शरीर के अंगों के नाम Human Body Parts Names in English and Hindi

शरीर के अंगों के नाम Human Body Parts Names in English and Hindi

मानव शरीर के अंगों और उनके कार्यों मानव शरीर के बारे में जानकारी

शरीर के अंगों के नाम Human Body Parts Names in English and Hindi

आज हम मानव शरीर के अंगों के नाम के बारे में जानेंगे कि मानव के शरीर में कौन-कौन से अंग होते हैं । उनके नामों के नाम क्या क्या होते हैं । मानव शरीर के अंगों और उनके कार्यों मानव शरीर के बारे में जानकारी शरीर के अंगों के नाम Human Body Parts Names in English and Hindi

मानव शरीर के प्रत्येक अंग का अपना एक काम तथा कार्य होता है । जिसे वह पूरा करते हैं । जिससे कि हमारा शरीर सुचारू रूप से काम करता रहता है ।‌

आज हम हिंदी तथा अंग्रेजी दोनों में मानव शरीर के अंगों के बारे में विस्तार से जानेंगे ।

  1. बाल
    2 . सिर
    3 . चेहरा
    4 . आंख
    5 . नाक
    6 . कान
    7 . मुंह
    8 . जीभ
    9 . दांत
    10 . होठ
    11 . गाल
    12 . ठुड्डी
    13 . गला
    14 . गर्दन

बाल – बाल को अंग्रेजी में Hair भी कहते हैं । यह बाल केरोटी नाम के एक पदार्थ से बने होते हैं । हमारे पूरे शरीर पर छोटे-छोटे बाल मौजूद होते हैं । जिससे कि पसीना गंदगी के रूप में बाहर निकलता रहता है ।

सिर – सिर को हम अंग्रेजी में Head ( हेड ) भी कहते हैं । यह हमें सोचने समझने तथा कार्य करने तथा निर्णय लेने की क्षमता प्रदान करता है । सिर की मदद से ही हम किसी बात को सोच तथा समझ सकते हैं । सही तथा गलत का फैसला कर सकते हैं ।

चेहरा – चेहरे को अंग्रेजी में Face भी कहते हैं । चेहरे से हम किसी भी इंसान को पहचान पाते हैं तथा उसके हाव-भाव से उसके व्यवहार का भी पता लगा सकते हैं यह किसी भी व्यक्ति के मन का आईना होता है ।

आंख – आपको अंग्रेजी में Eye कहते हैं । यह हमारे शरीर के महत्वपूर्ण अंगों में से एक है । इसकी मदद से ही हम किसी भी वस्तु को देख पाते हैं ।

नाक – नाक को अंग्रेजी में Nose कहते हैं । इससे हम किसी भी वस्तु की गंध का पता लगा सकते हैं और हमें इससे गंध का पता चलता है । इसकी मदद से हम अच्छी तथा बुरी गंध का पता लगा सकते हैं ।

कान – कान को अंग्रेजी में Ear कहते हैं । कान की मदद से ही हम किसी भी प्रकार की ध्वनि को सुन सकते हैं । यह ध्वनि को सुनने का एक माध्यम है । इससे हम आवाज को सुनकर के आवाज का पता लगाते हैं ।

मुंह – मुंह को अंग्रेजी में Mouth कहते हैं । मुंह की मदद से ही हम कुछ भी खा तथा पी सकते हैं । जब भी हम कुछ खाते तथा पीते हैं जिससे हमारे शरीर को ऊर्जा मिलती है और हम कार्य कर पाते हैं ।

जिभ – जिभ को अंग्रेजी में Tongue कहते हैं । यह मुंह के अंदर रहती है । इसकी मदद से हम किसी भी वस्तु के स्वाद का पता लगा पाते हैं । इसके ऊपर बहुत सारे स्वाद ग्रंथियां होती है । जिससे कि हम किसी भी खाने का स्वाद का पता लगा पाते हैं ।

दांत – दांत को अंग्रेजी में Tooth कहते हैं । दांत हमारे मुंह के अंदर होते हैं । हमारे मुंह में कुल 32 दांत होते हैं और यह खाना चबाने का काम करते हैं । यह खाने को छोटे-छोटे भागों में विभाजित कर देते हैं । जिससे कि खाना आसानी से पेट में जा सके ।

होठ – होठ को अंग्रेजी में Lips कहते हैं । इससे हमारा मुंह बंद होता है तथा खुलता है । होठ से कभी भी पसीना नहीं निकलता है । क्योंकि इसमें छीद्र नहीं होते हैं ।

