how to stop pregnancy in hindi: आज के इस टॉपिक में हम प्रेगनेंसी को रोकने के घरेलू उपाय के बारे में बात करेंगे । यह जानेंगे कि ऐसे कौन-कौन से तरीके हैं जिसे अपना करके प्रेगनेंसी को रोका जा सकता है । प्रेगनेंसी को रोकने के बेहतर और कारगर उपाय कौनसे होते हैं । आज हम जो भी घरेलू उपाय के बारे में बात करेंगे वह उपाय प्रेगनेंसी ना होने के उपाय में से अचूक उपाय माने जाते हैं ।

प्रेग्नेंसी रोकने के तरीके । pregnancy kaise roke . गर्भ रोकने का तरीका । pregnancy rokne ka tarika in hindi .

प्रेगनेंसी को रोकने के लिए कई तरीके होते हैं । प्रेगनेंसी को नेचुरल या प्राकृतिक तरीके से भी रोका जा सकता है और प्रेगनेंसी रोकने का दूसरा तरीका यह है कि आप गोलियां टेबलेट का सेवन कर सकते हो । इसकी मदद से भी प्रेगनेंसी को रोका जा सकता है । आज हम आपको दोनों ही तरीके प्रेगनेंसी को रोकने के तरीके के बारे में बताएंगे । आप दोनों तरीके से प्रेगनेंसी को रोक सकते हैं । आप चाहे तो प्राकृतिक तरीके को आजमा करके प्रेगनेंसी रोक सकते हैं या फिर गोली का सेवन करके प्रेगनेंसी को रोक सकते हैं ।

नोट – प्रेगनेंसी को रोकने के बारे में हमारा सुझाव यह है कि आप प्राकृतिक तरीकों का इस्तेमाल करें और जटिल परिस्थितियों में ही इस तरह के उपाय को अपनाएं ।

pregnant na hone ke upay in hindi me . pregnant na hone ke tarike

प्रेगनेंसी ना होने और प्रेगनेंसी से बचने के लिए कुछ घरेलू खाद्य पदार्थ होते हैं जो कि गर्भनिरोधक का कार्य करते हैं । यदि इन पदार्थों का सेवन प्रेगनेंसी को रोकने के लिए किया जाए तो यह गर्भनिरोधक का काम करते हैं और अनचाही प्रेगनेंसी को रोकते हैं ।

pregnancy stop tips in hindi . avoid pregnancy naturally in hindi .

1 . pregnancy ko rokne ke liye upay . शलजम से प्रेगनेंसी को रोकने के लिए उपाय

शलजम प्रेगनेंसी को रोकने का सबसे अच्छा उपाय है ‌‌। यह सबसे सस्ता और सबसे अच्छा तरीका है । फिजिकल रिलेशनशिप बनाने के बाद अनचाही प्रेगनेंसी को रोकने के लिए शलजम का सेवन कर सकते हो । यह एक तरीके से गर्भनिरोधक का काम करता है और अनचाही प्रेगनेंसी को रोकने का काम करता है ।

शलजम को सेवन करने की विधि और तरीका यह है कि शलजम को सबसे पहले सुखा लें और फिर उसका सूखा पाउडर बना लें और शारीरिक संबंध बनाने के बाद एक हफ्ते तक इस चूर्ण का सेवन करें । शलजम के इस उपाय से अनचाही प्रेग्नेंसी का खतरा टल जाएगा ।

2 . नीम का तेल प्रेगनेंसी रोकने का घरेलू तरीका । avoid pregnancy tips in hindi

प्राचीन समय से ही नीम के तेल का प्रयोग प्रेगनेंसी को रोकने के लिए घरेलू तरीके के रूप में इस्तेमाल और उपयोग होता आया रहा है । प्राचीन समय से ही नीम के तेल का उपयोग गर्भनिरोधक दवा के रूप में इस्तेमाल किया जा रहा है । नीम के तेल का उपयोग वैजाइना में क्रीम के रूप में किया जाता है । नीम का तेल अपना प्रभाव शारीरिक संबंध के 5 घंटे बाद तक रहता है । बाजार में पुरुषों के लिए नीम के तेल के कैप्सूल भी आते हैं।

3 . अनचाही प्रेगनेंसी रोकने का घरेलू तरीका पपीता । avoid pregnancy tips in hindi.

