मेडिटेशन करने के 6 सबसे आसान तरीके। मेडिटेशन या ध्यान क्या है ?
मेडिटेशन करने के 6 सबसे आसान तरीके। मेडिटेशन या ध्यान क्या है ?

Meditation kaise kare-हैलो दोस्तो Welcome back to the blog. So in this Post we will know about how to do maditation तो दोस्तो मै दुबारा आया हू आपके लिए एक और Improvment से रीलेटेड पोस्ट लेके इस पोस्ट मे आप जानने वाले हो  Maditation करने के 6 सबसे आसान तरीके  |

जिससे कोई भी नया बंदा जिसने पहले कभी मेडिटेशन या ध्यान नही क्या हो वो भी इन 6 तरीको को यूज कर के बडे ही सहज तरीके से मेडिटेशन कर लेगा बस जरूरत है लगातार अभ्यास ( Practice ) की और इस पोस्ट को अन्त ( End ) तक पढ

इस पोस्ट मे आपको Maditation से रीलेटेड ( Raleted ) सभी जबाव मिल जायगे जैसे- मेडिटेशन कितनी देर तक करना चाहिए ? Maditation kaise kare ? what is the maditation benefits for brain वगहरा-वगहरा तो अब मे आप लोगो का ज्यादा समय नही लूगा चालिए शुरू करते है Let’s begin

maditation kaise kare in hindi 

मेडिटेशन या ध्यान क्या है ? ( What is the maditation )

कुछ लोग मेडिटेशन ( Maditation ) को किसी धर्म विशेष से जोड कर देखते है और कुछ लोग इसे किसी पूजा-पाढ और तपस्या का हिस्सा बताते है लेकिन ऐसा कुछ भी नही है मेडीटेशन तो एक ऐसी क्रिया है

जिसके द्वारा मनुष्य अपने मानसिक और शारिरीक विकारो को दूर करता है वो बात अलग है कि इसके कुछ धर्मिक और अध्यात्मिक लाभ भी है | वो उसके उपयोग करने वाले व्यक्ति ( Person ) पर निर्भर करता है कि वो इसका किस तरह इस्तेमाल करता है |

 कुछ लोग इसे भागवान को पाने का एक अच्छा साधन मानते है जबकि कुछ लोग इसका इस्तेमाल अपनी मानसिक शक्ति ( Mental power ) को बडाने और अपनी दैनिक जीवन ( Daily life ) को बेहतर बनाने के लिए भी करते है |

असल मे मेडीटेशन या ध्यान एक ऐसी क्रिया है जिसमे व्यक्ति विचार हीन होकर अपनी अन्तर आत्मा मे लीन हो जाता है | जिस तरह शारीर ( Body ) को स्वास्थ ( Healthy ) बनाए रखने के लिए Exersice और पोषणिक डाइट की जारूरत होती है उसी तरह अपने दिमाग को हैल्दी बनाए रखने के लिए Maditation कि जरूरत होती है |

तो अगर आप भी मेडीटेशन कर के अपनी Life को improve करना चहाते है तो पहले जान लिजिए की मेडीटेशन के कितने प्रकार है | और फिर जो भी मेडीटेशन का तरीका आपको पसंद हो उसे अपनी लाइफस्टाइल ( Lifestyle ) का हिस्सा बना लिजिए आपको अपनी लाइफ कुछ ही हफ्तो मे ही बदलती महसूस होगी |

 मेडिटेशन के प्रकार ( Types of maditation )

University of wisconsin neurosince लैव के डेरेक्टर रीचार्ड जे० डेवीसन पी०एच०डी० ने न्यूयोर्क टाइमस के इन्टरव्यू मे बाताया था कि अलग-अलग प्रकार के मेडिटेशन करने के लिए अलग-अलग तरह कि मेटंल स्कील्स ( Mental skills ) की जरूरत पडती है |

यानि अगर आप जिस मेडीटेशन या ध्यान को आराम से कर पा रहे है जरूरी नही है कि कोई दूसरा व्यक्ति भी उसी तरह उसे  कर पाए इसलिए अपने लिए कोई ऐसी मेडीटेशन टेक्निक तलाशे जिसे आप अच्छे से कर सके।

इस लिए मे आपको तीन सबसे popular maditation technics के बारे मे बता रहा हू जिसे कोई भी व्यक्ति बडे आराम से कर सकता है बस थोडे अभ्यास ( Practice ) की ररूरत है |

एकाग्र ध्यान ( Concentration maditation ) 

ये मेडीटेशन उन लोगो को जरूर करना चाहिए जो किसी काम या वस्तु पर फोकस नही कर पाते इस मेडीटेशन से किसी चीज पर Focus और Concentration करने की शक्ति बडती है |

इस  Maditation मे आप को आखे बंद कर के किसी खास प्रकार की वस्तु या व्यक्ति पर Focus करना होता है जैसे- महात्मा गाधी, कमल का फूल या मेज आप जाहे तो अपनी साँसो पर भी फोकस कर सकते है

सचेतन या विपाश्यना ध्यान ( Mindfulness maditation ) 

इस मेडिटेशन मे किसी चीज पर फोकस या Concentration करने की जरूरत नही होती बलकि जो भी आपके आस-पास या आपकी बॉडी मे सेंसेशन हो रही है उसे महसूस करते रहना है

जो आपको वर्तमान ( Present Moment ) मे  Feelings, emotions, Urge, craving हो रही है बस उसे एबसोर्व करें जैसे अगर आपको गुस्सा आ रहा है तो अपने गुस्सो को एबसोर्व करें |

उसे देखे एस ए विटनेस की तरह उसे दवाने की या छेडछाड करने की कोशिश ना करे और ना उसे अपने ऊपर हाबी होने दे बस उसे देखते रहे और देखते रहे आप पाएगी कि कुछ ही समय मे आपका गुस्सा चले जाएगा | इसकी लगातार कुछ ही महीनो की  Practice से आपका अपने मन और विचारो पर पुरी तरह काबू हो जाएगा

 क्योकि आप उन्हे सिर्फ विचार और Feelings की तरह लेगे उन्हे अपने ऊपर हाबी नही होने देगें बस इतना याद रखे कि आपको एस ए विडनेस की तरह उन Feelings या विचारो को देखना है उन्हे दबाने या बडाने की कोशिन नही करनी है |

शून्य विचार ध्यान ( Zero thought maditation )

इस घ्यान के दौरान आपको अपने मन मे एक भी विचार नही आने देना है यानि खुद को Zero thought state पर ले जाना है लेकिन किसी भी नई इंसान के लिए घंटो बेठे रह कर अपने मन मे किसी भी तरह का विचार ना आने देना बहुत कढीन काम है इसलिए अगर आप नए है तो मे आपको ऊपर वाले दो ऑपशनो मे से किसी एक को करने की सलाह दूगा |

मेडिटेशन करने के 6 सबसे आसान तरीके ( 6 easiest ways of maditation )

तो मुझे उम्मीद है की आप अपने पसंद के According ध्यान का तरीका चुन चुके होगे अब हम आपको स्टेप By स्टेप 7 सबसे आसान,Maditation  करने के तरीके बताएगे |

1.एक पेपर पर लिखे कि आप क्यो ध्यान करना चहाते है ( Write down a paper why do you want to do maditation )

ध्यान क्या है ?

ये आपको सुनने मे थोडा अजीब लग रहा होगा लेकिन ये बहुत Powerfull तरीका है काई Studies मे ये बात सामने आ चुकी है कि जब हम किसी Goal को एक पेपर पर लिख लेते है तो उस गोल को Archive करने की हमारी क्षमता काई गुना बड जाती है | क्योकि लगातार लिखने से वो गोल हमारी subconscious mind मे बेठ जाता है |

 इसलिए अगर आप मेडिटेशन करना चहाते है तो उसे एक पेपर पर लिखे और साथ मे ये भी लिखे कि आप Meditation क्यो करना चहाते है | क्या आपको कोई Anxity है या आप Depression, stress चिन्ता मे रहते है और इसके उपचार के लिए ध्यान का सहारा लेना चहाते है तो उसे एक पेपर पर लिख ले क्योकि किसी भी आदत को बनने मे 21 दिन लगते है |

और जब आपके पास ध्यान करने का कारण ( Reason ) होगा तो आप इसे अच्छी तरह कर पाएगे भली ही आपका मन और दिमाग आपका विरोध कर रहे हो |

2.एक साफ और शांत वातावरण को चुने ( Choose a clean and quiet atmosphere)

सोचिए आप एक ऐसी जगह मेडिटेशन कर रहे है जहा पर हर समय गाडियो और मोटर साइकिलो की अवाज आ रही है और उस जगह चारो तरफ गंदीकी फहली हुई है तो आप वहा कितनी देर तक अपना ध्यान साध सकते है |

शायद 10 सेकेंड भी नही | इसलिए अपने आस-पास एक ऐसी जगह को चुने जहा ज्यादा शोर ना हो और वो जगह भी साफ हो और थोडी बहुत हवा भी आती हो | क्योकि आप ऐसी जगह पर बैठ कर घंटो ध्यान कर सकते है

इसलिए अपने घर या आस-पास कोई ऐसी जगह जरूर देखें और हो सके तो सुबह 5-6 बजे के बीच मे Maditation करने की कोशिश करे क्योकि इस समय वातावरण बिल्कुल शांत होता है |

मेडिटेशन करने के 6 सबसे आसान तरीके। मेडिटेशन या ध्यान क्या है ?

इन्हे भी पे

नोफैप करने के 100 फायदे

नोफैप क्या है और इसे कैसे करें

3. ढीले कपडे पहन कर ही ध्यान करें ( Just wear loose clothes )

Tight कपडो मे आप ज्यादा समय तक Maditation नही कर सकते | आपको थोडी देर बाद ही असहजता होने लगेगी जिसके कारण आप लम्बे समय तक मेडिटेशन नही कर पाएगे |

इसलिए हो सके तो अपने घर मे ढीले-ढाले और आरामदायक कपडे ठूठे | कुरता पजामा भी चलेगा अगर वो ज्यादा टाइट ना हो | अगर  आपको ढीले कपडे अपने घर पर नही मिले तो अपने किसी दोस्त से माग लें या बाजार से खारीद कर ले आए |

4. ध्यान करने से पहले थोडा व्यायाम कर लें ( Do some Exercise before maditation )

मेडिटेशन करने के 6 सबसे आसान तरीके 

जब भी आप मेडिशन करे उससे पहले थोडा व्यायाम कर ले इससे आपके दिमाग मे Blood flow बडेगा जिससे आपको ध्यान करते समय ज्यादा विचार नही आएगे | आपको घंटो Exercise करने की जरूरत नही है |

7-10 मिनट Exercise से भी काम चल जायगा | आप घर पर ही रह कर काई प्रकार ( Types ) की Exercise कर सकते है जैसे-Arebic exercise, push ups, jumping jacks 5-10 मिनट Runing या Joging |

आप चाहे तो अपनी पसंद से किसी भी तरह कि Exercise को चुन सकते है | वेट लिफटींग और  stretching भी अच्छा है ये Exercise भी Brain तक Blood Flow बडाने मे मदद करती है | अगर आप योगा करते है तो शीर्षासन बहुत अच्छा आसन रहेगा |

5. छोटे से शुरू करें ( Start small )

किसी भी नए व्यक्ति ( Person ) के लिए घंटो एक जगह बैढ कर मेडीटेशन करना असंभव है | जब भी आप किसी आदत को एकदम से शुरू करने की कोशिश करते है तो अपको थोडा Uncomfortable महसूस होता है | कुछ लोग शुरू-शुरू मे ही 20-25 minuts Maditation करने की कोशिश करते है |

