स्वप्नदोष की रामबाण दवा , स्वप्नदोष की सबसे अच्छी दवा । स्वप्नदोष की रामबाण आयुर्वेदिक पतंजलि दवा

स्वप्नदोष की रामबाण दवा , स्वप्नदोष की सबसे अच्छी दवा । स्वप्नदोष की रामबाण आयुर्वेदिक पतंजलि दवा। स्वप्नदोष क्या है ? स्वप्नदोष होने के कारण। शुक्रवाह सेवन करने के फायदे। शुक्रवाह से स्वप्न दोष कैसे दूर करे। शुक्रवाह से नाईट फॉल को कैसे रोके ? स्वप्नदोष में क्या खाना चाहिए। शुक्रवाह ( Shukrawah ) से नाइटफॉल का इलाज कैसे करें।

स्वप्न दोष की समस्या वर्तमान में युवाओं में बढ़ती ही जा रही है । इसके बहुत सारे कारण भी हैं । स्वप्नदोष बढ़ने के प्रमुख कारणों में से गलत खानपान , गलत आदतें , रहन-सहन , गलत जीवनशैली आदि शामिल है । इन सभी चीजों की शुरुआत भागदौड़ भरी जिंदगी के कारण होती है। आज swapandosh युवाओं की बहुत बड़ी समस्या बन चुका है । sawpn dosh पुरुष और महिलाओं की , दोनों की समस्या बन चुका है ।

स्वप्नदोष क्या है ?

sawpn dosh का मतलब होता है स्वपन में होने वाला दोष । स्वपनदोष में नींद के दौरान वीर्य निकल जाता है इसे ही स्वपनदोष कहते हैं । सोते समय नींद में वीर्य निकल जाता है और विस्तार चादर गीली हो जाती है । साथ में कपड़े की गिले हो जाते हैं । इसे ही स्वपनदोष कहते हैं । स्वपनदोष में वीर्य आपकी इच्छा के विरुद्ध बाहर निकल जाता है । स्वपनदोष में स्वपन में ही वीर्य निकल जाता है । स्वपनदोष को नाईट फॉल इसलिए कहा जाता है, क्योंकि अधिकतर पुरुष को नाइट के दौरान वीर्य बाहर निकल जाता है जिसे नाईट फॉल कहते हैं। स्वपनदोष किशोरावस्था में और युवावस्था में सबसे ज्यादा होता है । स्वपनदोष की समस्या अधिकतर 15 से लेकर 35 वर्ष के युवाओं में अधिक देखी जाती है । स्वपनदोष में कामोत्तेजक स्वपन आते हैं और वीर्य निकल जाता है ।

स्वप्नदोष होने के कारण

प्रत्येक व्यक्ति में स्वपन दोष के कारण अलग-अलग होते हैं । प्रत्येक व्यक्ति को स्वपनदोष अलग-अलग कारणों की वजह से आता है । स्वपनदोष होने के प्रमुख कारण नीचे दिए गए हैं।

1 . स्वप्नदोष होने के कारण : स्वपनदोष होने का पहला कारण आपकी जीवनशैली होती है । आपकी अपनी दिनचर्या के कारण भी स्वपनदोष होता है । स्वपन दोष को दूर करने के लिए अपनी दिनचर्या को सुधारना होगा ।

2 . स्वप्नदोष होने के कारण : स्वपनदोष होने का दूसरा कारण आपका खान-पान होता है । फास्ट फूड ,जंक फूड , तलावा खाना खाने की वजह से भी स्वपनदोष की बीमारी उत्पन्न हो सकती है और आपको स्वपनदोष हो सकता है ।

3 . स्वप्नदोष होने के कारण : स्वपनदोष होने का तीसरा बड़ा कारण होता है अपनी यौन इच्छाओं को दबाना । यौन इच्छाओं को दबाने के कारण भी स्वपनदोष हो सकता है ।

4 . स्वप्नदोष होने के कारण : स्वपनदोष का चौथा सबसे बड़ा कारण हार्मोन में बदलाव होता है । युवावस्था में हार्मोन में तेजी से बदलाव होता है । जिसके कारण भी कभी कबार स्वपनदोष हो जाता है ।

5 . स्वप्नदोष होने के कारण : स्वपनदोष होने का पांचवा सबसे बड़ा कारण हस्तमैथुन को माना जाता है । अधिक हस्तमैथुन के कारण भी स्वपनदोष हो जाता है ।

6 . स्वप्नदोष होने के कारण : स्वपनदोष होने का छठा सबसे बड़ा कारण अश्लील वीडियो और यौन सामग्री देखने के कारण होता है । यदि कोई व्यक्ति दिन में अश्लील वीडियो ,अश्लील फोटो और अश्लील सामग्री देखता है और पढता है तो भी स्वपनदोष यानी कि नाईट फॉल हो सकता है ।

शुक्रवाह ( Shukrawah ) क्या है ?