गाल – गाल को अंग्रेजी में Chicks कहते हैं । यह हमारे मुंह के दोनों तरफ होते हैं । एक इंसान के शरीर पर दो गाल होते हैं ।

ठुड्डी – ठुड्डी को अंग्रेजी में Chin कहते हैं । यह हमारे होठो के नीचे होती है ।

गला – गला को अंग्रेजी में Throughout कहते हैं । यह हमारे शरीर पर ठुड्डी के नीचे होता है ।

गर्दन – गर्दन को अंग्रेजी में Neck कहते हैं । यह गले के पीछे वाला हिस्सा होता है । गर्दन का आकार अलग अलग होता है ।

15 . छाती
16 . कंधा
17 . पिठ
18 . पेट
19 . नाभि
20 . कमर
21 . हाथ
22 . अंगुली
23 . अगुठा
24 . कलाई
25 . हथेली
26 . नाखुन
27 . कोहनी

छाती – छाती को अंग्रेजी में Chest कहते हैं । यह हमारे शरीर का आगे का तथा ऊपरी हिस्सा है । इसके नीचे हमारे फेफड़े तथा हमारा दिल होता है ।

कंधा – कंधे को अंग्रेजी में Shoulder कहते हैं । कंधा उस स्थान को कहते हैं जहां से हमारे हाथ शुरू होते हैं । यह गर्दन तथा हाथ की बीच का हिस्सा होता है ।

पिठ – पीठ को अंग्रेजी में कहते हैं । यह है हमारे शरीर के पीछे का हिस्सा होता है । जो की रीड की हड्डी से जुड़ा हुआ होता है ।

पेट – पेट को अंग्रेजी में Back कहते हैं । यह आमाशय ,छोटी आंत तथा बडिं आंत से मिलकर के बना होता है । यह छाती के नीचे का स्थान होता है ।

नाभि – नाभि को अंग्रेजी में Navil कहते हैं । यह है हमारे पेट में स्थित होती है । इससे हमारे पेट की हजारों नाडि़यां जुड़ी हुई होती है ।

कमर – कमर को अंग्रेजी में कहते हैं । यह नाभि के नीचे वाला भाग होता है । जब हम कोई कपड़ा पहनते हैं तब वह इसि भाग में टिका हुआ रहता है ।

हाथ – हाथ को अंग्रेजी में Hand कहते हैं । प्रत्येक मनुष्य के दो हाथ होते हैं । जिसकी मदद से वह कोई भी कार्य कर पाता है ।

अंगुली – अंगुली को अंग्रेजी में Finger कहते हैं । प्रत्येक व्यक्ति के ही हाथ में 4 अंगुलियां होती है । दोनों हाथों में 8 अंगुलियां होती है ।

अंगुठा – अंगूठे को अंग्रेजी में Thoumb कहते हैं । प्रत्येक व्यक्ति के एक हाथ में एक अंगूठा होता है । एक व्यक्ति के कुल 2 अंगूठे होते हैं ।

कलाई – कलाई को अंग्रेजी में wrist कहते हैं । यह हमारे हाथ का आखरी हिस्सा होता है जो की हथेली से जुड़ा हुआ होता है ।

हथेली – हथेली को अंग्रेजी में Palm कहते हैं । हमारी हथेली से एक अंगूठा तथा चार अंगुलियां जुड़ी हुई होती है ।

नाखुन – नाखून को अंग्रेजी में Nail कहते हैं । प्रत्येक अंगुली के अंत में ऊपर की ओर एक नाखून होता है । जो कि कैरोटीन से बना होता है ।

कोहनी – कोहनी को अंग्रेजी में Elbow कहते हैं । यह हमारे हाथ की बीच का एक जोड़ है । जिसकी मदद से हम हाथ को मोड़ सकते हैं ।

28 . पैर
29 . घुटना
30 . जांघ
31 . पैर का अंगूठा
32 . एड़ि

पैर – पैर को अंग्रेजी में Foot कहते हैं । प्रत्येक इंसान के पास एक जोड़ी पैर होते । जिसकी मदद से हम चल फिर पाते हैं ।

घुटना – घुटने को अंग्रेजी में Knee कहते हैं । यह हमारे पैर का जोड़ है । इससे हमारा पैर मुड़ जाता है ।

जांघ – जांघ को अंग्रेजी में Thie कहते हैं । यह कमर तथा घुटने के बीच का हिस्सा होता । इसमें बहुत ज्यादा मांसपेशियां होती है ।

पैर का अंगूठा – इसको अंग्रेजी में Toe कहते हैं । एक इंसान के शरीर में दो अंगूठे होते हैं ।

ऐड़ि – ऐड़ि को अंग्रेजी में Heel कहते हैं ।‌