Leech के बारे में रोचक तथ्य। जोंक या leech मीनिंग इन हिंदी। leech का economic importance क्या होता है ?

Interesting facts about Leech: आज हम खून चूसने वाले जानवर Leech के बारे में बात करेंगे | यह एक ऐसा जीव है जो इंसानों के शरीर से खून चूसता है और इंसान को पता भी नहीं चलता है कि Leech उनका खून चूस रही है |

इसके पीछे क्या कारण है कि हमें इनका पता नहीं चलता है और इसके बारे में अधिक रोचक तथ्य ताजा जानकारी हम विस्तार से नीचे पड़ेंगे | इस कीड़े को रक्त पिपासु कीड़ा भी कहा जाता है यानी कि खून पीने वाला कीड़ा के नाम से भी जाना जाता है |

Leech के बारे में रोचक तथ्य . Interesting facts about Leech

दुनिया भर में Leech की लगभग 700 प्रजातियां पाई जाती है |

फतेहपुर सीकरी में स्थित बुलंद दरवाजे के बारे में जानकारी

लोहा स्तंभ के बारे में रोचक जानकारी

सिम कार्ड का एक कोना कटा हुआ क्यों होता है ?

सबसे बड़ा और सबसे घातक डायनासोर

इनकी प्रजातियां नदियों में , समुद्र में , पहाड़ों में तथा रेगिस्तानी इलाकों में भी पाई जाती है |

छोटी Leech की लंबाई 0.25 inch तथा बड़ी Leech की लंबाई 1.5 फिट तक हो सकती है |

Leech के दोनों तरफ खून चूसने वाले दांत होते हैं | जबकि Leech खून चूसते समय आगे वाले हिस्से का ही प्रयोग करती है | Leech के मुंह है के तीन जबड़े होते हैं | इसके हर जबड़े में एक दांत होता है | Leech अपने दांतो को शरीर में गड़ा देती है तथा एक पतली परत इसके ऊपर बना देती है | उसके बाद खून को चूसने का काम करती है | खून की सप्लाई चलती रहे |

इसके लिए Leech खून के अंदर एक जहर छोड़ती है जो कि खून को जमने नहीं देता है | इसके खून में एनेस्थेटिक होते हैं | जिसकी वजह से शिकार को कोई भी दर्द नहीं होता है तथा जब यह Leech शिकार को काटती है तब इन्हें दर्द का कोई भी अनुभव नहीं होता है और वह लगातार खून चुस्ती रहती है |

अपने वजन से 10 गुना खून चूसने के बाद यह 6 महीने तक कुछ भी खाते पीते नहीं है

उड़ीसा में कोणार्क सूर्य मंदिर का रहस्य

पॉपकॉर्न के बारे में रोचक जानकारी

आकाशीय बिजली से बचने के उपाय ।

Leech की उम्र 2 से 8 साल तक की होती है |

Leech अपनी पूरी जिंदगी में 4 बार ही खाना खाती है |

यह जानवर खून चूस कर के कैंसर के सिम्टम्स को कम करता है |

Leech नाम के छोटे से कीडे में 32 दिमाग होते हैं 

आश्चर्यचकित कर देने वाले रोचक तथ्य

धरती का सबसे बड़ा तथा खतरनाक मगरमच्छ

Camarasaurus डायनासोर के बारे में रोचक जानकारी और तथ्य

राजधानी दिल्‍ली में हुमायूं का मकबरा

economic importance of leech . जोंक या leech का economic importance क्या होता है ?

जोंक एक प्रकार का परजीवी ( Parasite ) होता है । जो कि मनुष्यों पर और अन्य जीवो पर आश्रित होता है । यह मनुष्य और अन्य जीवो का खून चूस करके जिंदा रहने वाला जीव है । इसलिए यह एक परजीवी है ।

जोंक को प्राचीन समय से ही औषधिय उपचार के लिए उपयोग में लाया जाता रहा है । रोग ग्रस्त रोगी से खराब खून या खराब रक्त को हटाने के लिए जोंक का प्रयोग होता आ रहा है।

जिस स्थान पर खराब रक्त हैं उसे हटाने के लिए उसी स्थान पर जोंक को छोड़ दिया जाता है और जोक उस रक्त को चूस लेती है और खराब रक्त जोंक के द्वारा चौंस लिया जाता है ।‌

कटे हुए अंगों में जैसे की अंगुलियां , हाथ , कान आदि में रक्त संचार को शही सुचारू रूप से बनाए रखने के लिए भी जोंक का प्रयोग किया जाता है । शरीर में दबाव होने पर और रक्त का संचार सही रूप से नहीं होने पर भी जोक को औषधि उपचार के रूप में प्रयोग किया जाता है ।

जोंक की लार में एनेस्थेटिक्स और एंटीबायोटिक पदार्थ पाए जाते हैं जो कि भविष्य में चिकित्सा के क्षेत्र में नई क्रांति ला सकते हैं और चिकित्सा क्षेत्र में उपयोग में आ सकते हैं ।

leech ( leeches ) meaning in hindi . जोंक या leech मीनिंग इन हिंदी । leech का हिंदी मीनिंग क्या होता है ?

leech off meaning – जोंक या leech का हिंदी मीनिंग “जोंक” होता है । यानी एक ऐसा प्रजीवी जो कि खून चूसने वाला होता है और दूसरे जानवरों और इंसानों पर निर्भर होता है ।

leech parasite का मतलब एक परजीवी से है यानी कि जो दूसरों पर निर्भर होता है यानी कि जिनका जीवन दूसरों के भरोसे पर चलता है ।

leech images . images of leeches.

