मंदिर डिजाइन फोटो । पूजा घर होम मंदिर डिजाइन । मार्बल पूजा घर होम मंदिर डिजाइन स्टूडियो दुकान ऑफिस के लिए मंदिर के सबसे बेस्ट डिजाइन ।

मंदिर डिजाइन फोटो । पूजा घर होम मंदिर डिजाइन । मार्बल पूजा घर होम मंदिर डिजाइन स्टूडियो दुकान ऑफिस के लिए मंदिर के सबसे बेस्ट डिजाइन । घर में मंदिर किस दिशा में होना चाहिए । घर में किस दिशा में होना चाहिए मंदिर? जानिये क्या कहता है वास्तुशास्त्र ghar ke mandir mein kya kya hona chahiye . घर में मंदिर कैसा होना चाहिए। pooja room designs . पूजा घर होम मंदिर डिजाइन । मंदिर डिजाइन फोटो ।

मंदिर डिजाइन फोटो । नए घर के लिए मंदिर का डिजाइन भी नया और सुंदर होना चाहिए । यदि आपने नया घर बनाया है तो पूजा घर के लिए मंदिर डिजाइन भी आपको घर के हिसाब से अच्छा होना चाहिए । पूजा घर होम मंदिर डिजाइन के लिए आप अलग अलग मंदिर डिजाइन में से कोई सा भी एक अच्छा सा पूजा घर मंदिर का डिजाइन तैयार करवा सकते हो ।

मंदिर डिजाइन फोटो । पूजा घर होम मंदिर डिजाइन । मार्बल पूजा घर होम मंदिर डिजाइन स्टूडियो दुकान ऑफिस के लिए मंदिर के सबसे बेस्ट डिजाइन ।

घर में मंदिर किस दिशा में होना चाहिए । घर में किस दिशा में होना चाहिए मंदिर? जानिये क्या कहता है वास्तुशास्त्र

भगवान का मुख किस दिशा में होना चाहिए। घर मे मंदिर की सही दिशा ।।Ghar me madir ki sahi disha . घर में कहां बनाना चाहिए मंदिर ? Vastu Tips for Home Mandir |

mandir kis disha mein hona chahie – घर में मंदिर ईशान कोण में होना चाहिए । घर में मंदिर उत्तर पूर्व दिशा में होना चाहिए । घर में उत्तर पूर्व की दिशा ही ईशान कोण होती है । उत्तर पूर्व की दिशा अर्थात ईशान कोण में घर का मंदिर होना चाहिए । वास्तु शास्त्र के अनुसार ऐसा माना जाता है कि घर में मंदिर ईशान कोण में होने से घर के सभी वास्तु दोष दूर हो जाते हैं तथा घर में मंदिर ईशान कोण में होने से घर में सुख समृद्धि , लक्ष्मी की कृपा हमेशा बनी रहती है ।

पूजा करते समय व्यक्ति का मुंह या तो पूर्व दिशा की ओर होना चाहिए या फिर दक्षिण दिशा की ओर होना चाहिए । इसलिए वास्तु शास्त्र में यही विधान है कि घर में मंदिर या तो पूर्व दिशा में होना चाहिए या फिर दक्षिण दिशा में होना चाहिए । घर में यदि मंदिर पूर्व दिशा में होता है या दक्षिण दिशा में होता है तो वह शुभ माना जाता है ।

घर में मंदिर कैसा होना चाहिए

Temple Vastu Tips : कहां, किस दिशा में और कैसा होना चाहिए पूजा घर, जानें घर के मंदिर से जुड़ी 10 जरूरी बात

1 . घर में मंदिर बनाते समय मंदिर की ऊंचाई दोगुनी होनी चाहिए तथा मंदिर की चौड़ाई उसकी आधी होनी चाहिए । मंदिर का यह आकार वास्तु शास्त्र के अनुसार सही माना गया है ।

2 . घर में मंदिर ऐसा होना चाहिए कि घर के मंदिर के आसपास और ऊपर नीचे शौचालय नहीं होना चाहिए । क्योंकि यह वास्तु शास्त्र के अनुसार शुभ नहीं माना जाता है ।

