छिपकली दीवार से गिरती क्यों नहीं है |

छिपकली दीवार से गिरती क्यों नहीं है |

आपने देखा होगा कि बहुत सारी छिपकली दीवार पर या छत पर चलती रहती है | जबकि वह नीचे नहीं गिरती है | इसके पीछे क्या कारण है | वह किस प्रकार गुरुत्वाकर्षण बल का प्रतिरोध करके दीवार पर चलने में कामयाब हो जाती है | इसके पीछे क्या कारण है | वह ऐसा कैसे कर पाती है |आज हम जानेंगे कि छिपकली दीवार पर कैसे चल पाती है | वह नीचे क्यों नहीं गिरती है |

छिपकली की दुनिया भर में 1500 से भी ज्यादा प्रजातियां पाई जाती है |

यह दुनिया भर की रेगिस्तानी प्रजाति का एक चौथाई हिस्सा है |

यह दुनिया के हर कोने में पाई जाती है लेकिन अंटार्टिका में नहीं पाई जाती है |

छिपकली दीवार या छत पर अपने पैर में उपस्थित बालों की वजह से चल पाती है | उसके पैर में लाखों बाल प्रतीत होते हैं | यह बाल इंसानों के बाल की तरह कैरोटीन से बना होते हैं |

जबकि इनकी चौड़ाई इंसानों के बाल की तुलना में एक चौथाई होती है

इनके इन बालों पर आगे की तरफ छोटे-छोटे बाल होते हैं जो कि इन्हें पकड़ ने में मजबूती प्रदान करते हैं | छिपकली जहां पर भी अपना पैर रखती है तो वहां पर इनके पैर जम जाते हैं | क्योंकि इनकी पकड़ बहुत ही मजबूत होती है |


बालों पर उपस्थित यह छोटे-छोटे बाल छिपकली के वजन का 20 गुना वजन सहन कर सकते हैं |


इन बालों की पकड़ की वजह से ही चिपक ली दीवारों पर चल सकती है तथा छत पर भी चलने में सक्षम होती है

Translate »
%d bloggers like this: