माहवारी के कितने दिन बाद गर्भ नहीं ठहरता है । पीरियड के कितने दिन बाद सेक्स करना चाहिए ।
माहवारी के कितने दिन बाद गर्भ नहीं ठहरता है । पीरियड के कितने दिन बाद सेक्स करना चाहिए ।

माहवारी के कितने दिन बाद गर्भ नहीं ठहरता है । Mahavari ke kitne din bad garbh Nahin thaharta Hai . पीरियड के कितने दिन बाद सेक्स करना चाहिए । पीरियड के कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए। पीरियड के कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए।

बहुत सारी लड़कियों और महिलाओं के दिमाग में यही सवाल चलता रहता है कि पीरियड के कितने दिन बाद प्रेगनेंसी नहीं होती है । यानी कि पीरियड के कितने दिन बाद में और मासिक धर्म के कितने दिन बाद में गर्भ नहीं ठहरता है ।

पीरियड के कितने दिन बाद गर्भ ठहरता है । यह बात महिला के ओवुलेशन डेट यानी कि ओवरी से निकलने वाले अंडे पर भी निर्भर करती है । ओवरी से निकलने वाला अंडा ही यह तय करता है कि प्रेगनेंसी होगी या नहीं होगी । क्योंकि उसकी डेट आपको पता होनी चाहिए ।

यदि ओवरी से निकलने वाले अंडे का मिलन शुक्राणु से मिलन हो जाता है तभी प्रेगनेंसी या गर्भ ठहरता है और यह सारी की सारी चीज ओवरी से अंडे के निकलने के टाइम पर निर्भर करती है ।

सामान्य तौर पर ओवुलेशन की डेट पीरियड डेट के हाफ टाइम ही होती है । यानी कि सामान्य तौर पर पीरियड टाइम की डेट यानी कि मासिक चक्र की तारीख 21 से 35 दिन की होती है । जबकि ओवुलेशन की डेट 14 दिन से 15 दिन होती है ।

मासिक धर्म के कितने दिन बाद गर्भ ठहरता है ? Masik dharm ke kitne din bad garbh thaharta hai .

मासिक धर्म के बाद में यदि आप इस दिन संबंध बनाते हो और अपने पार्टनर के साथ रिलेशन बनाते हो तो आपको मासिक धर्म के बाद गर्भ ठहरने की संभावना ज्यादा होती है ।

यदि आप मासिक धर्म के 14 दिन बाद में अपने पार्टनर के साथ फिजिकल रिलेशन बनाते हो तो आपको मासिक धर्म के बाद में गर्भ ठैरने की संभावना ज्यादा होती है । क्योंकि मासिक धर्म के 14 दिन बाद ही अंडे का ओवरी से निकलने का समय हो जाता है ।

mc aane ke kitne din baad . एमसी के कितने दिन बाद गर्भ ठहरता है ?

माहवारी के कितने दिन बाद गर्भ ठहरता है Masik dharm ke kitne din bad garbh thaharta hai .

एमसी आने के कितने दिन बाद आप गर्भधारण कर सकते हो । एमसी आने के बाद 14 दिन बाद में यदि रिलेशन बनाकर के संभोग करते हो तो आप निश्चित ही गर्भधारण कर सकते हो ।

क्योंकि एमसी के 14 दिन बाद में अंडा ओवरी से रिलीज होता है और यह अंडा 12 से 14 घंटे तक जीवित रहता है । 12 से 14 घंटे के भीतर यदि पुरुष के शुक्राणु इसे फर्टिलाइज कर देते हैं तो आप गर्भधारण यानी कि प्रेगनेंसी हो जाएगी ।

अंडा कितने दिन तक जीवित रहता है ? Anda mahila ke sharir mein kitne din tak jeevit rehta hai .

ओवुलेशन के बाद में महिला के शरीर में अंडा 12 से 14 घंटे तक जीवित रखा है । लेकिन केई केस में 48 घंटे तक भी जीवित रहता है । उसके बाद में यह माहवारी या फिर मासिक चक्र के दौरान बाहर निकल जाता है ।

शुक्राणु महिला के शरीर में कितने दिन तक जीवित रहते हैं ? Shukranu mahila ke sharir mein kitne din tak jeevit rehte Hain .