3 . घर में मंदिर इस प्रकार से होना चाहिए कि वह कभी भी सीढ़ियों के नीचे ना हो । घर में मंदिर सीढ़ियों के नीचे कभी भी नहीं बनवाना चाहिए ।

4 . घर में मंदिर बनाते समय इस बात का हमेशा ध्यान रखना चाहिए कि मंदिर में दिवंगत व्यक्ति की फोटो नहीं लगानी चाहिए । घर के मंदिर में दिवंगत व्यक्ति की फोटो लगाना सही नहीं माना जाता है।

5 . घर के मंदिर में खंडित मूर्ति बिल्कुल भी नहीं रखनी चाहिए । क्योंकि खंडित मूर्तियां घर के मंदिर में रखना शुभ नहीं माना जाता है । यदि कोई खंडित मूर्ति है तो किसी पवित्र स्थान पर ले जाकर के उसे जमीन में गाड़ देना चाहिए ।

6 . पूजा घर अर्थात घर के मंदिर में धन और संपत्ति छुपा करके रखना शुभ नहीं माना जाता है । इसलिए पूजा घर में धन और संपत्ति को नहीं रखना चाहिए।

7 . घर के बेडरूम में कभी भी मंदिर नहीं बनवाना चाहिए । यदि किसी कारणवश घर के बेडरूम में मंदिर बनाना पड़े तो उसे ईशान कोण में लगवाए तथा साथ में उसके पर्दा भी लगवाए ।

मंदिर डिजाइन के लिए मार्बल के मंदिर का डिजाइन , पत्थर के मंदिर का डिजाइन और लकड़ी के मंदिर का डिजाइन तैयार करवा सकते हो ।

मंदिर डिजाइन फोटो । पूजा घर होम मंदिर डिजाइन । मार्बल पूजा घर होम मंदिर डिजाइन स्टूडियो दुकान ऑफिस के लिए मंदिर के सबसे बेस्ट डिजाइन ।
मंदिर डिजाइन फोटो । पूजा घर होम मंदिर डिजाइन । मार्बल पूजा घर होम मंदिर डिजाइन स्टूडियो दुकान ऑफिस के लिए मंदिर के सबसे बेस्ट डिजाइन ।

मंदिर डिजाइन फोटो देख कर के यह केहे सकते हो कि मंदिर डिजाइन जितने भी प्रकार के होते हैं वह या तो लकड़ी के मंदिर डिजाइन होते हैं या फिर मार्बल के मंदिर डिजाइन होते हैं । कुछ लोग प्लाई के मंदिर डिजाइन तैयार करवाते हैं ।

मंदिर डिजाइन फोटो को देख कर के यह कह सकते हो कि मंदिर डिजाइन फोटो देखने में सुंदर और अट्रैक्टिव होना चाहिए । मंदिर डिजाइन फोटो का चुनाव करते समय मंदिर दिखने में सुंदर होना चाहिए । पूजा घर होम मंदिर डिजाइन आपके घर के हिसाब से होना चाहिए ।

pooja room designs . पूजा घर होम मंदिर डिजाइन । मंदिर डिजाइन फोटो ।

मंदिर डिजाइन फोटो । पूजा घर होम मंदिर डिजाइन । मार्बल पूजा घर होम मंदिर डिजाइन स्टूडियो दुकान ऑफिस के लिए मंदिर के सबसे बेस्ट डिजाइन ।

pooja room का designs आपके घर के अकॉर्डिंग और आपके घर के कलर के अकॉर्डिंग होना चाहिए । पूजा घर होम मंदिर डिजाइन करवाने से पहले मंदिर को कई कैटेगरी में विभाजित कर सकते हैं। निर्माण के आधार पर मुख्य रूप से पूजा घर होम मंदिर डिजाइन को दो भागों में बांटा जा सकता है ।

1 . मार्बल पूजा घर होम मंदिर डिजाइन
2 . लकड़ी के पूजा घर होम मंदिर डिजाइन
3 . फ्लाई के पूजा घर होम मंदिर डिजाइन

1 . मार्बल पूजा घर होम मंदिर डिजाइन

1 . जमीन पर बनने वाले पूजा घर होम मंदिर डिजाइन ।
2 . दीवार पर लगाने वाले पूजा घर होम मंदिर डिजाइन ।

