स्टैमिना बढ़ाने का असरदार तरीका Stamina kaise badhaye.

19

जानिये Stamina kaise badhaye — हैलो दोस्तो कैसेे हो आप लोग, मै उम्मीद करता हू आप ढीक होंगे तो दोस्तो आज हम इस आर्टिकल मे आपको बाताएगे “स्टैमिना कैसे बढ़ाए” इस लेख मे हम आपको वो सभी तरीके बताएगे जिससे आप प्राकृतिक तरीके से अपना स्टैमिना ( Stamina ) बढ़ा सके । तो चलिए शुरू करते हैं । 

स्टैमिना क्या है ( Stamina kya hai )

स्टैमिना ( Stamina ) एक प्रकार की सहनशीलता या शक्ति है जो आपको लम्बे समय तक किसी शारीरिक या मानसिक काम को बर्दाशत करने की ताकत देता है । स्टैमिना बढ़ाने से आप किसी भी काम को करते समय होने वाले तनाव और दिक्कत को लम्बे समय तक बर्दाशत कर पाएगे


 स्टैमिना ज्यादा होने से थकावट ( exhaustion ) भी कम रहती है । High स्टैमिना होने से आप अपने प्रतिदिन के काम ज्यादा कुशलता से कर सकतेे है और आपकी ऊर्जा का लेवल ( Level of energy ) भी ज्यादा रहेगा । 


इससे पहले हम आपको स्टैमिना बढ़ाने के उपाय ( Stamina badhane ke upay ) बताए चलिये जान लेते हैं की हमारा स्टैमिना कम क्यो हो जाता है । 


स्टैमिना कम होने के कारण ( Cause of low stamina in hindi ) 

अक्सर स्वास्थ्य से जुडी समस्याए हमारी जीवनशैली की वजह से ही होती हैं । जाने-अनजाने हम जिन आदतों को अपना लेते हैं वो हमारे Stamina को बहुत प्रभावित करती हैं । एक अच्छी और प्रबंधित Lifestyle ना केवल सफल होने के लिए जरूरी है बल्कि एक स्वास्थ जीवन के लिए भी जरूरी है । 


यहाँ हम कुछ कारणों के बारे में बता रहें जिनकी वजह से लोग कम ऊर्जा और Low stamina महसूस करते हैं । इन्हे बताने का मकसद है की आप इन कारणों से दूर रहें ताकि आपका स्टैमिना तेजी से बढ़े । 


डाइट- मैं अपने पिछले कई आर्टिकलों में अच्छी डाइट के महत्व के बारे में बता चुका हूँ । एक अच्छी और संतुलित डाइट लेने से व्यक्ति ना केवल बिमारीयों से दूर रहता है बल्कि उसकी ऊर्जा भी बढ़ी रहती है लेकिन आज-कल जंक फूड ( Junk food ) का चलन ज्यादा होने के कारण लोगों की प्लेट से पौष्टिक भोजन गायब ही हो गया है । 

जंक फूड- खाने से किसी तरह के पौषक तत्व नही मिलते और ना ही ऊर्जा मिलती है इसलिए जो लोग ज्यादातर समय जंक फूड खाते हैं उनका स्टैमिना कम रहता है । 


आलस- हमारा शरीर बहुत स्मार्ट होता है ये हालतों के हिसाब से खुदको ढ़ाल लेता है । जब हम डेली कोई ऐसा काम करते है जिसमें बहुत ऊर्जा की जरूत होती है तो हमारा शरीर उसी के अनुसार शरीर में ऊर्जा का लेवल बढ़ाता रहता है, लेकिन जब हम पुरे दिन बेड पर पडे हुए

मोबाइल चलाते रहते हैं या सोते रहते हैं तो इससे आलस पैदा हो जाती है और शरीर को लगता है की हमें अपने रोज-मररा के कामों के लिए ऊर्जा की जरूरत नही है जिसके कारण शरीर में Stamina की कमी हो जाती है । 


टेस्टोस्टेरोन की कमी ( Low testosterone )- 

टेस्टोस्टेरोन के एक सेक्स हार्मोन है जोकि अधिकतर मर्दों में होता है । टेस्टोस्टेरोन की मात्रा पर्याप्त होने से शरीर कि कई जरूर क्रियाए सही काम करती है लेकिन इसकी कमी के कारण कई समस्या हो जाती है जिसमें स्टैमिना की कमी मुख्य है ।


