सर्दी जुकाम के लिए कौन सा टैबलेट लेना चाहिए?

सर्दी जुकाम की टेबलेट का नाम बताओ सर्दी जुखाम के लिए कौन सी टेबलेट लेना चाहिए गर हमें जुकाम के लिए गोली, जुकाम की गोली का नाम बताओ जुकाम की टेबलेट का नाम

जुकाम सामान्य तौर पर होने वाली आम बीमारी है।  यह सर्दियों के मौसम में तथा गर्मियों के मौसम में भी हो सकता है । इसका कोई निश्चित समय नहीं होता है  जुकाम ज्यादातर 5 से 10 दिन तक किसी भी व्यक्ति को रहता है उसके बाद में जुकाम ठीक हो जाता है ।

बहुत सारे ऐसे व्यक्ति होते हैं जो कि इंटरनेट पर जुकाम की टेबलेट सर्च करते रहते हैं । वह देखते हैं कि जुकाम की टेबलेट कौन सी होती है । जुकाम की टेबलेट का क्या नाम होता है । इस तरह के वर्ल्ड इंटरनेट पर सर्च करते रहते हैं । आज भी आपको जुकाम की एक टेबलेट का नाम बताऊंगा जो भी लगभग सभी जगह उपलब्ध होती है ।

वैसे तो हर कंपनी की जुकाम की टेबलेट उपलब्ध होती है और उस टेबलेट का नाम भी अलग होता है । देखा जाए तो जुकाम की टेबलेट तो एक ही होती है पर टेबलेट के ऊपर जो नाम लिखा जाता है वह हर कंपनी द्वारा अलग अलग होता है तथा हर कंपनी की जुकाम की टेबलेट का नाम अलग अलग होता है । आज मैं आपको सबसे पॉपुलर जुकाम की टेबलेट के बारे में बताऊंगा ।

लड़कियां लड़कों को भैया क्यों बोलती है

आपने Cetirizine का नाम तो सुना ही होगा Cetirizine काफी पॉपुलर जुकाम की टेबलेट है । यह लगभग हर मेडिकल की दुकान पर आपको उपलब्ध होती है । यह टेबलेट यदि आप लेते हैं तो इससे आपका जुकाम ठीक हो जाता है । यह टेबलेट जब हम लेते हैं तो यह हमारे शरीर पर कुछ इस प्रकार का असर करती है।

Cetirizine Zyrtec कंपनी का एक ब्रांड है जो कि जुकाम की टेबलेट के नाम से जाना जाता है । Cetirizine टेबलेट से जुकाम को ठीक किया जाता है तथा इसकी टैबलेट से जुकाम ठीक होता है ।

Cetirizine एक प्रकार का एंटीहिस्टामाइन है । जिसका उपयोग एलर्जी को ठीक करने के लिए किया जाता है । इसके अलावा जिल्द की सूजन तथा पित रोग के इलाज के लिए किया जाता है ।

जब हम Cetirizine की गोली को लेते हैं तब यह 1 घंटे बाद में अपना प्रभाव दिखाना शुरू कर देती है । यानी कि 1 घंटे बाद में ही Cetirizine का असर हमारे शरीर पर होने लगता है और इसका असर 24 घंटे तक रहता है । उसके बाद में इसका असर खत्म हो जाता है ।

अकेले Cetirizine की गोली से जुकाम को ठीक नहीं किया जा सकता । क्योंकि यह एक प्रकार का एलर्जी को खत्म करने वाला टेबलेट होता है । इसके साथ में अन्य टेबलेट को भी मेडिकल के डॉक्टर द्वारा दिया जाता है । जिससे कि जुकाम को पूरी तरह से ठीक किया जा सके ।

जुकाम की टेबलेट की बात की जाए तो मार्केट में जुकाम की टेबलेट है । हजारों कंपनियों की टेबलेट मिल जाएगी । आपको अलग-अलग कंपनियों की अलग-अलग टेबलेट मिल जाएगी है । जितने भी कंपनी है उस कंपनी की जुकाम की टेबलेट तो होती है

जुकाम की गोली सर्दी जुकाम की टेबलेट का नाम बताओ ? सर्दी जुकाम के लिए कौन सा टैबलेट लेना चाहिए?

लड़कों के बारे में रोचक तथ्य

आपको किसी अच्छी ब्रांडेड कंपनी की ही जुकाम की टेबलेट का उपयोग करना चाहिए।  जिससे कि आपका जुखाम जल्दी ठीक हो जाए । यदि हम किसी लोकल कंपनी की जुकाम की टेबलेट का उपयोग करते हैं तो हमारा जुकाम जल्दी से ठीक नहीं होता है

जुकाम की टेबलेट का मोलर द्रव्यमान 388.89 ग्राम होता है । इसके रासायनिक सूत्र की बात की जाए तो इसका रासायनिक सूत्र C21H25ClN2O3 होता है ।

Top Medicine For Cold Sardi Jukam Ki Ayurvedic Desi Dawa

सबसे पहले हम आपको सर्दी जुकाम के आयुर्वेदिक देसी दवा के बारे में बताएंगे यह देश सी आयुर्वेदिक दवा आपके लिए बहुत ही फायदेमंद होगी ।