शारीरिक संबंध के बाद में या फिर फिजिकल रिलेशन के बाद में यदि आप अनचाही प्रेगनेंसी को रोकना चाहते हैं तब आप घरेलू तरीके के रूप में पपीते का इस्तेमाल कर सकते हो ‌। पपीता अनचाहे प्रेगनेंसी को रोकने में मदद करेगा । पपीते से प्रेगनेंसी को रोकने के लिए और गर्भनिरोधक के रूप में इस्तेमाल करने के लिए शारीरिक संबंध के 3 से 4 दिन लगातार दिन में दो बार पपीते का सेवन करें ।

यदि पपीते का सेवन पुरुष करता है तब पपीता पुरुष में शुक्राणु की संख्या कम कर देता है और जैसे ही पुरुष पपीते का सेवन बंद करता है शुक्राणु की संख्या फिर से नॉर्मल हो जाती है । इस कारण से पुरुष और स्त्री दोनों ही पपीते का सेवन कर सकते हैं ।

4 . अदरक अनचाही प्रेगनेंसी को रोकने का घरेलू तरीका । pregnancy avoid tips in hindi .

शारीरिक संबंध के पश्चात अनचाही प्रेग्नेंसी से छुटकारा पाने के लिए और अनचाही प्रेगनेंसी ना हो इसके लिए अदरक का उपयोग प्राचीन समय से ही आयुर्वेद में वर्णन के अनुसार किया जा रहा है । अदरक में ऐसे गुण पाए जाते हैं जो कि पीरियड यानी कि मासिक धर्म को प्रभावित करते हैं ।

अनचाहे प्रेगनेंसी को रोकने के लिए अदरक को इस्तेमाल करने के लिए अदरक को कुट करके पानी में उबाल लेते हैं । जब पानी अच्छे से उबल जाता है तब अदरक के पानी को छानकर के ठंडा करके प्रतिदिन दिन में 2 बार सेवन करना होता है ‌। जिससे गर्भधारण को रोका जा सकता है ।

5 . अनचाही प्रेगनेंसी को रोकने का सबसे अच्छा घरेलू तरीका पुदीना । pregnancy se bachne ke upay in hindi.

पुदीने का उपयोग भी गर्भनिरोधक घरेलू तरीके के रूप में कर सकते हो । इसके लिए आपको पुदीने की पत्तियों को सुखाकर के रख लेना है । पुदीने की सूखी पत्तियों का उपयोग करने का तरीका यह है कि जब आवश्यकता पड़े या फिर जब शारीरिक संबंध बनाएं तब पुदीने की सूखी पत्तियों का बना पाउडर या चूर्ण गर्म पानी के साथ शारीरिक संबंध के 5 से 10 मिनट बाद ले ले ।

यदि पुदीने की पत्तियों का सेवन डॉक्टर के परामर्श के बाद और डॉक्टर के निर्देशानुसार करें तो इसका सबसे अच्छा रिजल्ट मिलेगा आपको ।

pregnancy rokne ki tablet name hindi. प्रेगनेंसी रोकने के लिए टेबलेट । प्रेगनेंसी को रोकने के लिए मेडिसिन ।

pregnancy rokne ki tablet . pregnancy rokne ki dawa . प्रेगनेंसी रोकने की दवा । प्रेगनेंसी को रोकने के लिए गर्भनिरोधक दवा के रूप में नीचे दी गई टेबलेट का इस्तेमाल कर सकते हो । यह गर्भनिरोधक दवाएं आपको मेडिकल स्टोर पर मिल जाएगी । लेकिन इनमें से कुछ दवाइयां ऐसी है जो डॉक्टर की पर्ची के बिना नहीं मिलती है । लेकिन कुछ ऐसी दवाई भी है जो कि डॉक्टर के बिना पर्ची के भी मिल जाती है ।

1 . mifepristone गर्भ निरोधक टेबलेट ।

गर्भ निरोधक दवा के रूप में और प्रेगनेंसी से बचने के लिए mifepristone टेबलेट का उपयोग डॉक्टर की देखरेख में किया जाता है । जब आप अनचाही प्रेग्नेंसी या किसी और कारण से गर्भ गिराने के लिए mifepristone टेबलेट का उपयोग करते हो तब आपके पेट में मरोड़ आ सकते हैं और पैट दर्द भी हो सकता है ।

mifepristone टेबलेट लेने के 1 से 4 घंटे के अंदर ही पेट में मरोड़ आना शुरू हो जाता है और पेट दर्द की शिकायत भी शुरू हो जाती है । साथ में ब्लीडिंग भी स्टार्ट हो जाती है । पेट में मरोड़ और खून आना यह शिकायत कुछ घंटे के लिए हो सकती है ।

mifepristone टेबलेट लेने के बाद जब गर्भपात होता है तब थक्के के साथ भारी मात्रा में खुन आ सकता है । mifepristone टेबलेट लेने के कुछ हफ्तों तक हल्की ब्लीडिंग या फिर खुन आ सकता है ।

