-कितने-दांत-होते-हैं-मच्छर-खून-क्यों-पीते-हैं

मच्छर के कितने दांत होते हैं ? मच्छर खून क्यों पीते हैं ?

डेंगू का मच्छर कब काटता है ? मच्छरों की कितनी आंखें होती है ?

-कितने-दांत-होते-हैं-मच्छर-खून-क्यों-पीते-हैं

आइए दोस्तों आज आज हम आपको मच्छरों के बारे में विस्तार से बताएंगे । मच्छर एक ऐसी चीज है जो अगर हमें काट लेता है तो हम बीमार पड़ सकते हैं । मच्छर के कितने दांत होते हैं ? मच्छर खून क्यों पीते हैं ?

मच्छर काटने से हमें बुखार भी हो जाता है और हमें डेंगू जैसी बीमारी हो जाती है । जिससे कई लोगों की जान भी चली जाती है ।

मच्छर का जन्म कब हुआ ?

मच्छरों का जन्म बारिश के पानी तथा गड्ढों में जमा पानी से होता है । जहां मादा मच्छर पानी के ऊपरी हिस्से में अंडे देती है और जब बारिश होती है तो वह अंडे अपने ऊपरी सतह पर आते हैं ।

उसमें से लार्वा निकलता है और गंदा पानी गड्ढों में भरा रहता है । गंदा पानी ही मच्छरों का घर होता है । गंदे पानी से ही मच्छरों का जन्म होता है ।

मच्छरों की कितनी आंखें होती है ?

जिस प्रकार से बाकि जानवरों तथा पक्षियों की आंखें होती है । ठीक उसी प्रकार से मच्छर की भी आंखें होती है । मच्छर की दो छोटी-छोटी काली आंखें होती है ।

machar mosquito in hindi

गेंडे के बारे में रोचक तथ्य

एक पति अपनी पत्नी को कैसे खुश रख सकता है

धरती पर कीड़े इतने ज्यादा क्यों हैं |

मच्छरों को कौन-कौन से रंग सबसे ज्यादा पसंद होते हैं ?

मच्छरों को सबसे ज्यादा आकर्षित करने वाले रंग होते हैं लाल , नीले , जामुनी तथा काले रंग । मच्छरों को बहुत ज्यादा पसंद होते हैं । यह रंग मच्छरों को अपनी और आकर्षित करते हैं ।

मच्छर के कितने पैर होते हैं ?

मच्छर के 6 पैर होते हैं और 47 दांत होते हैं । इन्हीं दो औजारों के माध्यम से मच्छर व्यक्ति पर हमला करता है ।

मच्छर का जीवन काल कितना होता है ?

कई लोगों को नहीं पता होता कि मच्छर का जीवनकाल कितना होता है । हम आपको बताते हैं कि मच्छर का जीवनकाल कितना होता है ।

नर मच्छर की उम्र 10 से 15 दिन की होती है और मादा मच्छर की उम्र 2 से 3 हफ्ते होती है । इन्हीं के बीच में अपना जीवन चक्र पूर्ण करते हैं । इसी में एक मादा मच्छर बहुत सारे बच्चे पैदा करती है।

मच्छर के कितने दांत होते हैं ?

मच्छर के कितने दांत होते हैं । मच्छरों के कितने दांत होते हैं । यह बहुत सारे लोगों को नहीं पता है ।इसीलिए हम आपको बताते हैं कि मच्छरों के कितने दांत होते हैं और वह खून कैसे पीते हैं ।

मच्छरों और इंसानों का पुराना रिश्ता है । मच्छर इंसान को सदियों से जानते हैं और उन्हें काटते भी आए हैं । मच्छर के 47 दांत होते हैं

मच्छर अपने इन्हीं 47 दातों की मदद से व्यक्ति पर अटैक करते हैं और मच्छर इतनी तेजी से हमला करते हैं कि शिकार की खाल में छेद हो जाता है ।

मच्छर के मुंह को प्रोबोसिस कहा जाता है । मच्छर एक सेकंड में 300 से 600 बार पंख फड़फड़ाते हैं ।

मच्छर खून क्यों पीते हैं ?