पुरुष के शुक्राणु महिला के शरीर में 5 से 7 दिन तक जीवित रह सकते हैं । इसलिए पुरुष को ओवुलेशन के समय में ही संभोग और फिजिकल रिलेशन बनाना चाहिए । जिससे कि गर्भधारण हो सके ।

महावारी या पीरियड के बाद गर्भधारण का सही समय क्या होता है ? Pregnancy ka Sahi samay kya hota hai .

Period ya FIR mahawari ke bad pregnancy mein garbh dharan ka Sahi samay kya hota hai . पीरियड या फिर माहवारी के बाद गर्भधारण या फिर प्रेगनेंसी का सही समय कौन सा होता है आइए जानते हैं ।

पीरियड के पहले दिन से 10 दिन के बीच में यदि आप रिलेशन बनाते हैं तब प्रेगनेंसी यानी कि गर्भधारण कि संभावना बहुत ही कम होते हैं ।

यदि आप पीरियड या फिर महावारी के 11 से 20 दिन के भीतर फिजिकल रिलेशन बनाते हैं तब आपके प्रेगनेंसी या फिर गर्भ धारण की संभावना बहुत ज्यादा बढ़ जाती हैं । आपको इन दिनों में ही फिजिकल रिलेशन बनाना चाहिए ।

मासिक धर्म या फिर एमसी के 21 से 30 दिन के भीतर यदि फिजिकल रिलेशन बनाते हैं तो प्रेगनेंसी यानी कि गर्भधारण के चांस बहुत ही कम रहते हैं ।

पीरियड के कितने दिन बाद संबंध बनाना चाहिए। period ke kitne din bad sambandh banana chahie

mc aane ke kitne din baad sambandh banana chahiye : पीरियड के बाद संबंध बनाने का सही दिन मासिक चक्र के 10 दिन बाद का होता है । 10 से 20 दिन के भीतर संबंध बना सकते हो । यदि आप प्रेग्नेंट होना चाहते हो और बच्चा चाहते हो तो ।

mc aane ke kitne din baad sambandh banana chahiye .

एमसी आने के यानी कि पीरियड या मासिक चक्कर आने के कितने दिन बाद शारीरिक संबंध बनाने चाहिए । चलिए अब हम आपको बता देते हैं एमसी पीरियड या मासिक धर्म आने के 7 दिन बाद शारीरिक संबंध बना सकते हो । जिस दिन पीरियड आता है उस दिन से लेकर के अगले 7 दिनों तक शारीरिक संबंध नहीं बनाना चाहिए क्योंकि इस अवधि के दौरान प्रेगनेंसी नहीं होती है और ना ही बच्चा गर्भ में ठहरता है ।

period ke kitne din bad sex karna chahiye . पीरियड के कितने दिन बाद सेक्स करना चाहिए ।

यदि आप गर्भधारण या फिर प्रेगनेंसी को लेकर के पीरियड के बाद सेक्स करना चाहिए हो तो आपको पीरियड के 11 दिन से 20 दिन के भीतर ही सेक्स करना चाहिए । इससे गर्भ में बच्चे के ठहरने की संभावना ज्यादा से ज्यादा होती है ।

प्रेग्नेंट कितने दिन में होते हैं ? Pregnant kitne Din mein hote Hain .

प्रेग्नेंट कितने दिन में होते हैं यह कोई फिक्स नहीं होता है आप प्रेग्नेंट कितने दिन में होंगे यह आपके मासिक चक्कर और पीरियड पर निर्भर करता है ।

यदि आप पीरियड यानी कि मासिक चक्र के 11 दिन से 20 में दिन के बाद फिजिकल रिलेशनशिप में आते हो तब आप प्रेग्नेंट हो सकते हो ।

प्रेग्नेंट होने के यही 10 दिन होते हैं इन 10 दिनों में यदि प्रेग्नेंट होना होता है तो हो जाता है इन्हें 10 दिनों में प्रेग्नेंट होने के फुल चांस होते हैं ।

गर्भ कब नहीं ठहरता है ? Garbh kab Nahin thaharta Hai .