मार्बल का मंदिर । मार्बल पूजा घर होम मंदिर डिजाइन मंदिर डिजाइन फोटो ।

मंदिर डिजाइन फोटो । पूजा घर होम मंदिर डिजाइन । मार्बल पूजा घर होम मंदिर डिजाइन स्टूडियो दुकान ऑफिस के लिए मंदिर के सबसे बेस्ट डिजाइन ।

मार्बल का मंदिर भी पूजा घर के लिए बनवाया जाता है । मार्बल का मंदिर पूजा घर के लिए काफी अच्छा रहता है । मार्बल का मंदिर यदि आपके घर में पूजा घर है तब अच्छा रहता है । क्योंकि मार्बल का मंदिर काफी जगह लेता है । आजकल गांव के छोटे घर के डिजाइन के लिए भी मार्बल के मंदिर बनाए जाते हैं । इस तरह के मार्बल के मंदिर दीवारों पर लगाने के लिए बनाए जाते हैं। मार्बल के मंदिर भी अलग-अलग डिजाइन के तैयार किए जाते हैं ।

ghar ke mandir mein kya kya hona chahiye

घर के मंदिर में एक ही भगवान की एक से अधिक मूर्ति और तस्वीर नहीं होनी चाहिए। ghar ke mandir mein kya kya hona chahiye. ghar ke mandir mein gangaajal ( गंगा जल ) hona chahiye . हो सके तो घर के मंदिर में शालिग्राम जी को रखना चाहिए जो कि एक प्रकार के विशेष पत्थर से बना होता है । घर के मंदिर में शिवलिंग को भी रखना अच्छा और शुभ माना जाता है । ऐसा माना जाता है कि घर के मंदिर में और घर में शालिग्राम और शिवलिंग होने से घर की उर्जा में संतुलन बना रहता है । घर के मंदिर में तुलसी दल को पानी में डालकर के रखना चाहिए। घर के मंदिर में चंदन , अक्षत और पुष्प रखना भी शुभ माना जाता है । रोली , धूप , दीपक को भी मंदिर में रखना चाहिए ।

मार्बल मंदिर के डिजाइन के प्रकार मंदिर डिजाइन फोटो ।

1 . जमीन पर बनने वाले मार्बल के पूजा घर होम मंदिर डिजाइन

यदि आप मार्बल के मंदिर का डिजाइन तैयार करवा रहे हैं तब आपको इस बात का ध्यान रखना है कि आपके घर में पूजा के मंदिर के लिए पर्याप्त जगह होनी चाहिए । क्योंकि मार्बल का मंदिर काफी जगह घरता है । यदि आपके घर में पूजा घर है तो आपको मार्बल के मंदिर का डिजाइन बनवाना चाहिए । यदि आपके पास इतना स्पेस नहीं है तब आपको लकड़ी से बने हुए मंदिर के डिजाइन को बनवाना चाहिए ।

2 . दीवार पर लगाने वाले मंदिर के डिजाइन

मार्बल के बने हुए पूजा घर होम मंदिर डिजाइन भी काफी अच्छे होते हैं । मार्बल के बने हुए पूजा घर होम मंदिर डिजाइन को आप अपनी दीवार पर सही जगह पर लगा सकते हैं । मार्बल के पूजा घर होम मंदिर डिजाइन थोड़े भारी होते हैं लेकिन देखने में काफी अच्छे लगते हैं । मार्बल के पूजा घर होम मंदिर डिजाइन अलग-अलग प्रकार के होते हैं। मार्बल के पूजा घर होम मंदिर डिजाइन शिखर वाले मंदिर , झालर वाले मंदिर , सिढी वाले पूजा घर होम मंदिर के डिजाइन होते है ।

2 . लकड़ी के पूजा घर होम मंदिर डिजाइन

लकड़ी से बने हुए पूजा घर होम मंदिर डिजाइन भी अलग अलग तरीके से तैयार किए जाते हैं । लकड़ी से बने हुए पूजा घर होम मंदिर के डिजाइन शिखर वाले मंदिर डिजाइन , सिढीदार मंदिर डिजाइन , गेट वाले मंदिर डिजाइन , झालरदार मंदिर डिजाइन से लेकर कई प्रकार के होते हैं ।

