जेलीफिश अमर कैसे रहती है |

जेलीफिश अमर कैसे रहती है |

जेलीफिश मरती क्यों नहीं है |

जेलीफिश जीव डायनासोर से 25 करोड़ साल पहले इस धरती पर आए थे | जेलीफिश की बहुत सारी प्रजातियां होती है | पर इनकी ज्यादातर प्रजातियां जीवित होती रहती है तथा मरती रहती है | पर जेलीफिश की एक विशेष प्रजाति पाई जाती है जो कि अमर है यानी कि वह मरती नहीं है | उस प्रजाति का नाम है इम्मोर्टल जेलीफिश |

यह जिंदा ही नहीं रहती बल्कि यह बचपन की उम्र में लौट आती है तथा फिर से जवान हो जाती है | यह बच्चे से जवान तथा जवान से बच्चे होने तक का सफर लगातार करती रहती है |

जेलीफिश मरती क्यों नहीं है |

जेलीफिश मरती क्यों नहीं है |

Immortal jellyfish दुनिया के सभी महासागरों में पाई जाती है | यह अपने जीवन को आम ढंग से शुरू करती है | ज्यादातर व्यस्क नहीं हो पाती है | क्योंकि वह दूसरी मछलियों का भोजन बनजाती है | यदि कुछ जवान हो जाए और यदि उसे किसी चोट या भुखमरी का शिकार नहीं होना पड़े तो एक अद्भुत तरीके से फिर से युवा बन सकती है |

इसके लिए imortal जेलीफिश एक्जिस्ट में बदल जाती है और समुद्री तल पर जम जाती है | यहां पर यह एक polib कॉलोनी के रूप में विकसित होती है| जो कि इनके जीवन का प्रथम हिस्सा है | यह प्रक्रिया वैसी ही है जैसे एक तितली कैटरपिलर बनने के लिए दोबारा कोकून में जा रही हो | इस polib कॉलोनी से कई जेलीफिश यानी कि इम्मोर्टल जेलीफिश पैदा हो जाती है | जो की पूरी तरह से इम्मोर्टल एडल्ट जेलीफिश की नकल होती है |

सिर्फ 30 दिनों में यह जेलीफिश जवान से बच्चा बनने का सफर तय कर लेती है |


यह प्रक्रिया लगातार चलती रहती है तथा आगे बढ़ती रहती है | यह जेलीफिश हजारों लाखों सालों से जिंदा है |