पुरी नींद ना लेना- आपने भी कई बार महसूस किया होगा की जब आप 7-8 घंटो की नींद लेकर उठते हैं तो शरीर में बहुत ताकत महसूस होती हैं और ऐसा लगता है की अब हम कोई भी काम कर सकते हैं । लेकिन कुछ लोग अपनी दिनचर्या के कारण पुरी नींद नही लें पाते, जिसके कारण उन्हे पुरे दिन थकान महसूस होती है तथा किसी काम मे Focus लगाना भी मुश्किल हो जाता है । 


तनाव ( Delression )- तनाव इंसान को मानसिक रूप से बिल्कुल बर्वाद कर देता है । तनाव मानसिक स्वास्थ्य ( Mental health ) को जितना नुकसान पहुचाता है उतना ही शारीरिक स्वास्थ्य को भी पहुचाता है । जिसके कारण उर्जा कम होने लगती है।


अन्य बिमारीयां- कई दूसरी बिमारियां जैसे- मधुमेह और दिल से जुडी समस्याए शरीर को बुरी तरह प्रभावित करती हैं तथा स्टेमिना भी कम करती हैं । 

स्टैमिना कैसे बढ़ाए ( Stamina kaise badhaye )

Stamina kaise badhaye

चलिए अब Stamina badhane ke tarilke के बारे मे बात करें यहाँ आपको स्टैमिना बढ़ाने के 5 तरीके दिए जा रहे है । स्टैमिना बढ़ाने के लिए आपको इन्हे आपने लाइफस्टाइल ( Lifestyle ) का हिस्सा बनाना पढेगा जिससे ये आपके जीवनशैली का अभिन्ना हिस्सा बन जाएगे फिर आपको स्टैमिना नही बढ़ाना पडेगा बल्कि स्टैमिना खुद ब खुद बढ़ेगा ।

व्यायाम करें : Do exercise

व्यायाम करना हमारे शरीर के लिए बहुत फायदेमंद रहता है क्योकि इससे शरीर मे रक्त संचार बढ़ता है, रोग प्रतिरोधक क्षमता ( Immune system ) मजबूत होती है और पाचन शक्ति भी बढती है इसकेे अलावा व्यायाम ( Exercise ) करने से शरीर की मसल्स भी शक्तिशाली होती है । लेकिन क्या आप जानते है की व्यायाम करने से स्टैमिना बढ़ता है?


 2017 में एक स्टाडी हुई थी जिसमे हिस्सा लेने वाले लोगें ने रेगुलर व्यायाम किया था जिससे 6 हफ्तो मे उनका स्टैमिना असाधारण रूप से बढ़ गाय था इसके अलावा उनकी काम करने की क्षमता, नींद और दूसरे Body functions भी अच्छे हो गए थे । इसलिए अगर आप स्टैमिना बढ़ाने के रास्ते ढूढ रहे है तो एक्सरसाइज सबसे बेस्ट रहेगा क्योकि ये आपका स्टैमिना तो बढ़ाएगा साथ मे आपको स्वास्थ्य ( Health ) से रीलेटेड दूसरे फायदे भी देगा ।


योगा और मेडिटेशन करें : Do yoga and  meditation


योगा शरीर मे लचीलापन पैदा करता है और हड्डियो को भी मजबूत करता है जबकि मेडिटेशन दिमागी शान्ती देता है | लेकिन योगा और मेडिटेशन के रेगुलर अभ्यास ( Practice ) से स्टैमिना भी बढाया जा सकता है । 2016 मे एक स्टाडी हुई थी जिसमे 27 मेडिकल स्टुडेटं शामिल थे

जिन्होने 6 हफ्तो तक मेडिटेशन और योगा करा था जब स्टाडी का परिणाम ( Result ) सामने आया तो पता चला की उन लोगो का तनाव कम हो गया था और स्टैमिना भी बहुत बढ़ गया था | 
क्योकि हम योगा के दौरान थोडा शारीरिक दर्द सहते है जिससे Stamina की Exersice हो जाती है जबकि मेडिटेशन ( Meditation ) करने से तनाव और Stress कम होता हैै इसलिए ये दोने ही आपके स्वास्थ और Stamina के लिए फायदेमंद हैं । 

संगीत सुनें : Listen the music

हम अक्सर टाइम पास के लिए या खाली समय मे दिल बहलाने के लिए गाने सुनते है जो दिल और दिमाग को थोडा सुकून पहुचाता है लेकिन क्या आप जानते है की संगीत यानि म्यूजिक ( Music ) सुनने से स्टैमिना भी बढ़ता है? ये सुनने मे थोडा अटपटा और अजीब लग रहा है लेकिन ये सच है । 


एक अध्यन मे 30 लोगो का हार्ट रेट ( heart rat ) कम था जो व्यायाम करते समय अपना मनपसंद संगीत सुन रहे थे । व्यायाम करते समय संगीत सुनने से उन्हे व्यायाम मे कम ऊर्जा ( Energy ) लगानी पड रही थी जबकि उसी एक्सरसाइज को बिना Music के करने मे उन्हे काफी माशक्कत करनी पड रही थी ।


 खैर संगीत सुनने से सीधे तौर पर तो Stamin नही बढ़ता लेकिन व्यायाम करते समय संगीत सुनने से हमारा ध्यान गानो पर होता है जिससे शरीर मे हो रहे दर्द के बारे मे पता नही चलता । 

कैफीन लें : Take caffeine 

ज्यादातर समय हम कैफीन सुस्ती ऊतारने लिए पीते है लेकिन कैफीन हमारे थकान ऊतारने के साथ स्टैमिना भी बढ़ा सकती है । 2017 की एक स्टाडी मे 9 पुरूष तैराको ने तैरने से एक घंटे पहले 3 mg कैफीन लिया जिसकेे बाद पता चला की तैरते समय उनका हार्ट रेट ( Heart rate ) कम था यानि उन्हे तैरने मे ज्यादा ऊर्जा ( Energy ) नही लगानी पढ रही थी |

इसलिए जब आप व्यायाम करने से पहले थका हुआ महसूस करें तब थोडा कैफीन पी ले इससे आपको ऊर्जा मिलेगी । लेकिन इसे लिमिट मे पीजिए बरना ये आपको नुकसान भी पहुचा सकती है इसके अलावा आपको ऐसी कैफीन से बचना चाहिए जिसमेे ज्यादा शुगर या कृत्रिम कलर हो ।

 
इसे भी पढ़े;> पीठ दर्द के लिए आयुर्वेदिक उपचार। पीठ दर्द में अखरोट का आयुर्वेदिक उपचार

इन्हे भी पढ़े- अश्वगंधा कैप्सूल खाने के फायदे। कैप्सूल खाने के क्या-क्या benefit और नुकसान है।

इन्हे भी पढ़े- Unwanted kit khane ke kitni der bad bleeding hoti hai.

इन्हे भी पढ़े- रोजाना सिर दर्द के कारण। सिर दर्द का घरेलू उपाय।Causes of daily headaches.


अश्वगंधा लें : Take Asgwagandha


अश्वगंधा एक प्रकार की आयुर्वेदिक जड़ी बुटी है जिसका इस्तेमाल लम्बाई बढ़ाने से लेकर मोटा होनेबढ़ाने तक मे किया जाता है । अश्वगंधा का सेवन Overall स्वास्थ्य को Improve करता है । अश्वगंधा तनाव और Stress को कम करता है । अश्वगंधा ऊर्जा का लेवल ( Level of energy ) को भी बढ़ाता है । 2015 के अध्ययन मे 50 खिलाडीयो को 12 हफ्तो तक अश्वगंधा के 300 Mg के कैप्सूल दिये गए जिससे उनकी खेलने की कुशलता के साथ-साथ पुरा स्वास्थ ( Health ) भी सुधरा |
अच्छी डाइट लें : Take a good diet

हम जिस प्रकार का भोजन करते है उसका हमारे स्वास्थ से लेकर हमारे विचारो तक पर असर पडता है एक अच्छी डाइट लेने से स्वास्थ और ऊर्जा से रीलेटेड कोई समस्या नही होती लेकिन अफसोस की बात है की लोग शायद ही अच्छी डाइट लेते हो, आज तो जंक फूड का जमाना है, लोग पिज्जा, पास्ता और बर्फी, मलाई खाना ज्यादा पसंद करते है । 


ये चीजे स्वाद मे तो बहुत अच्छी होती है लेकिन हैल्थ के लिए बिल्कुल कूडा हैं । एक संतुलिक डाइट मे सभी तरह के पौषक तत्व, मिनरल्स, और विटामिन्स होते है । आप स्टैमिना बढ़ाने के लिए भी काई प्रकार के Foods का सेवन कर सकते है जहा तक स्टैमिना ( Stamina ) बढ़ाने की बात आती है तो अण्डे, मछली, केला, पीनट बटर, बादाम साइट्रस फल और हरे पत्ते वाली सब्जियो बहुत अच्छे माने जाते है । अगर आप ऊर्जा बढाना चहाते है तो इस बात को ध्यान मे रखिए कि ऊर्जा घटती बढ़ती रहती है ।


 इससिए खुद से ज्यादा Expect ना करें क्योकि ये बिल्कुल सामन्य है की कभी हम ज्यादा ऊर्जा महसूस करते हैं तो कभी कम, इसलिए खुद पर ज्यादा दबाव ना डालें । अगर आप ऊपर बताए गए तरीके आजमा चुके और स्टैमिना बढ़ाने के लिए बहुत मेहनत कर रहे है

लेकिन फिर भी आपको कोई परिणाम नही दिख रहा है तो आपको किसी डॉक्टर को दिखाना चाहिए आपका डॉक्टर आसानी सेे पता कर लेगा की कही आपको स्वास्थ्य से जुडी कोई समस्या तो नही है जो आपके Stamina को प्रभावित कर रही है । 


आपको हमेशा स्वास्थ रहनी की कोशिश करनी चाहिए क्योकि Stamina Overall स्वास्थ्य पर Depend करता है ।

निष्कर्ष
स्टैमिना एक सहनशीलता या शक्ति है जो आपको किसी शारीरिक या मानसिक काम को करने के दौरान होने वाले दर्द को सहने मे मदद करती है । स्टैमिना बढाने का सबसे अच्छा तरीका है प्रतिदिन व्यायाम ( Regular exercise ) करना क्योकि इससे Overall Health सुधरती है जिसके साथ स्टैमिना भी बढ़ता है ।


 डेली योगा और मेडिटेशन करने सेे Stress कम होता है जबकि लगातार 6 हफ्तो तक मेडिटेशन और योगा करने से Stamina भी बढ़ता है । व्यायाम के दौरान संगीत सुनने और व्यायाम से 1 घंटा पहले कैफीन लेने से भी स्टैमिना बढ़ता है । 


अश्वगंधा एक आयुर्वेदिक जड़ी बुटी है जो Oveall health को Improve करती है 12 हफ्तो यानि 3 महीनो तक अश्वगंधा के 300 mg कैप्सूल का सेवन करने से स्टैमिना के साथ-साथ पुरा स्वास्थ्य सुधरता है । एक अच्छी और संतुलित डाइट मे सभी तरह को पोषक तत्व, मिनरल्ल और विटामिन्स होते है जो स्टैमिना बढ़ाने के साथ स्वास्थ से जुडे अन्य फायदे भी देती है ।


तो दोस्तो ! आपको हमारा ये आर्टिकल स्टैमिना कैसे बढ़ाए ( Stamina kaise badhaye / how to increase stamina in hindi ) कैसा लगा हमे उम्मीद है की आपको ये आर्टिकस जरूर पसंद आया होगा अगर पसंद आया हो तो इस आर्टिकल को अपने Friends and Relatives के साथ जरूर शेयर करें, और अगर अगर आपका कोई सवाल या सुझाव है तो हमे कमेंट के माध्यम से जरूर बताए | 


इन्हे भी पढ़े- नाक की एलर्जी के घरेलू उपाय। नाक की एलर्जी से 100% बचाव एवं घरेलू उपचार।

इन्हे भी पढ़े- पीपल के पत्ते के टोटके। पीपल के पत्ते का ये आसान उपाय आपको कर देगा मालामाल।

इन्हे भी पढ़े- कफ का आयुर्वेदिक इलाज। कफ के क्या-क्या लक्षण होते हैं। कफ जमने के कारण।

इन्हे भी पढ़े- बदहजमी का कारण, लक्षण और घरेलू इलाज : Home Remedies for Indigestion.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here