जोंक या leech एक प्रकार का parasite होता है । जोंक या leech की फोटो या इमेज देखने पर आपको पता लगेगा कि जोंक या leech काले रंग का 13 साइट होता है जिसके शरीर पर छोटी-छोटी धारियां होती है जोंक या leech की फोटो देखने पर मालूम होता है कि leech काला और लंबा होता है ।

जोंक का तेल । Jonk Tel ke use aur upyog kya hai .

जोंक का तेल बारिश के दिनों में होने वाली जोंक जो कि खून चूसने वाले पिशु के नाम से जानी जाती है से प्राप्त किया जाता है । जोंक का तेल मनुष्य के लिए काफी फायदेमंद और उपयोगी होता है । जोंक के तेल का उपयोग मनुष्य कही रोगों के उपचार और इलाज हेतु किया जाता है ।

जोंक आयल के फायदे । Benefit of jonk oil . Jonk Tel ke fayde .

Jonk Tel lagane ke fayde : आइए अब जोंक के तेल के फायदे के बारे में जानते हैं । कौन कौन से ऐसे फायदे होते हैं जोंक का तेल लगाने से । कौनसी बीमारी और व्याधियों को दूर करने के लिए जोंक तेल का उपयोग किया जाता है ।

1 . जोंक के तेल का यूज और उपयोग मर्दों की समस्याओं को दूर करने के लिए किया जाता है । जोंके तेल से मर्दों में गंजेपन को दूर करने के लिए किया जाता है

2 . जोंक तेल का यूज और उपयोग लिंग की साइज को बढ़ाने के लिए भी किया जाता है । छोटे प्राइवेट पार्ट से परेशान मर्द जोंक के तेल का उपयोग कर सकता है ।

3 . मर्दों में बालों की समस्या को दूर करने के लिए जोंक के तेल का उपयोग किया जाता है । जोंक तेल आयुर्वेदिक औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है ।

4 . सिर पर नये बालों को उगाने के लिए और गंजेपन की समस्या को दूर करने के लिए आयुर्वेदिक औषधि के रूप में जोंक के तेल को बालों में लगाया जाता है ।

5 . महिलाओं में कामेच्छा को बढ़ाने के लिए जोंक के तेल का उपयोग किया जाता है ।

6 . महिलाओं में छोटे स्तनों की समस्या को दूर करने के लिए जोंक के तेल का उपयोग किया जाता है । जोंक तेल से स्तनों की साइज को बढ़ाने में मदद मिलती है ।

7 . जोंक तेल का उपयोग चेहरे के दाग धब्बे, कील मुंहासे, फोड़े फुंसियां आदि को दूर करने के लिए भी किया जाता है ।

8 . शीघ्रपतन की समस्या को रोकने के लिए जोंक के तेल का उपयोग मर्दों के द्वारा किया जाता है जो कि बिस्तर में लंबे समय तक बने रहने के लिए होता है ।

9 . जोंक का तेल रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए जोंक के तेल का उपयोग होता है ।

10 . लीच थेरेपी में जोंक का उपयोग किया जाता है । शरीर के घाव को ठीक करने के लिए भी जोंक का उपयोग किया जाता है ।

11 . जोंक का तेल हाई ब्लड प्रेशर और हार्ट अटैक की संभावना को भी कम करता है ।

12 . मधुमेह को कंट्रोल करने के लिए और मधुमेह को कम करने के लिए जोंक के तेल का उपयोग होता है ।

जोंक का तेल बनाने की विधि । Jonk oil banane ka tarika . Jonk ka tel kaise banaye .

चलिए अब जोंका का तेल बनाने की विधि के बारे में जानते हैं कि जोंक का तेल किस विधि से तैयार किया जाता है और जोंक के तेल निकालने की विधि क्या है । जोंक का तेल निकालने की पूरी विधि नीचे दी गई है ।

जोंक का तेल निकालने के लिए सबसे पहले आपको पंसारी की दुकान से जोंक प्राप्त कर लें । पंसारी की दुकान पर आपको सुखी जोंक मिलती है । इस जोंक को आपको आधे घंटे के लिए एक लीटर साफ पानी में रख दें । जब जोंक को पानी में रखोगे तब वह मुलायम हो जाएगी ।

अब इस जोक्स को पानी में से निकाल करके स्टॉप पर किसी बर्तन को रखकरके उसमें रख दें । जैसे-जैसे बर्तन गर्म होगा जोंक से तेल बाहर निकलने लगेगा । इस तेल को किसी बर्तन में इकट्ठा कर ले । अब आपका जोंक का तेल बन करके तैयार है ।

जोंक के इस तेल का उपयोग आप अपने बालों में कर सकते हो या फिर किसी अन्य कार्यो में उपयोग में ले सकते हो ।

Gest Post , Backlink Exchange और sponsorship के लिए हमें नीचे दी गई Email Id पर contact करें। calltohelps@gmail.com