महिलाओं के शरीर पर यहां हो तिल तो होती हैं धनवान

महिलाओं के शरीर पर यहां हो तिल तो होती हैं धनवान

आज हम बात करेंगे कि हमारे शरीर पर जो तिल होते हैं , उनका क्या महत्व है | क्योंकि हमारे शरीर पर तिल किसी भी स्थान पर हो सकता है | यह मायने नहीं रखता कि तिल किस स्थान पर होना ही चाहिए | यह हमारे शरीर के किसी भी भाग पर हो सकते हैं | महिलाओं के शरीर पर यहां हो तिल तो होती हैं धनवान

महिलाओं के शरीर पर यहां हो तिल तो होती हैं धनवान

तिल शरीर के जिस स्थान पर होता है उसका महत्व भी अलग अलग होता है | यानी कि हर स्थान का अपना महत्व होता है | यदि शरीर के ऊपर तिल नाक पर हो तो उसका अलग अर्थ होता है | यदि आंख पर हो तो अलग अर्थ होता है |

यदि गाल पर तिल हो तो अलग अर्थ होता है | यदि होठों पर तिल हो तब अलग अर्थ होता है | इसलिए शरीर के अलग-अलग स्थानों पर तिल का प्रभाव भी अलग-अलग होता है | आज हम इन्हीं तिल के बारे में बात करेंगे |

हमारे शरीर पर किसी ना किसी जगह पर तिल अवश्य होता है | बहुत ही कम ऐसे लोग पाए जाते हैं जिनके शरीर पर एक भी तेल नहीं होता है | लगभग हर इंसान के शरीर पर एक ना एक तिल तो किसी ना किसी अंग पर होता है | इसके प्रभाव की शुभ और अशुभ होते हैं | कुछ तिल शुभ प्रभाव देने वाले होते हैं तथा कुछ तेल अशुभ प्रभाव देने वाले होते हैं | जिन का हमारे जीवन पर भी गहरा असर पड़ता है और यह उन शुभ तथा अशुभ फल की तरह हमारे को इशारा भी करते हैं | इनको देख कर के हम उनका पता लगा सकते हैं | महिलाओं के शरीर पर यहां हो तिल तो होती हैं धनवान

सामुद्रिक शास्त्र के अनुसार शरीर पर तिल होना गुप्त रूप से किसी ना किसी चीज का संकेत अवश्य देता है |यह अलग बात है कि हमें उन तिलों का ज्ञान नहीं होता है | जबकि इसका प्रभाव हमारे जीवन में जरूर पड़ता है |

शास्त्र के अनुसार हमारे शरीर पर तिलों का क्या महत्व है |

माथे के राइट साइड पर तिल का महत्व

यदि किसी व्यक्ति के सिर के राइट साइड में तिल होता है तो व्यक्ति अपने जीवन में धन की वृद्धि करता है | यानी कि उसके पास जितना धन है उससे ज्यादा धन कमाता है | यदि ऐसा व्यक्ति किसी गरीब परिवार में भी पैदा होता है , तब वह अपने मेहनत के बलबूते पर धन अर्जित करता है तथा अपना नाम कमाता है |

सिर के लेफ्ट साइड पर तिल का महत्व

जिस किसी भी व्यक्ति के सिर के लेफ्ट साइड में तिल होता है , उस व्यक्ति के जीवन में ज्यादातर संघर्ष होता है | उन्हें हर बात के लिए संघर्ष करना पड़ता है | हर छोटी से छोटी चीज को पाने के लिए उन्हें बहुत ही मेहनत करनी पड़ती है | उसके जीवन हमेशा संघर्ष से भरा रहता है | इनके जीवन में हमेशा परेशानियां बनी ही रहती है |

ठुड्डी पर तिल का महत्व

ऐसे व्यक्ति की बात करें जिनके ठुड्डी पर तिल होता है वह व्यक्ति जीवन में धन तो बहुत ही कमाता है , लेकिन इनके जीवन साथी के साथ हमेशा अनुबंध बनी रहती है | यानी कि इनके लाइफ पार्टनर के साथ इनकी कम ही बनती है | इनके जीवन साथी के साथ इनका अनबन ही रहती है |