प्याज लहसुन और शेहद से सर्दी जुकाम की आयुर्वेदिक देसी दवा

सबसे पहले आपको प्याज को छोटे-छोटे टुकड़ों में काट के रख लेना है । अब आपको लहसुन को भी छोटे-छोटे टुकड़ों में काट लेना है ।

अब आपको इसे किसी भी कांच वाले बर्तन में या फिर जार में डाल लेना है और शेहद भी इसी में डाल लेना है । अब इसमें आधा कप पानी डाल लेना है । अब आपकी सर्दी जुकाम की आयुर्वेदिक दवा तैयार है ।

सर्दी जुकाम खांसी का काढ़ा और आयुर्वेदिक देसी दवा ।

सर्दी जुकाम का आयुर्वेदिक काढ़ा बनाने के लिए आपको दो गिलास पानी लेना होगा और दो तेजपत्ता लेना होगा । अब आपको अदरक ले लेनी है और 4 – 5 लॉन्ग लेना है । इसमें अब आपको आधा चम्मच दालचीनी पाउडर लेना होगा ।

इसमें अब आपको आधा चम्मच हल्दी पाउडर मिला लेना है । इसमें आपको एक चम्मच अजवायन भी ले लेना है ।

इसके अलावा काली मिर्च पाउडर , काला नमक पुराना गुड , 10 तुलसी के पत्ते इन सब सामग्री को पानी के साथ मिलाकर के उबाल लेना है ।

इस पानी को तब तक उबालना है जब तक यह पानी आधा नहीं रह जाता है । यानी कि एक गिलास पानी नहीं रह जाता है । इस काढे को धीमी आंच पर पका ना होता है ।

अब इस काढे को आप को छानकर के किसी भी बर्तन में रख लेना है । इससे आपको दिन में तीन बार पीना है । इसे आपको गरम-गरम पीना है और घुंट घुंट करके पीना है ।

सर्दी जुखाम के लिए कौन सी टेबलेट लेना चाहिए . सर्दी जुखाम के लिए आप कोई एलोपैथिक दवा

सर्दी जुकाम के लिए कौन सी टेबलेट लेना चाहिए । क्या सर्दी जुकाम के लिए एलोपैथिक टेबलेट लेना चाहिए या फिर होम्योपैथिक टेबलेट लेना चाहिए । दोनों में से कौन सी सही रहती है ।

यह सब आप पर डिपेंड करता है कि आप सर्दी जुकाम के लिए एलोपैथिक दवा लेते हो या फिर होम्योपैथिक दवा लेते हो । क्योंकि दोनों ही दवा अपनी अपनी जगह सही है और अपना अपना काम करती है ।

एलोपैथिक दवा थोड़ा सा जल्दी असर करती है और आप जल्दी ही ठीक हो जाते हैं । जबकि होम्योपैथिक दवा धीरे-धीरे असर करती है और थोड़ा टाइम भी लेती है । लेकिन दोनों ही दवाओं से ठीक हो जाते हैं ।

जुकाम की दवा – Jukam Ki Dawa in Hindi

सर्दी जुकाम की अंग्रेजी दवा – sardi jukam ki angreji dava .

जुकाम की टेबलेट का नाम Jukam Ke Liye Tablet. अब आप सर्दी जुकाम की कुछ ऐसी अंग्रेजी दवाओं के बारे में जानेंगे । यह दवाएं आपको आपके नजदीकी मेडिकल स्टोर पर मिल जाएगी ।‌ आज हम जो भी आपको अंग्रेजी दवा के नाम बता रहे हैं जो कि सर्दी जुकाम के लिए बनी है वह कुछ पॉपुलर कंपनी की है ।

टॉप 6 सर्दी जुकाम के लिए दवा

1 . D cold tablet and syrup
2 . Z cold medicine
3 . Citizen tablet
4 . Disprin cold tablet
5 . Cheston cold tablet
6 . Cough and runny nose
7 . Crocin cold and flu

सर्दी-जुकाम की दवाओं के नुकसान – Sardi jukam ki dawa ke nuksan .

वैसे तो सभी दवाएं कोई भी इंसान किसी भी बीमारी को ठीक करने के लिए या फिर अपने आप को स्वस्थ रखने के लिए लेता है । लेकिन इन दवाओं की भी अपनी एक सीमा होती है । यदि सीमा से ज्यादा इन दवाओं का इस्तेमाल किया जाए तो यह हमारे शरीर पर साइड इफेक्ट देखने को मिल जाता है ।

इन दवाओं को आपको डॉक्टर या फिर चिकित्सक की सलाह से ही लेना चाहिए । क्योंकि यह दवाई लंबे समय तक लेने से हमारे शरीर पर की घातक परिणाम और असर देखने को मिल सकते हैं ।

यदि इस तरह की दवाओं को लगातार लेते हैं । तब यह हमारे किडनी और गुर्दे पर भी असर दिखाती है इसके अलावा लंबे समय तक इनके सेवन से व्यक्ति का आदि भी हो सकता है ।

इन सबके अलावा भी आपको कई अन्य घातक परिणाम भी देखने को मिल सकते हैं । कई व्यक्तियों को तो इनसे एलर्जी तक भी हो सकती है ।