थ हमारी त्वचा के संपर्क में आता है तो यह हमारी त्वचा को काफी नुकसान पहुंचाता है तथा यह हमारे शरीर के अंदर भी चला जाता है जिससे कि हम 3 मिनट से ज्यादा नहीं जी पाते हैं इसलिए जेलीफिश एक बहुत ही खतरनाक जलीय जीव है इसे हमेशा बच के रहना चाहिए |

Gest Post , Backlink Exchange और sponsorship के लिए हमें नीचे दी गई Email Id पर contact करें। calltohelps@gmail.com