लकड़ी के पूजा घर होम मंदिर डिजाइन के प्रकार । फर्नीचर होम मंदिर डिजाइन ।

मंदिर डिजाइन फोटो । पूजा घर होम मंदिर डिजाइन । मार्बल पूजा घर होम मंदिर डिजाइन स्टूडियो दुकान ऑफिस के लिए मंदिर के सबसे बेस्ट डिजाइन ।

1 . दीवार पर टांगने वाले मंदिर के डिजाइन
2 . सीढ़ी नुमा मंदिर के डिजाइन
3 . गुंबद ( शिखर ) वाले मंदिर के डिजाइन
4 . चौकोर छत वाले मंदिर का डिजाइन
5 . ढलान दार छत वाले मंदिर का डिजाइन
6 . गेट वाले मंदिर का डिजाइन
7 . झालरदार ( मेहराब ) मंदिर का डिज़ाइन
8 . स्तंभ दीवार मंदिर डिजाइन

1 . दीवार पर टांगने वाले पूजा घर होम मंदिर डिजाइन मंदिर डिजाइन फोटो ।

मंदिर डिजाइन फोटो । पूजा घर होम मंदिर डिजाइन । मार्बल पूजा घर होम मंदिर डिजाइन स्टूडियो दुकान ऑफिस के लिए मंदिर के सबसे बेस्ट डिजाइन ।

छोटे घर के लिए दीवार पर टांगने वाले पूजा घर होम मंदिर डिजाइन सबसे बढ़िया रहता है । दीवार पर टांगने वाले पूजा घर होम मंदिर लकड़ी के और प्लाई के हो सकते हैं । दीवार पर टांगने वाले मंदिर के डिजाइनिंग को आप प्लाई से भी बना सकते हो और लकड़ी से भी बनवा सकते हो ।

दीवार पर टांगने वाले पूजा घर होम मंदिर डिजाइन को दो तरीके से तैयार करवा सकते हो । पहला मंदिर वह होता है जिस में दरवाजा नहीं होता है । दीवार पर टांगने वाले दूसरे मंदिर में वह पूजा घर होम मंदिर डिजाइन होते हैं जिसका दरवाजा होता है । जिसको बंद किया जा सकता है ।

वास्तु शास्त्र के हिसाब से देखा जाए तो मंदिर का डिज़ाइन तैयार करवाते समय ऐसे मंदिर का डिजाइन तैयार करवाना जिस मंदिर के दरवाजे हो ताकि मंदिर के दरवाजे को बंद किया जा सके ।

आजकल के आधुनिक घर छोटे होते हैं । जिसके कारण मंदिर को शयन कक्ष में ही रखा जाता है। जिसके कारण ऐसे मंदिर के डिजाइन का चुनाव करना चाहिए जिसमें गेट लगा हुआ हो । बिना गेट वाले मंदिर का डिजाइन शयनकक्ष वाले कमरे के लिए सही नहीं माना जाता है ।

2 . सीढ़ी वाले पूजा घर होम मंदिर डिजाइन मंदिर डिजाइन फोटो ।

मंदिर डिजाइन फोटो । पूजा घर होम मंदिर डिजाइन । मार्बल पूजा घर होम मंदिर डिजाइन स्टूडियो दुकान ऑफिस के लिए मंदिर के सबसे बेस्ट डिजाइन ।

लकड़ी और प्लाई के मंदिर का डिजाइन तैयार करवाते समय आप ऐसे मंदिर के डिजाइन का चुनाव कर सकते हो जिस मंदिर के आगे सीढी बनी हुई हो । लकड़ी वाले मंदिर में सिढियां बनाई जा सकती है । सीडी नुमा मंदिर के डिजाइन तैयार करवाते समय आप मंदिर के ऊपर गुंबद ( शिखर ) रख सकते हैं और मंदिर के सामने की तरफ झालर का डिजाइन अपनी इच्छा से रखना चाहे तो रखवा सकते हैं ।