2 . लेवनरजेस्त्रल प्रेगनेंसी रोकने की दवा

लेवनरजेस्त्रल को सबसे अधिक गर्भ निरोधक दवा के रूप में इस्तेमाल किया जाता है । लेवनरजेस्त्रल सबसे अधिक उपयोग में आने वाली प्रेगनेंसी टेबलेट है । लेवनरजेस्त्रल टेबलेट का उपयोग यदि 3 दिनों के भीतर किया जाए तो ही यह उपयोगी साबित होती है । 3 दिन के बाद लेवनरजेस्त्रल दवा असर नहीं दिखाती है ।

लेवनरजेस्त्रल टेबलेट को आप बिना डॉक्टर की पर्ची के भी मेडिकल स्टोर से खरीद सकते हो । लेवनरजेस्त्रल टेबलेट के लिए डॉक्टर की पर्ची की जरूरत नहीं होती है ।

3 . यूलीप्रिस्टल

यूलीप्रिस्टल दवा लेवनरजेस्त्रल टेबलेट से अधिक प्रभावी होती है । यूलीप्रिस्टल टेबलेट का उपयोग शारीरिक संबंध के 5 दिन बाद तक ले सकते हो यानी कि यूलीप्रिस्टल दवा का उपयोग शारीरिक संबंध के 5 दिन बाद में भी करते हो । तब भी यूलीप्रिस्टल दवा अपना असर दिखाती है और कारगर साबित होती है । यूलीप्रिस्टल टेबलेट डॉक्टर के पर्चे के बिना नहीं मिलती है । यदि आपको इस दवा को खरीदना है तब डॉक्टर की पर्ची दिखाना अनिवार्य है ।

4 . मिनी पिल

मिनी पिल’ या ‘प्रोजेस्टिन ओनली पिल’ में केवल प्रोजेस्टिन हार्मोन होता है। मिनी पिल’ का पूरा नाम प्रोजेस्टिन ओनली पिल या पीओपी है। मिनी पिल गर्भधारण को रोकने की काफी प्रभावी दवा है । जब भी आप गर्भवती होना चाहते हो तब इस दवा का सेवन करना बंद कर सकते हो ।

मिनी पिल दवा मासिक धर्म के समय होने वाले दर्द को कम करती है । लेकिन आपको एक बात ध्यान रखना है कि जब भी आप शारीरिक संबंध बनाए तो आपको मिनी पिल दवा रोजाना खानी चाहिए नहीं तो आप प्रेग्नेंट हो सकते हो । क्योंकि यह दवा ज्यादा समय तक असर नहीं दिखाती है । इसलिए इस दवा को रोज लेना पड़ता है ।

5 . एमटीपी

एमटीपी दवा एक गर्भनिरोधक टेबलेट है । एमटीपी का उपयोग अनचाही प्रेगनेंसी को रोकने के लिए बहुत ही गंभीर परिस्थितियों में किया जाता है । एमटीपी दवा का इस्तेमाल भारत सरकार के द्वारा प्रतिबंधित है। एमटीपी दवा का उपयोग बिना डॉक्टर की पर्ची के कहीं से भी नहीं खरीद सकते हो ।

जब भी कोई महिला एमटीपी टेबलेट खाती है और उसका उपयोग करती है तब यह प्रोजेस्ट्रोन हार्मोन को बढ़ने से रोकती है । इसके साथ ही एमटीपी टेबलेट गर्भाशय की अंदरूनी परत को संकुचित करने का काम भी करती है ।

इस गोली का सेवन डॉक्टर की देखरेख में ही किया जाता है । पहली गोली डॉक्टर की देखरेख में ही ली जाती है तथा एमटीपी की दूसरी गोली 36 से 48 घंटे के बाद में डॉक्टर की देखरेख में ही दोबारा ली जाती है ।

नोट- हम इस तरह की किसी भी गतिविधि को बढ़ावा नहीं देते हैं । यदि कोई ऐसा करता है तो इसके लिए पाठक स्वयं जिम्मेदार होगा । यह वेबसाइट किसी भी तरीके से इस तरह के कंटेंट को प्रोत्साहित नहीं करती है । हमारा उद्देश्य आप लोगों तक जानकारी पहुंचाना है ।

pregnancy rokne ke upay hindi me
pregnant nahi hone ke upay in hindi.

pregnancy se bachne ke upay : अभी तक हमने प्रेगनेंसी को रोकने के घरेलू तरीके और प्रेगनेंसी को रोकने की टेबलेट के बारे में जाना आइए अब इने तरीकों के बारे में जानते हैं । कौन-कौन से तरीके है जिनसे प्रेगनेंसी को रोका जा सकता है । प्रेगनेंसी को रोकने के लिए निम्नलिखित तरीका अपना सकते हो जो की नीचे दिए गए हैं ।

1 . शारीरिक संबंध के दौरान सेफ्टी प्रोडक्ट का इस्तेमाल करें ?

जब भी आप शादी के बाद फिजिकल रिलेशनशिप में आते हो तब सेफ्टी प्रोडक्ट के रूप में निरोध का इस्तेमाल कर सकते हो । इससे सारा का सारा वीर्य निरोध में ही रह जाता है और प्रेगनेंसी का खतरा टल जाता है ।

2 . इजैक्युलेशन बाहर करें ?

विदड्रॉ टेक्नीक के प्रयोग से इजैक्युलेशन बाहर कर सकते हैं । यानी कि विर्य के निकलने के समय प्राइवेट पार्ट को बाहर निकाल लेते हैं ।

3 . प्रेगनेंसी को रोकने के लिए शारीरिक संबंध बनाने का सही समय

यदि आप प्रेगनेंसी से बचना चाहते हैं और आप चाहते हैं कि आप प्रेग्नेंट नहीं हो और आप शारीरिक संबंध बनाना चाहते हैं तो आपको प्रेगनेंसी से 5 से 10 दिन पहले शारीरिक संबंध बनाने चाहिए । इस समय प्रेग्नेंसी का खतरा बहुत कम होता है ।

pregnancy rokne ke tips hindi. गर्भावस्था से बचने के उपाय pregnancy se kaise bache

how to stop pregnancy naturally in hindi. how to avoid pregnancy naturally in hindi language : प्रेगनेंसी रोकने के टिप्स में प्रेगनेंसी रोकने के घरेलू टिप्स और प्रेगनेंसी से बचने की दवा भी शामिल है आप प्रेगनेंसी को रोकने के लिए अलग-अलग तरीके और टिप्स अपना सकते हो जिनसे आप अनचाही प्रेगनेंसी और गर्भधारण को रोक सकते हो यदि आप प्रेगनेंसी से बचना चाहते हो तो आप इन टिप्स को फॉलो कर सकते हो जो कि आप को प्रेग्नेंट और गर्भधारण से बचाएंगे ।

1 . प्रेगनेंसी रोकने और प्रेगनेंसी से बचने का पहला टिप्स यह है कि आप प्रेगनेंसी से बचने के नेचुरल तरीके को अपनाएं जैसे कि कंडोम इत्यादि ।

2 . अनवांटेड टेबलेट के सेवन से भी प्रेगनेंसी को रोक सकते हैं और अनचाही प्रेगनेंसी से बच सकते हैं लेकिन गोलियों का सेवन कम से कम करें और गर्भनिरोधक के प्राकृतिक तरीकों को अपनाएं ।

3 . गर्भधारण को रोकने के लिए और अनचाहे प्रेगनेंसी से बचने के लिए घरेलू तरीके और टिप्स को फॉलो कर सकते हैं जैसे कि पपीता अदरक का सेवन करके नेचुरल तरीके से प्रेगनेंसी रुक सकते हैं ।

4 . पीरियड साइकिल का पता लगा करके और ओवुलेशन का पता लगा करके भी आप नेचुरल और प्राकृतिक तरीके से प्रेगनेंसी से बच सकते हो ।

5 . महिला प्रेगनेंसी से बचने के लिए महिला के सभी प्रोडक्ट महिला कंडोम का प्रयोग कर सकती है ।

6 . प्रेगनेंसी को रोकने का सबसे आसान तरीका विजय को रानी से बाहर इस स्खलित करके प्रेगनेंसी से बच सकते हैं ।

precaution to avoid pregnancy in hindi

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here