किसी भी लास का पूरा शरीर जल जाता है लेकिन हाथ और पैर क्यों बच जाते हैं ?

किसी भी लास का पूरा शरीर जल जाता है लेकिन हाथ और पैर क्यों बच जाते हैं ?

किसी भी लास का पूरा शरीर जल जाता है लेकिन हाथ और पैर क्यों बच जाते हैं ?आज हम एक ऐसी ही एक अफवाह है कि बात करेंगे जो कि काफी दिनों से फैली हुई है । बहुत सारे लोग यह मानते हैं कि यदि किसी व्यक्ति की लाश में अचानक से आग लग जाए तो उसका पूरा का पूरा शरीर जल जाता है ।

जबकि उसके हाथ और पैर नहीं जलते हैं तथा वह कमरा भी नहीं जलता है । आखिरकार ऐसा क्यों होता है । इसके पीछे का क्या वैज्ञानिक कारण है ।

यदि कोई बेबस या लाचार इंसान कहीं पर किसी भी कंबल में सोया हुआ है । तब आप किस तरह से पूछते शरीर को जलाती है इसके बारे में भी जानेंगे ।

कंबल में लिपटी हुई लास एक उल्टी मोमबत्ती की तरह काम करती है । उस की चर्बी मॉम का काम करती है और कंबल उसकी बाती का काम करता है । मोमबत्ती की तरह पूरी लाश एक छोटी सी लो के साथ जल्ती रहती है और और बाकी के कमरे को चपेट में नहीं लेती है ।

लाश के हाथ तथा पैर नहीं जलते हैं । क्योंकि यह इसे कंबल से ढके हुए नहीं थे । यह बात तो आप ही जानते हैं कि कंबल बाती का काम करती है । और इनमें इतनी चर्बी भी नहीं होती है कि वह खुद ब खुद जल सके ।

इसी कारण से जब इंसानों को कोई जली हुई लाश मिलती है । तब उसका पूरा का पूरा शरीर जला हुआ होता है । जबकि उसके हाथ था पर सलामत होते हैं ।

1 thought on “किसी भी लास का पूरा शरीर जल जाता है लेकिन हाथ और पैर क्यों बच जाते हैं ?”

  1. Pingback: Bsnl Voice chat service बीएसएनएल वॉइस चैट सर्विस

Comments are closed.