आइए अब जानते हैं कि घर अब किन परिस्थितियों में नहीं ठहरता है। यदि आपने फिजिकल रिलेशनशिप माहवारी से पहले यानी कि पीरियड से पहले और पीरियड के 20 दिन बाद बनाते हो तब गर्भ नहीं ठहरता है । क्योंकि इन दिनों में अंडा का ओवुलेशन नहीं होता है ।

प्रेग्नेंट है या नहीं कैसे पता चलता है? Pregnant hai ya nahin kaise pata chalta hai .

प्रेग्नेंट है या नहीं यह बहुत सारे बातों पर और लक्षण के आधार पर निर्भर करता है । कुछ ऐसे लक्षण होते हैं जो कि सामान्य लक्षण होते हैं । उनके आधार पर ही पता लगा सकते हैं कि प्रेग्नेंट है या नहीं

कोई महिला Pregnant और गर्भवती होती है तो यह सामान्य लक्षण महिलाओं में देखने को मिलते हैं और यदि महिला प्रेग्नेंट नहीं है तो यह सामान्य लक्षण उन में देखने को नहीं मिलते हैं ।

गर्भ ठहरने के लक्षण क्या है? ये है प्रेग्नेंट होने के 8 शुरुआती लक्षण ।

Garbh thaharne ke lakshan kya hai – गर्भ ठहरने के या प्रेग्नेंट होने के कुछ लक्षण होते हैं जिनके आधार पर हम कह सकते हैं कि महिला या लड़की प्रेग्नेंट है या फिर गर्भवती है । गर्भवती और प्रेग्नेंट महिला की पहचान कुछ लक्षणों के आधार पर कर सकते हैं ।

ये 5 लक्षण दिखें तो समझ जाएं कि प्रेग्नेंट हैं आप!

1 . गर्भवती महिला के निप्पल का रंग बदल करके हल्के से गहरे रंग का हो जाता है । इसी से पता चलता है कि महिला या लड़की Pregnant है ।

मितली आना और उल्टी होने जैसा लगना

Pregnant या गर्भवती महिला के पेट में बच्चा हो ऐसी महिला को मितली आती है और ऐसा लगता है कि उल्टी होगी पर उल्टियां होती नहीं है और यह सारे लक्षण morning time में देखने को मिलते हैं ।

प्रेग्नेंट को सिर दर्द की समस्या रहना

जब कोई महिला या लड़की Pregnant हो जाती है तो सामान्य लक्षणों में सिर दर्द ( head pain ) भी एक लक्षण शामिल है । जब किसी महिला का सिर दर्द होता है तो ऐसा माना जाता है कि महिला गर्भवती है ।

स्तनों का भारी होना

जब कोई महिला Pregnant होती है और उनके पेट में बच्चा होता है तब हार्मोन के बदलाव के कारण स्तन भारी हो जाते हैं और कई बार इनमें सूजन भी आ जाती है ।

बार बार टॉयलेट लगना

गर्भवती या Pregnant महिला को toilet की शिकायत रहती है । उन्हें बार बार toilet जाना पड़ता है और थोड़ी थोड़ी देर बाद में टॉयलेट लग जाता है । क्योंकि kidney actie हो जाती है ।

शरीर के तापमान और मूड में बदलाव रहना

जब कोई महिला गर्भवती होती है तो उनके शरीर का तापमान बढ़ जाता है । Normal temperature की तुलना में Pregnant महिला का temperature अधिक होता है ।

इसके साथ ही महिला का मूड भी काफी बदल जाता है । एक ही चीज कुछ समय तक अच्छी लगती है और कुछ समय बाद वही चीज खराब लगने लगती है ।

पीरियड के कितने दिन बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करे ? Period ke kitne din bad pregnancy test Karen .

Pregnancy test karne ka Sahi samay – पीरियड के कितने दिन बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहिए । बहुत सारी महिलाओं के दिमाग में यह सवाल रहता है । Pregnancy test करने का सही समय कौन सा होता है ?