मच्छरों के खून पीने से सभी लोग बहुत परेशान है । मच्छर हमारे पर्यावरण को प्रदूषित करते हैं ।शुरुआत से ही मच्छर किसी न किसी रूप में मानव जाति को परेशान करते आए हैं ।

सभी मच्छर खून नहीं पीते । केवल मादा मच्छर ही खून पीती है और वह इसलिए करती है । क्योंकि अपनी प्रजाति को जारी रखने के लिए और उनकी सुरक्षा बढ़ोतरी की जिम्मेदारी मादा पर होती है ।

हालांकि मच्छरों को अपना पेट भरने के लिए इंसानी खून की ही जरूरत नहीं होती है । वह फूलों का पराग भी उनके लिए काफी होता है और नर मच्छर की तरह वह भी किसी पर निर्भर नहीं रहती है ।

उल्लू के बारे में रोचक तथ्य

चूहों के बारे में रोचक तथ्य

ट्रेन की चेन खींचने के क्या नियम है

यह पासवर्ड गलती से भी ना रखें

परंतु अंडों के लिए प्रोटीन बहुत ही जरूरी होता है । इसीलिए वह मानव का खून पीते हैं । एक मादा मच्छर लगभग 3 मिलीग्राम तक का खून पीती है ।

हालांकि इतनी छोटी मात्रा में होने के बावजूद भी वह इतना सारा खून पी लेते हैं । जब हमें मच्छर काटता है तो हमें बहुत वेदना होती है और हो भी क्यों ना ।

यह वेदना लाल निशान और खुजली वगैरह है जो की मच्छर के खून पीने के बाद हो जाती है ।

मच्छर के डंक में कीटाणु और वायरस भी मौजूद होते हैं । इसीलिए हमें डेंगू मलेरिया जैसी बीमारी हो जाती है ।

इस बीमारी में हमें बुखार होता है और हमारे शरीर पर और भी कई प्रकार के नुकसान होते हैं । इसीलिए जितना हो उतना मच्छरों से बचकर रहना चाहिए ।

डेंगू का मच्छर कब काटता है ? कौन मच्छर काटता है ?

डेंगू का मच्छर काटने पर शुरुआत में हमें सामान्य बुखार होता है और यह बुखार तब ज्यादा बढ़ता है ।

जब हम इलाज में देरी करते हैं या गलत इलाज लेते हैं । अगर सही समय पर डेंगू का उचित इलाज हो जाता है तो हालात कंट्रोल में रहते हैं ।

डेंगू मादा एडीज इजिप्टी मच्छर के काटने से होता है । इन मच्छरों के शरीर पर अजीब सी घारिया होती है ।

इस मच्छर की एक और बात है यह ज्यादा तो सुबह ही काटते हैं और डेंगू मच्छर बरसात के दिनों में ज्यादा होते हैं । क्योंकि बरसात के मौसम बहुत अच्छा और ठंडा होता है ।

जब कोई डेंगू मच्छर हमें काटता है तो उसके डंक का वायरस हमारे शरीर में चला जाता है । काटने के 3 या 5 दिन के बाद डेंगू बुखार के लक्षण दिखाई देने लगते हैं ।

साधारण डेंगू बुखार अपने आप कुछ दिनों में ठीक हो जाता है और इससे किसी की जान जाने का खतरा भी नहीं रहता है ।

अगर बुखार तेज होता है और फिर हम इलाज में देरी करते हैं तो इंसान की जान जाने का खतरा भी बढ़ जाता है । इसीलिए हमें यह जानना बहुत जरूरी है कि बुखार साधारण है या डेंगू कब का है ।

जब हमें डेंगू हो जाता है तू हमारा सिर दर्द होता है । मांसपेशियों और जोड़ों में बहुत दर्द होता है ।इससे

हमारे शरीर में बहुत कमजोरी भी आ जाती है और हमें भूख लगना भी बंद हो जाता है । हमारे गले में हल्का हल्का दर्द होने लगता है और हमारे मुंह का स्वाद खराब हो जाता है ।

मच्छर के कितने दांत होते हैं ? मच्छर खून क्यों पीते हैं ? डेंगू का मच्छर कब काटता है ? मच्छरों की कितनी आंखें होती है ? मच्छर का जीवन काल कितना होता है ?

ट्रेन के आखिरी डिब्बे पर क्रॉस का चिन्ह क्यों होता है

पक्षी जब झुण्ड में उड़ान भरते हैं तो वे एक दूसरे से टकराता नहीं है

चूहों के बारे में इंटरेस्टिंग फैक्ट |

चमगादड़ के बारे में रोचक तथ्य