 इस तरह वो कुछ दिनो तक तो ध्यान कर पाते है लेकिन वो इस Routine को ज्यादा समय तक नही ले जा पते किसी भी नई आदत को Develop करने के लिए उस Activity को 21 दिनो ( 21 days ) तक करने की जरूरत पडती है |

इसलिए ध्यान इतने ही समय तक करे जिससे आपको Uncomfortable feel ना हो | अगर आप ध्यान मे नए है तो मे आपको सलाह दूगा कि आपको 2 मिनटो से शुरूआत करनी चाहिए और फिर धीरे-धीरे खुदवा-खुद उसका Time बड जाएगा |

अगर मे अपनी बात करू तो मेने Starting 3 minutes से कि थी | और आज मे 30 minutes तक मडिटेशन कर लेता हू और मुझे पता तक नही चलता

6. प्रतिदिन अभ्यास करें ( Do daily practice )

The Power of habit किताब ( Book ) के लेखक charles duhigg बताते है कि किसी भी हैबिट ( आदत ) को Develop होने मे 21 दिन ( 21 Days ) लगते है | इसलिए अगर आप ध्यान को अपनी Daily life का हिस्सा बनाना चहाते है तो इसका लगातार अभ्यास जरूरी है |

 Maditation के Benefits भी तभी मिलते है जब आप इसकी डेली Practice करते है | अगर आप 10-15 दिन मेडिटेशन करते है और फिर हफ्तो के लिए छोट देते है तो इसका कोई Benefit नही है | इसलिए मेने पहले ही कहा था कि छोटे से शुरूआत करो ( Start small ) ताकि आप उसे लम्बे समय तक कर सकें

मेडिटेशन के मानसिक फायदे ( Maditation benefits for brain )

यू तो हर हफ्ते कोई ना कोई नई  रीर्सच सामने आ जाती है जो maditation Ke benefits बताती है | काई देशी और विदेशी Studies मे भी ये बात सामने आ चुकी है कि मेडीटेशन Brain के लिए बहुत Beneficial है खासकर उन लोगो के लिए जो किसी मानसिक बिमारी से लड रहे है  |

2015 मे ULCA की तरफ से एक Study हुई जिसमे पता चला कि जो लोग लम्बे समय से मेडिटेशन करते आ रहे है उनकी उम्र बढने की रफ्तार उन लोगो से कम थी जो लोग मेडिटेशन नही करते थे  |

इसके अलावा भी ध्यान करने के शरीरिक और साइकॉलॉजिकल बहुत फायदे है  जैसे- Maditation करने से Willpower बडती है जिससे नई आदत बनाने और पूरानी बुरी आदत छोडने मे बहुत मदद मिलती है |

इससे Anxity, depression, stress, socail anxity भी कम होती है | काई रीर्सचेस से Confidence तक बडने की बात कही गई है |

यानि देखा जाए तो ध्यान करना पुरे Brain को बदल देता है इसलिए जितनी भी बडे नशो के Addcits है  उन्हे मेडिटेशन करने की सलाह दी जाती है |

तो दोस्तो आपको हमारी ये पोस्ट “मेडिटेशन करने के 6 सबसे आसान तरीके In hindi ” कैसी लगी हमे कमेंट कर के जरूर बताए और इस पोस्ट को अपने सभी दोस्तो और Family मेम्बरस को भी शेयर करें |

ताकि वो भी ध्यान करने के फायदो का आनन्द ले सके और अगर आप अपने व्यक्तित्व को बदलना चहाते है अपनी Personality मे चार चाँद लगाना चहाते है या कुछ बडा करना चहाते है तो आज ही से हमारा ब्लॉग Subcribe करें | 

Subscribe करने के लिए नीचे आपको Subscribe Box मिल जाएगा वहा अपना Email adress डाल कर Subscribe बटन पर Click कर दें | चिन्ता मत करो ये सुविधा 100% free है | पोस्ट पुरी पढने के लिए आप सभी दोस्तो का धन्यवाद