3 . गुंबद वाले पूजा घर होम मंदिर डिजाइन मंदिर डिजाइन फोटो ।

मंदिर डिजाइन फोटो । पूजा घर होम मंदिर डिजाइन । मार्बल पूजा घर होम मंदिर डिजाइन स्टूडियो दुकान ऑफिस के लिए मंदिर के सबसे बेस्ट डिजाइन ।

लकड़ी और प्लाई के माध्यम से ऐसे पूजा घर होम मंदिर का डिजाइन तैयार किया जा सकता है जिसके ऊपर मंदिर की तरह गुबंद होता है । गुबंद वाले पूजा घर होम मंदिर डिजाइन भी दीवार पर लगाए जा सकते हैं और ऐसे मंदिर काफी सुंदर लगते हैं । गुंबद वाले पूजा घर होम मंदिर डिजाइन में आप मंदिर के सामने की तरफ झालर ( मेहराब ) की डिजाइन भी रखवा सकते हैं ।

4 . चौकोर छत वाले पूजा घर होम मंदिर डिजाइन मंदिर डिजाइन फोटो ।

मंदिर डिजाइन फोटो । पूजा घर होम मंदिर डिजाइन । मार्बल पूजा घर होम मंदिर डिजाइन स्टूडियो दुकान ऑफिस के लिए मंदिर के सबसे बेस्ट डिजाइन ।

बेडरूम में कमरे की दीवार पर लकड़ी के मंदिर का डिजाइन तैयार करवाते समय आप चोकोर छत वाले मंदिर का डिजाइन भी तैयार करवा सकते हैं । इस तरह के मंदिर में आप ऊपर शिखर ( गुंबद) रख भी सकते हैं और नहीं भी रख सकते हैं । इस तरह के मंदिर के डिजाइन में यदि आप मंदिर के सामने की तरफ दालर डिजाइन लगवाना चाहते हैं तो मेहराब भी लगवा सकते हैं ।

5 . ढलान दार छत वाले पूजा घर होम मंदिर डिजाइन मंदिर डिजाइन फोटो ।

दीवार पर लगाने के लिए लकड़ी के मंदिर का डिजाइन बनाते समय आप पीछे से आगे की तरफ ढलान वाले छत के मंदिर का डिजाइन भी बनवा सकते हैं । इस तरह के मंदिर में यदि आप आगे गेट लगाना चाहे तो लगा सकते हैं और मंदिर के सामने की तरफ मेहराब लगाना चाहे तो वह लगा सकते हैं ।

6 . गेट वाले पूजा घर होम मंदिर डिजाइन मंदिर डिजाइन फोटो ।

गेट वाले पूजा घर होम मंदिर डिजाइन किसी भी तरह का हो सकता है । लेकिन गेट वाले मंदिर के डिजाइन की खास बात की होती है कि इस तरह के मंदिर में मंदिर के सामने की तरफ गेट होता है । गेट वाले मंदिर के डिजाइन में आपको मंदिर के छत पर शिखर भी बना सकते हैं और मंदिर के सामने की तरफ मेहराब भी रखवा सकते हैं ।

7 . झालरदार पूजा घर होम मंदिर डिजाइन मंदिर डिजाइन फोटो ।

झालरदार पूजा घर होम मंदिर डिजाइन में मंदिर के आगे की ओर अर्थात सामने की तरफ मेहराब लगी होती है । झालरदार पूजा घर होम मंदिर डिजाइन की सुंदरता और भी ज्यादा बढ़ जाती है । इससे मंदिर काफी अट्रैक्टिव और सुंदर लगता है । यदि झालरदार पूजा घर होम मंदिर के डिजाइन में मंदिर के छत पर शिखर बना दिया जाए तो मंदिर और भी ज्यादा सुंदर लगता है ।

8 . स्तंभ पूजा घर होम मंदिर डिजाइन मंदिर डिजाइन फोटो ।

स्तंभ पूजा घर होम मंदिर डिजाइन में मंदिर के आगे की तरफ स्तंभ होता है । मंदिर के ऊपर की तरफ गुंबद रखना चाहे तो रख सकते हो । स्तंभ दीवार मंदिर डिजाइन में मंदिर के आगे की तरफ झालर रखना चाहते हो तो वह भी रख सकते हो । स्तंभ वाले पूजा घर होम मंदिर का डिजाइन बिना झालर के अच्छा नहीं लगता हैं ।