शुक्रवाह नाईट फॉल की श्रेष्ठ आयुर्वेदिक दवा है । शुक्रवाह स्वपनदोष की सबसे अच्छी और रामबाण आयुर्वेदिक दवा है । शुक्रवाह वीर्य को गाढ़ा करके स्वपनदोष को रोकता है । शुक्रवाह के सेवन से मस्तिष्क में अश्लील विचार नहीं आते हैं । शुक्रवाह स्वपनदोष का परमानेंट इलाज होता है । शुक्रवाह आपके स्टैमिना को बढ़ाता है और नाईट फॉल को रोकता है । शुक्रवाह चिंता और तनाव को कम करने में हमारी मदद करता है । स्वप्नदोष की रामबाण दवा और स्वप्नदोष की सबसे अच्छी दवा शुक्रवाह को पीपल , छाल, कौंच बीज, शतावरी, ब्रह्म दांडी, आंवला और लाजवंती जैसी शक्तिशाली जड़ी-बूटियाँ मिला करके तैयार किया जाता है ।

शुक्रवाह कौन-कौन से फॉर्मेट में उपलब्ध है ?

स्वप्नदोष की रामबाण दवा और स्वप्नदोष की सबसे अच्छी दवा शुक्रवाह पाउडर के फॉर्मेट में उपलब्ध होता है । स्वपनदोष यानी कि नाईट फॉल की आयुर्वेदिक दवा 160 ग्राम के डिब्बे में पाउडर के फॉर्म में उपलब्ध है ।

शुक्रवाह के इनग्रेडिएंट

शुक्रवाह के इनग्रेडिएंट और सामग्री का नाम – पीपल छाल , कौंच बीज ,शतावरी , ब्रह्मदंडी , आंवला , लाजवंती शुक्रवाह के इनग्रेडिएंट है । शुक्रवाह को पूरी तरीके से आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों से तैयार किया जाता है।

शुक्रवाह का सेवन कैसे करें ?

स्वप्नदोष की रामबाण दवा और स्वप्नदोष की सबसे अच्छी दवा शुक्रवाह पाउडर के सेवन का तरीका सरल और आसान है । नाईट फॉल की दवा शुक्रवार का सेवन करने की विधि नीचे विस्तारपूर्वक बताई गई है ।

शुक्रवाह के सेवन की विधि : स्वप्नदोष की रामबाण दवा और स्वप्नदोष की सबसे अच्छी दवा शुक्रवाह पाउडर का सेवन करने के लिए एक कप गर्म गुनगुना पानी ले और फिर उसमें एक चम्मच शुक्रवाह पाउडर मिलाकर सेवन करें । शुक्रवाह पाउडर का सेवन सुबह और शाम दिन में दो बार खाना खाने के बाद 30 दिनों तक करना होता है ।

शुक्रवाह के सेवन की दूसर विधि : स्वप्नदोष की रामबाण दवा और स्वप्नदोष की सबसे अच्छी दवा शुक्रवाह पाउडर के सेवन में कोई परेशानी होती है तो इस दूसरी विधि से शुक्रवाह पाउडर का सेवन कर सकते हो । शुक्रवाह पाउडर का सेवन करने के लिए एक चम्मच शुक्रवाह पाउडर अपने मुंह में डालें और फिर ऊपर से पानी डाल कर के पी लें

शुक्रवाह पाउडर के सेवन के दौरान किन किन चीजों का परहेज करें ?

परहेज – शुक्रवाह पाउडर के सेवन के दौरान खाने पीने में ज्यादा तली भुनी हुई चीजों का सेवन ना करें । इसके साथ ही अधिक। मिर्च मसाला युक्त भोजन का सेवन भी नहीं करना चाहिए । शुक्रवाह पाउडर के सेवन के दौरान खट्टी चीजों का परहेज करना चाहिए । शुक्रवाह पाउडर के सेवन के दौरान फास्ट फूड और जंक फूड से बचना चाहिए । इसके साथ ही शुक्रवाह पाउडर के सेवन के दौरान अश्लील विचारों से बचना चाहिए और धूम्रपान का सेवन बिलकुल भी नहीं करना चाहिए ।

नोट – खाना खाने से 2 घंटे पहले भरपूर मात्रा में पानी पीना चाहिए तथा दवा तथा भोजन के बीच कम से कम आधे घंटे का अंतराल होना चाहिए ।

शुक्रवाह सेवन करने के फायदे

स्वप्नदोष की रामबाण दवा और स्वप्नदोष की सबसे अच्छी दवा शुक्रवाह पाउडर के सेवन करने के फायदे । शुक्रवाह पाउडर का सेवन करने से सबसे बड़ा फायदा स्वपनदोष में होता है इससे सपन दोष की समस्या और बीमारी दूर होती है । शुक्रवाह पाउडर स्वपनदोष रोकने में मदद करता है । शुक्रवाह पाउडर वीर्य को गाढ़ा और मोटा करता है ताकि स्वपनदोष ना हो ।

1 . शुक्रवाह पाउडर स्वपनदोष की समस्या दूर करता है

शुक्रवाह सेवन करने के फायदे : शुक्रवाह पाउडर नाईट फॉल की समस्या को ठीक करता है और नाईट फॉल को रोकने का काम करता है । शुक्रवाह पाउडर आपके यौन स्वास्थ्य को बेहतर बनाता है।

2 . शुक्रवाह पाउडर स्टेमिना को बढ़ाता है

शुक्रवाह सेवन करने के फायदे : शुक्रवाह पाउडर सेवन करने का दूसरा सबसे बड़ा फायदा यह होता है कि यह आपके स्टैमिना को बढ़ाता है । शुक्रवाह पाउडर आपको शारीरिक और मानसिक रूप से मजबूत बनाता है । शुक्रवाह पाउडर शरीर की मांसपेशियों को मजबूत बनाता है । शुक्रवाह पाउडर के सेवन से आपकी सहन शक्ति भी बढ़ती है ।

3 . शुक्रवाह पाउडर इम्यूनिटी पावर को बढ़ाता है

शुक्रवाह सेवन करने के फायदे : शुक्रवाह पाउडर आपकी इम्यूनिटी पावर को बढ़ाता है । इम्यूनिटी पावर बढ़ने से आपका शरीर स्वस्थ और रोग मुक्त रहता है । इम्यूनिटी पावर बढ़ने से रोग प्रतिरोधक क्षमता में वृद्धि होती है और आपको जल्दी से बीमारियां नहीं घेरती है ।

4 . शुक्रवाह पाउडर वीर्य को गाढ़ा और मोटा करता है

शुक्रवाह सेवन करने के फायदे : शुक्रवाह पाउडर के सेवन से आप का वीर्य गाढ़ा होता है । इसके अलावा शुक्रवाह पाउडर के सेवन से वीर्य का रिसाव भी रुकता है। शुक्रवाह पाउडर आपके वीर्य में स्पर्म काउंट की संख्या को बढ़ाता है ।

5 . शुक्रवाह पाउडर शीघ्रपतन की समस्या को दूर करता है

शुक्रवाह पाउडर यौन रोगों का सबसे अच्छा घरेलू उपाय माना जाता है जो कि पूरी तरीके से आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों से तैयार किया जाता है। शुक्रवाह पाउडर के सेवन से शीघ्रपतन की समस्या दूर होती है । शुक्रवाह पाउडर के सेवन से शीघ्रपतन से छुटकारा मिलता है ।

6 . शुक्रवाह पाउडर तनाव और चिंता को दूर करता है

शुक्रवाह पाउडर में मौजूद जड़ी बूटियां तनाव और चिंता को दूर करने का काम करती है । शुक्रवाह पाउडर आपको शारीरिक और मानसिक मजबूती प्रदान करता है । शुक्रवाह पाउडर डिप्रेशन को कम करने का काम करता है ।

शुक्रवाह सेवन करने के नुकसान

शुक्रवाह पाउडर पूरी तरीके से सुरक्षित माना गया है । शुक्रवाह पाउडर पूरी तरीके से आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों से तैयार किया जाता है । शुक्रवाह पाउडर के निर्माण में किसी भी तरह के केमिकल का उपयोग नहीं किया जाता है । शुक्रवाह पाउडर पूरी तरीके से हर्बल आयुर्वेदिक दवा है । शुक्रवाह पाउडर के सेवन से कोई भी साइड इफेक्ट और नुकसान नहीं होता है । शुक्रवाह पाउडर के सेवन के दौरान कुछ चीजों का परहेज और सावधानियां रखनी चाहिए इसके अलावा शुक्रवाह पाउडर सेवन करने के ओर कोई भी नुकसान और साइड इफेक्ट नहीं है ।

शुक्रवाह कैसे खरीदें ?

शुक्रवाह’ काहन आयुर्वेदा का उत्पाद है । शुक्रवाह पाउडर को काहन आयुर्वेदा की ऑफिशल वेबसाइट से खरीद सकते हो । शुक्रवाह पाउडर को इसकी ऑफिसियल वेबसाइट shukrawah.com से भी खरीद सकते हो ।

शुक्रवाह से स्वप्न दोष कैसे दूर करे

स्वप्न दोष अर्थात नाईट फॉल पुरुषों की सबसे बड़ी समस्या होती है । स्वप्न दोष अर्थात नाईट फॉल में नींद में ही वीर्य निकल जाता है । यदि लगातार ऐसा होता है तो इससे हमारे शरीर में कमजोरी आ जाती है तथा शुक्राणुओं की संख्या में भी कमी आती है। इसके लिए स्वपनदोष को दूर करने की जरूरत होती है । चलिए बात करते कि शुक्रवाह से स्वप्न दोष को कैसे रोके ।

शुक्रवाह से नाईट फॉल को कैसे रोके ?

शुक्रवाह से नाईट फॉल को रोकने के लिए शुक्रवाह पाउडर का सेवन खाना खाने के पश्चात दिन में दो बार करना चाहिए । शुक्रवाह पाउडर से नाईट फॉल को रोकने के लिए कम से कम 1 महीने तक शुक्रवाह पाउडर का सेवन करना चाहिए । शुक्रवाह पाउडर से नाईट फॉल को रोकने के लिए तली भुनी हुई चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए । फास्ट फूड और जंक फूड के सेवन से बचना चाहिए । शुक्रवाह पाउडर से नाईट फॉल को रोकने के लिए दवा को विधि के अनुसार नियमित लें और जो परहज दिए गए हैं उनका पालन करें ।

स्वप्नदोष में क्या खाना चाहिए

स्वपनदोष यानी की नाईट फॉल में क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए ?

1 . स्वपनदोष में शारदा सुपाच्य और सात्विक भोजन करना चाहिए मांस मदिरा के सेवन से बचना चाहिए। तनाव और बना हुआ खाना नहीं खाना चाहिए शाकाहारी भोजन स्वपनदोष के दौरान करना चाहिए । यदि किसी को स्वपनदोष की समस्या है तो उसे सोने से 3 घंटे पहले खाना खा लेना चाहिए ।

2 . स्वपनदोष के व्यक्ति को दो केले सुबह और शाम दूध के साथ सेवन करने चाहिए इससे स्वपनदोष में कमी आती है ।

3 . स्वपनदोष को व्यक्ति को अपने आहार में काजू , पिसता , बादाम , अखरोट , मुनक्का शामिल करना चाहिए ।

4 . स्वपनदोष के व्यक्ति को अदरक और सफेद प्याज का रस बराबर मात्रा में मिलाकर के शहद के साथ दिन में 2 बार सेवन करना चाहिए ।

5 . स्वपनदोष वाले व्यक्ति को अपने आहार में आंवले का मुरब्बा शामिल करना चाहिए सुबह और शाम को आंवले का मुरब्बा खाना चाहिए इससे स्वपनदोष में कमी आती है।

6 . स्वपनदोष वाले व्यक्ति को मीठे फल , शहद , बेर, लहसुन, प्याज, मलाई, रबड़ी आदि खाना चाहिए ।

7 . स्वपनदोष वाले व्यक्ति को अपने खाने में क्या लिखो शामिल करना चाहिए । केला पौरुष शक्ति के साथ साथ में स्पर्म काउंट को भी बढ़ाता है । केले के सेवन से स्वपनदोष की समस्या दूर होती है और नाईट फॉल नहीं होता है ।

8 . स्वपनदोष के व्यक्ति को त्रिफला चूर्ण का सेवन करना चाहिए त्रिफला चूर्ण स्वपनदोष की समस्या को दूर करता है। स्वपनदोष की समस्या से छुटकारा पाने के लिए त्रिफला चूर्ण को दूध के साथ उबालकर के सेवन करना चाहिए।

9 . लहसुन को सपन दोष दूर करने का सबसे अच्छा घरेलू उपाय माना जाता है । लहसुन यौन समस्या को दूर करता है । नाईट फॉल की समस्या को दूर करने के लिए लहसुन की कली को भुन करके शहद के साथ रात को सोते समय करना चाहिए ।

शुक्रवाह ( Shukrawah ) से नाइटफॉल का इलाज कैसे करें

शुक्रवाह ( Shukrawah ) से नाइटफॉल का इलाज करने के लिए शुक्रवाह का 3 महीने का पूरा कोर्स लें । शुक्रवाह ( Shukrawah ) से नाइटफॉल का इलाज करने के लिए खाना खाने से 2 घंटे पहले भरपूर मात्रा में पानी पिए । शुक्रवाह ( Shukrawah ) से नाइटफॉल का इलाज करने के लिए खाना खाने के आधे घंटे बाद ही शुक्रवाह पाउडर ( Shukrawah powder ) का दवा के रूप में सेवन करें ।

स्वप्नदोष की रामबाण दवा शुक्रवाह

nightfall ki medicine शुक्रवाह स्वपनदोष की रामबाण आयुर्वेदिक दवा है। स्वप्नदोष की रामबाण दवा शुक्रवाह के सेवन से स्वप्नदोष से जुड़ी हुई सभी बीमारियां ठीक होती है । स्वपनदोष में सपने में ही वीर्य निकल जाता है । स्वपनदोष के इलाज और उपचार के लिए आयुर्वेदिक दवा शुक्रवाह का सेवन करें । शुक्रवाह का उपयोग नाईट फॉल की दवा ( nightfall ki medicine ) के रूप में किया जाता है । शुक्रवाह से नाईट फॉल यानी कि स्वपनदोष ( swapndosh ) ठीक होता है ।

नाईट फॉल की दवा शुक्रवाह क्या है ?

शुक्रवाह नाईट फॉल की आयुर्वेदिक दवा है । शुक्रवाह आयुर्वेदिक दवा का यूज़ नाईट फॉल को रोकने के लिए किया जाता है । शुक्रवाह का उपयोग स्पर्म काउंट को बढ़ाने के लिए , स्वपन दोष को दूर करने के लिए , पुरुषों के यौन रोगों को ठीक करने के लिए , पेनिस की नसों को मजबूत करने के लिए , लिंग में तनाव लाने के लिए , लिंग में ढीलापन को दूर करने के लिए किया जाता है ।

स्वप्नदोष की सबसे अच्छी दवा शुक्रवाह । स्वप्नदोष की सबसे अच्छी दवा

nightfall ki medicine शुक्रवाह को swapan dosh की सबसे अच्छी आयुर्वेदिक दवा इसलिए माना गया है क्योंकि शुक्रवाह पूरी तरीके से आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों से तैयार की गई है । swapandosh ki dawa शुक्रवाह में किसी भी प्रकार के रसायन का उपयोग नहीं किया गया है । इसके अलावा nightfall ki dawa शुक्रवाह के कोई भी साइड इफेक्ट और नुकसान नहीं है ।

नाईट फॉल की अंग्रेजी दवा । स्वप्नदोष की अंग्रेजी दवा का नाम । सपन दोष के लिए अंग्रेजी दवा ।

नाईट फॉल की अंग्रेजी दवा । स्वप्नदोष की अंग्रेजी दवा का नाम । सपन दोष के लिए अंग्रेजी दवा । nightfall rokne ki angreji dawa के नाम नीचे दिए गए हैं । स्वप्नदोष की दवा ( nightfall ki medicine ) के तौर पर इन दवाओं का सेवन किया जा सकता है ।

1 . Alprazolam
2 . Clonzapam
3 . Nitrazapam
4 . Potassium bromide
5 . Chlorpromazine
6 . थाओरिडाजिन thioridazine
7 . लोराजेपम

स्वप्नदोष की टेबलेट – nightfall ki tablet

nightfall rokne ki tablet के रूप में Baidyanath की स्वपन दोष हरी टैबलेट का उपयोग किया जाता है । nightfall rokne ki dawa‌ स्वपन दोष हरी टैबलेट हमारे वीर्य में स्पर्म काउंट की संख्या को बढ़ाती है । स्वप्नदोष की दवा स्वपन दोष हरी टैबलेट धातु रोग की समस्या को दूर करती है । nightfall ki medicine‌ स्वपन दोष हरी टैबलेट वीर्य में शुक्राणु की कमी को दूर करती है ।