शेर को जंगल का राजा क्यों कहा जाता है

शेर को जंगल का राजा क्यों कहा जाता है

शेर को जंगल का राजा क्यों कहा जाता है

शेर हमेशा झुंड में रहना पसंद करते हैं और हर झुंड में 20 सदस्य होते हैं उनमें बच्चे भी शामिल होते हैं

इस झुंड का पेट भरने की जिम्मेदारी शेरनी की होती है ने की शेरों की होती है |

शेर को जंगल का राजा क्यों कहा जाता है

अपने बच्चों की देखभाल शेरनी ही करती है जैसे कि अपने बच्चों की सफाई करना ,पानी तक ले जाना, खाने की व्यवस्था करना | यह सब शेरनी ही करती है , शेर नहीं करता है | फिर भी इस शेर को राजा कहा जाता है क्यों ?

फीमेल यानी की शेरनी साइज में शेर से छोटी होती है तथा शेर से ज्यादा एक्टिव होती है यानी कि झुंड का सबसे सक्रिय सदस्य शेरनी होती है |

झुंड की सारी शेरनीया मिलकर के एक स्टेटजी बनाती है तथा शिकार करती है |
शेरनी की की स्पीड 80 किलोमीटर प्रति घंटा होती है |
शेर आलसी जानवर होते हैं बताइए छिपकर के हमला करते हैं तथा शिकार करते हैं |

शेर को जंगल का राजा क्यों कहा जाता है

एक शेर झुंड के दूसरे शेर पर कब्जा करने की कोशिश करता है और जब वह कब्जा करने में कामयाब हो जाता है तो झुंड में उपस्थित शेरनी के बच्चों को मार देता है | ताकि वह अपने बच्चे पैदा कर सके और शेर अक्सर ऐसा करते हैं | इससे छुटकारा पाने के लिए जब शेरनी शिकार पर जाती है तो शेर अपनी फैमिली की सुरक्षा करता है| इसी वजह से शेरों को राजा कहा जाता है


शेरनी को इस बात का पता होता है की अपने बच्चों की सुरक्षा के लिए एक पिता का होना जरूरी होता है | पिता ही शेरनी की गैर मौजूदगी में बच्चों की सुरक्षा करता है इस वजह से शेर को राजा कहा जाता है |

शेर जंगल का राजा क्यों है?

जानकारी : जंगल का राजा

शेर न तो राजा हैं, न वो जंगल में रहते हैं 

जंगल के राजा ‘शेर’ से जुड़े महत्वपुर्ण तथ्य

जंगल के राजा ‘शेर’ से जुड़े महत्वपुर्ण तथ्य

जंगल का राजा भले ही शेर है, लेकिन

जंगल का राजा: शेर | Tiger in Hindi