प्रेगनेंसी टेस्ट करने का सही समय ovulation के बाद का होता है । यानी कि जब आपका दूसरे महीने का period आने वाला हो उस से 4 दिन पहले आप pregnancy test कर सकते हो ।

यानी कि जब period आया और उसके बाद में आप ने शारीरिक संबंध स्थापित किए उसके बाद में जब दोबारा period आने वाला हो उस दिन से 4 दिन पहले आप pregnancy test करें । आपको result लगभग सही प्राप्त होगा ।

लेकिन pregnancy test का result सही रूप से तभी आता है जब population हो जाता है और महिला Pregnant यानी कि गर्भवती हो जाती है ।‌

पीरियड के दौरान शारीरिक संबंध बनाने से क्या होता है? Period ke dauran sharirik sambandh banane se kya hota hai .

पीरियड आने के कितने दिन बाद? पीरियड के दौरान शारीरिक संबंध बनाना चाहिए या नहीं बनाना चाहिए इस पर कुछ विशेषज्ञों की राय जानते हैं ।

1 . मासिक धर्म के दौरान बिल्डिंग होती रहती है । जिससे गंदा खून शरीर से बाहर निकलता रहता है और इस समय योनि में लुब्रिकेशन भी होता है । इसलिए इसके दौरान यदि संबंध स्थापित किए जाए तो गंदा खून बाहर निकलने में आसानी होती है और लुब्रिकेशन की भी जरूरत नहीं पड़ती है ।

2 . डॉक्टर्स की मानें तो मासिक धर्म के दौरान महिलाओं को कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है । यदि महिलाएं मासिक धर्म के दौरान संबंध स्थापित करती है तो उन समस्याओं को कम किया जा सकता है और महिलाओं के शरीर में होने वाली एंठन , पेट दर्द , सिरदर्द जैसी समस्याएं कम होती है ।

3 . पीरियड्स के दौरान जाने की मासिक चक्र के दौरान महिलाओं में संक्रमण का खतरा भी काफी ज्यादा रहता है इसलिए इस समय महिलाओं को काफी सावधान और सतर्क रहना चाहिए ।

4 . डॉक्टर्स का तो यह भी कहना है यदि पीरियड्स के दौरान कोई महिला शारीरिक संबंध बनाती है तो उनके शरीर से एंडोर्फिन , डोपामाइन , ऑक्सीटॉसिन हारमोंनस रिलीज होता है । जिससे हमारे शरीर को सुख की अनुभूति होती है ।

5 . ऐसा भी कहा जाता है कि पीरियड्स के दौरान महिलाओं के गुप्तांग काफी संवेदनशील हो जाते हैं । महिलाओं के मन में संबंध बनाने की इच्छा काफी ज्यादा जागृत होती है ।

गर्भ कब नहीं ठहरता है? मासिक के कितने दिन बाद सेक्स करना चाहिए जिससे प्रेग्नेंट न हो? पीरियड के कितने दिन बाद प्रेगनेंसी नहीं होती है

Garbh kab Nahin thaharta hai – बहुत सारी ऐसी परिस्थितियां होती है जिन को ध्यान में रखकर के यदि शारीरिक संबंध बनाया जाए तो गर्भ नहीं ठहरता है । क्योंकि हम गर्भ ठहरने की सारी संभावनाओं को खत्म कर देते हैं ।

आपको उन दिनों में संबंध बिल्कुल भी नहीं बनाना है । इसमें ओवुलेशन से अंडे का उत्सर्जन होता है । इन दिनों में संबंध बनाया गया तो गर्भधारण से कोई नहीं रोक सकता है ।

महावारी या पीरियड आने के आठवें दिन से 19वें दिन तक 10 दिनों का समय अंतराल होता है उसमें बिल्कुल भी संबंध नहीं बनाए । क्योंकि इन दिनों में ओवुलेशन से अंडे का उत्सर्जन होता है । यदि आप ऐसा करते हैं तो गर्भधारण को रोका जा सकता है ।

यदि शारीरिक संबंध बनाते समय कंडोम आदि का इस्तेमाल कर लिया जाए तो भी गर्भ नहीं ठहरता है क्योंकि इसमें स्पर्म योनि में डिस्चार्ज नहीं होता है ।‌

यदि संबंध के पश्चात महिला गर्भनिरोधक गोली का सेवन करती है तो भी गर्भ नहीं ठहरता है और अनचाही प्रेगनेंसी को रोका जा सकता है ।

शारीरिक संबंध के दौरान नीम के तेल का प्रयोग किया जाए तो भी प्रेगनेंसी को रोका जा सकता है क्योंकि नीम का तेल शुक्राणु को मार देता है और योनि में लुब्रिकेंट का काम करता है ।

पीरियड या मासिक धर्म खत्म होने के 7 दिनों के भीतर संबंध बनाने से भी गर्भ नहीं ठहरता है क्योंकि इस समय अंडा नहीं बना होता है ।

मासिक धर्म के 19 दिन से पीरियड आने के कुछ दिन पहले तक भी यदि संबंध बनाए जाए तो भी गर्भ ठहरने की संभावना बहुत ही कम होती है ।

माहवारी के कितने दिन बाद बच्चा ठहरता है ? Mahavari ke kitne din bad baccha thaharta hai .

आइए अब जानते हैं कि माहवारी मासिक धर्म या पीरियड के कितने दिन बाद बच्चा ठहरता है । पीरियड के कितने दिन बाद बच्चा ठहरता है । मासिक धर्म के कितने दिन बाद बच्चा ठहरता है ।
माहवारी के कितने दिन बाद बच्चा ठहरता है ।

माहवारी के 7 दिन बाद बच्चा ठहरता है । यदि कोई महिला माहवारी या पीरियड के 7 दिन बाद संभोग करती है तो गर्भ या बच्चा ठहरने की संभावना अधिक होती है । माहवारी से 7 दिन पहले भी बच्चे के ठहरने की संभावना होती है । लेकिन वह बहुत कम होती है और शास्त्रों के अनुसार माहवारी के 7 दिनों के अंदर यदि कोई गर्भ ठहरता है तो उस गर्भ की उम्र या आयु कम होती है और बच्चे को शारीरिक या मानसिक बीमारी भी हो सकती है ।

पीरियड खत्म होने के कितने दिन बाद गर्भ ठहरता है ? Period khatam hone ke kitne din bad garbh thaharta hai .

पीरियड खत्म होने के तुरंत बाद ही गर्भ ठहर जाता है । गर्भ ठहरने का कोई निश्चित समय नहीं होता है महीने के किसी भी समय गर्भ ठहर जाता है । लेकिन महीने के कुछ खास दिन होते हैं जिसमें गर्भ गिरने की संभावना अधिक होती है तो कुछ खास दिन होते हैं जिनमें गर्भ गिरने की संभावना बहुत कम होती है ।

पीरियड आने के 14 दिन बाद गर्भ ठहरने की संभावना सबसे अधिक होती है और पीरियड आने से 10 दिन पहले गर्भ ठहरने की संभावना कम होती है । पीरियड खत्म होने के 7 दिन बाद ही गर्भ ठहर जाता है । यदि आपको सौभाग्यशाली , ऐश्वर्यशाली और सर्वगुण संपन्न संतान की प्राप्ति चाहते हो तो पीरियड खत्म होने के 7 दिन बाद शारीरिक संबंध बनाए ।

Q . मासिक आने के बाद कितने दिन बाद करना चाहिए ? Masik aane ke bad kitne din bad karna chahie .

चाहे प्रेगनेंसी टेस्ट हो , चाहे गर्भधारण हो, चाहे संभोग हो हर महिला के दिमाग में कई सवाल रहता है कि मासिक आने के कितने दिन बाद करना चाहिए । यह सभी चीजें बहुत ही जरूरी होती है । संभोग मासिक आने के 7 दिन बाद करना चाहिए। प्रेगनेंसी टेस्ट मासिक आने से लेकर के अगला मासिक मिस होने के कुछ दिन बाद करना चाहिए । अब तो आप समझ ही गए होंगे कि मासिक आने के कितने दिन बाद करना चाहिए ।