ऑक्टोपस के बारे में रोचक तथ्य। ऑक्टोपस के कितने दिमाग होते हैं ?Octopus ke kitne Dil hote Hain.

ऑक्टोपस के बारे में रोचक तथ्य-Octopus ke kitne dimag hote Hain

दुनिया भर में ऑक्टोपस की कुल 300 प्रजातियां पाई जाती है

ऑक्टोपस दुनिया के हर महासागर में पाया जाता है तथा यह अपना रंग रूप बदलने में माहिर होता है।

ऑक्टोपस अपना रंग रूप अपनी त्वचा की वजह से ही बदलता है।

ऑक्टोपस अपनी त्वचा में उतार-चढ़ाव पैदा कर सकता है। ऑक्टोपस अपने शरीर में गांठें पैदा कर सकता है।
ऑक्टोपस हर परिस्थिति के अनुसार अपने शरीर को ढाल लेता है।
ऑक्टोपस 15 अलग-अलग प्रकार की आकृतियों में अपने आप को ढाल सकता है

लायन फिश की तरह दिखने के लिए ऑक्टोपस अपने शरीर के रंग को ऑरेंज तथा वाइट कर लेते हैं।

🐙 octopus kya hota hai . ऑक्टोपस क्या है ?

Octopus ke khoon Ka rang Kaisa hota hai – ऑक्टोपस के खून का रंग कैसा है ?

आपने अभी तक यही सुना और पढ़ा होगा कि खून का रंग लाल होता है । जबकि आज हम जीस जानवर के बारे में बात कर रहे हैं । उसके खून का रंग लाल नहीं होता है ।

octopus एक ऐसा समुद्री जीव है जिनके खून का रंग लाल की बजाए नीला होता है ।

Octopus ke kitne Dil hote Hain – ऑक्टोपस के कितने दिल होते हैं ?

आपने यही सुना होगा कि हर जीव के शरीर में एक दिल होता है । लेकिन यह octopus एक अलग ही तरीके का अनोखा जीव है । इसके शरीर में एक नही 3 दिल होते हैं ।

Octopus ke kitne dimag hote Hain – ऑक्टोपस के कितने दिमाग होते हैं ?

अब तो यह सुनकर आपको और भी ज्यादा आश्चर्य होगा । अभी तक आपने यही पढा होगा कि हर जीव के 1 दिमाग होता है । जबकि octopus के केस में ऐसा नहीं है । ऑक्टोपस के पास 9 दिमाग होते है ।

Octopus ka aakar Kaisa hota hai – अष्टबाहु ऑक्टोपस का आकार कैसा होता है ?

octopus की size यानी की आंखें अलग अलग होता है । यह एक आकार के नहीं होते हैं । octopus की शुरुआती साइज 10 सेंटीमीटर हो सकती है और यह 50 फुट तक की लंबाई का हो सकता है ।

अष्टबाहु का मतलब होता है जिसकी आठ भुजाएं होती है । उसे अष्टबाहु कहते हैं ।‌ ऑक्टोपस की भी आठ भुजाएं होती है । जिसके कारण octopus को अष्टबाहु कहते हैं ।

अष्टबाहु ऑक्टोपस के दो टांगें और 6 भुजा होने के कारण इसे अष्टबाहु कहते हैं ।

Gest Post , Backlink Exchange और sponsorship के लिए हमें नीचे दी गई Email Id पर contact करें। calltohelps@gmail.com