फर्नीचर होम मंदिर डिजाइन मंदिर डिजाइन फोटो ।

फर्नीचर होम मंदिर डिजाइन में लकड़ी से बने हुए होम मंदिर डिजाइन तैयार किए जाते हैं । इसके अलावा कई बार फर्नीचर होम मंदिर डिजाइन में प्लाई से बने हुए मंदिर के डिजाइन भी तैयार किए जाते हैं । यदि आप फर्नीचर से बने हुए होम मंदिर डिजाइन तैयार करवाना चाहते हैं तब आपको शीशम , सागवान की लकड़ी के बना हुआ होना चाहिए ।

स्टूडियो दुकान ऑफिस के लिए मंदिर के सबसे बेस्ट डिजाइन । मंदिर डिजाइन फोटो ।

यदि आप किसी स्टूडियो में मंदिर लगवाना चाहते हैं या फिर आप किसी ऑफिस में मंदिर लगवाना चाहते हैं या फिर आप अपनी दुकान में मंदिर लगवाना चाहते हैं तब आप इन सभी के लिए लकड़ी अर्थात फर्नीचर से बना हुआ दीवार पर टांगने वाले छोटे मंदिर का डिजाइन चुनना चाहिए। यह आपके लिए सबसे बढ़िया रहता है ।

दीवार पर टांगने वाले लकड़ी से बने हुए पूजा घर होम मंदिर डिजाइन को आप अपने ऑफिस, स्टूडियो, दुकान , अपार्टमेंट में लगा सकते हो । स्टूडियो , दुकान , ऑफिस में आमतौर पर जो मंदिर चुने जाते हैं उनमें किसी एक देवी देवता की मूर्ति को रखा जाता है । इसीलिए इस तरह की जगहों के लिए दीवार पर रखने वाले छोटे मंदिर के डिजाइन सबसे बेस्ट रहते हैं ।

पूजा रूम के दरवाजों के डिजाइन मंदिर डिजाइन फोटो ।

मंदिर के दरवाजे की डिजाइन भी मंदिर को काफी सुंदर बना देती है । पूजा रूम के दरवाजों के डिजाइन यूनिक होने चाहिए । ताकि मंदिर गेट डिजाइन यूनिक लगे । इसके लिए आप फैंसी मंदिर गेट डिजाइन को चुन सकते हो । पूजा रूम के दरवाजों के डिजाइन कई प्रकार के होते हैं । आप अलग-अलग प्रकार के फैंसी मंदिर गेट डिजाइन में से किसी एक डिजाइन को पसंद कर सकते हो । मंदिर गेट डिजाइन जिस प्रकार से डिजाइन करवाना चाहिए करवा सकते हो । क्योंकि इसकी कोई फिक्स डिजाइन नहीं होती है । फैंसी मंदिर गेट डिजाइन भांती भांती के होती है ।

मंदिर गेट डिजाइन । फैंसी मंदिर गेट डिजाइन मंदिर डिजाइन फोटो ।

मंदिर का गेट डिजाइन करते समय फैंसी मंदिर गेट डिजाइन चुनना चाहिए । क्योंकि यदि मंदिर लकड़ी का है तब फैंसी मंदिर गेट का डिजाइन उस पर सुंदर लगता है । मंदिर गेट डिजाइन मंदिर के अकॉर्डिंग ही होना चाहिए । फैंसी मंदिर गेट डिजाइन मंदिर के कलर के कोडिंग परफेक्ट होना चाहिए । किसी अन्य कलर का नहीं होना चाहिए ।

लकड़ी मंदिर गेट डिजाइन । फैंसी मंदिर गेट डिजाइन ।

गेट मंदिर डिजाइन : लकड़ी के मंदिर का गेट डिजाइन चुनते समय आपको इस बात का ध्यान रखना है कि मंदिर के गेट का डिजाइन भी लकड़ी का होना चाहिए । फैंसी मंदिर गेट डिजाइन मंदिर के डिजाइन के लिए सबसे उपयुक्त रहता है । फर्नीचर मंदिर डिजाइन में आमतौर पर मंदिर में गेट लकड़ी का ही डिजाइन किया जाता है ।

मंदिर मेहराब डिजाइन । मंदिर डिजाइन फोटो ।

पूजा घर होम मंदिर डिजाइन में मेहराब की महत्वपूर्ण भूमिका होती है । मेहराब के बिना पूजा घर मंदिर डिजाइन अच्छा नहीं लगता है । मार्बल से बने पूजा घर , लकड़ी से बने हुए पूजा घर और प्लाई से बने हुए पूजा कर के मंदिर में मेहराब डिजाइन बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है । मेहराब की वजह से ही पूजा घर डिजाइन काफी सुंदर बनता है । जब भी आप अपने छोटे घर के लिए पूजा घर डिजाइन करवाये उस मंदिर में मेहराब अवश्य बनवाएं । यदि आप कहीं से मंदिर खरीद रहे हैं तब आपको मेहराब वाला मंदिर खरीदना चाहिए ।

लाकडी देव्हारा डिझाईन । Devara ideas . Wooden Devhara

लकड़ी से बने हुए मंदिर को ही Wooden Devhara या Devara कहते है । लकड़ी के Devhara का डिजाइन चुनते समय आपको इस बात का ध्यान रखना है कि आप अपने छोटे घर के लिए लकड़ी के Devhara का डिजाइन चुन रहे हैं या फिर आपके घर के पूजा घर के लिए लकड़ी के Devhara का डिजाइन चुन रहे हैं । लकड़ी के Devhara का डिजाइन दीवार पर लगाने वाले मंदिर के लिए चुनते हैं ।

मंदिर के गुंबद की डिजाइन । मंदिर का गुंबद डिजाइन ।

ऊपर हमने आपको गुंबद वाले मंदिर के डिजाइन के बारे में बताया था । हमने आपको बताया कि लकड़ी और मार्बल के कुछ ऐसे मंदिर के डिजाइन होते हैं जिसमें मंदिर के छत के ऊपर गुंबद लगाया जाता है। गुंबद वाले मंदिर के डिजाइन दिखने में काफी सुंदर और अट्रैक्टिव लगते हैं । गुंबद वाले मंदिर के डिजाइन लोगों के द्वारा काफी पसंद भी किये जाते हैं । मंदिर का गुंबद डिजाइन यूनिक तरीके का होना चाहिए । मंदिर का गुंबद डिजाइन इस प्रकार से होना चाहिए कि देखते ही सभी को पसंद आए । ना छोटा होना चाहिए ना ही बड़ा होना चाहिए ।

पूजा घर का आकार मंदिर डिजाइन फोटो ।

घर के मंदिर का पूजा घर का आकार कैसा होना चाहिए । इसके बारे में भी वास्तुशास्त्र में बताया गया है । वास्तु शास्त्र के अनुसार पूजा घर , घर के उत्तरी पूर्वी कोने में होना चाहिए । यही जगह पूजा घर के लिए सबसे अच्छी मानी जाती है । पूजा घर का आकार गोल या फिर चौकोर सर्वश्रेष्ठ माना जाता है। पूजा करके मंदिर की ऊंचाई 1/3 होनी चाहिए ।

पूजा घर के आकार की बात करें तो पूजा घर का आकार चौड़ाई की तुलना में लंबाई दोगुनी होनी चाहिए । पूजा घर बनाते समय इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि पूजा कर कभी भी शौचालय के पास में नहीं होना चाहिए । पूजा घर को कभी भी सीढ़ियों के नीचे नहीं बनवाना चाहिए। यह वास्तु शास्त्र के हिसाब से सही नहीं माना जाता है । पूजा घर में कभी भी दिवंगत व्यक्ति की फोटो नहीं लगानी चाहिए । यह भी अच्छी नहीं मानी जाती है ।

निष्कर्ष – आज हमने आपको मंदिर डिजाइन के फोटो के बारे में बताया । मंदिर डिजाइन के जितने भी फोटो होते हैं उनके बारे में बताया । पूजा घर मंदिर के डिजाइन के यूनिक फोटो डाउनलोड कर सकते हो ।

0 0 votes
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
0
Would love your thoughts, please comment.x
()
x