दोनों भौहों के मध्य तिल का महत्व

जीस किसी व्यक्ति या जातक के दोनों भौहों के मध्य तिल पाया जाता है | उसका अलग ही महत्व है | यह व्यक्ति यात्राओं का सुख भोग करने वाला होता है | इन व्यक्तियों के जीवन में बहुत सारी यात्राएं होती है यह व्यक्ति यात्रा के बहुत ही ज्यादा शौकीन होते हैं | इनको अलग-अलग जगहों पर घूमना तथा भ्रमण करना अच्छा लगता है | इनके जीवन में इन्हें यात्रा करने के बहुत सारे अवसर भी प्राप्त होते हैं | इसके साथ ही यह इन यात्राओं का भरपूर लाभ भी उठाते हैं

सीधी आंख पर तिल का महत्व

यदि किसी भी जातक या महिला या फिर पुरुष की सीधी आंख पर तिल होता है तो ऐसे जातक या पार्टनर अपने जीवनसाथी से वेद ही ज्यादा प्यार करने वाले होते हैं | यह अपने जीवनसाथी को बहुत ही चाहने वाले होते हैं | इनके जीवन में किसी भी प्रकार की समस्याएं आ जाए , यह हमेशा साथ रहते हैं तथा कदम से कदम मिलाकर चलते हैं | यह कभी भी समस्याओं से पीछे नहीं हटते हैं |

लेफ्ट आंख पर तिल का महत्व

जीस जातक के लेफ्ट आंख पर तिल होता है , उनके जीवन में किसी ना किसी बात को लेकर की हमेशा चिंताएं बनी रहती है | यानी कि वह जातक हमेशा चिंताओं से गिरा हुआ रहता है | वैसे तो हर जातक के जीवन में चिंता होती है , लेकिन इन जातकों के मन में कुछ ज्यादा ही चिंता पाई जाती है | यह चिंता जीवन भर बनी रहती है | यह कभी भी इनका पीछा नहीं छोड़ती है और इनकी चिंताएं भी कुछ अजीब और विचित्र होती है |

सीधे गाल पर तिल का महत्व

ऐसा जातक बहुत ही भाग्यशाली तथा धनवान माना जाता है | यानी कि ऐसे जातक गरीब परिवार में भी पैदा होकर ,एक ना एक दिन धनवान जरूर बनते हैं | इनके पास पैसा होता है , लेकिन शुरुआत में इनके पास कुछ भी नहीं होता है | बाद में यह धनवान बन जाते हैं |

लेफ्ट साइड के गाल पर तिल का महत्व

इस प्रकार के जातक अपने जीवन में मेहनत तो बहुत करते हैं | इतनी मेहनत करने के बाद भी वह अपने जीवन में धन को इकट्ठा नहीं कर पाते हैं | इनके जीवन में धन कभी टिकता ही नहीं है | यह लोग चाहे लाख कोशिश कर ले , इनके पास धन कभी रुकता ही नहीं है | धन आता है तथा चला जाता है |इन लोगों के पास हमेशा धन का ही अभाव बना रहता है या तो यह लोग बहुत ही ज्यादा खर्चीला स्वभाव के होते हैं | इस वजह से भी इनके पास धन नहीं टिकता है |

ऊपरी होंठ पर तिल का महत्व

जिस किसी भी पुरुष या महिला के ऊपरी होंठ पर तिल होता है , ऐसे व्यक्ति बहुत ही ज्यादा सेक्सुअल प्रकृति के होते हैं यानी कि इनमें कामवासना बहुत ही ज्यादा होती है | हमेशा काम वासना की पूर्ति में ही लगे रहते हैं | इनको हरदम कामवासना सताती रहती है |

निचले होंठ पर तिल का महत्व

जिस भी जातक के निचले होंठ पर तिल होता है ऐसे जातकों को अपने जीवन में पूर्ण रूप से एक श्रद्धा के साथ मेहनत करनी चाहिए | यदि वे पूर्ण श्रद्धा से मेहनत नहीं करते हैं तब उनको किसी भी चीज का कोई भी फल नहीं मिलता है | यदि वह पूरी मेहनत करते हैं तभी उनको फल मिलता है | अन्यथा उनको फल नहीं मिलता है उनकी मेहनत का |

कान पर तिल होना का महत्व

जिस किसी भी व्यक्ति के या तो एक कान पर तिल हो या फिर दोनों कान पर तिल हो , ऐसे व्यक्तियों को हर प्रकार की मौसमी बीमारियां सताती रहती है | यानी कि इन्हें हर मौसम में बीमार होना पड़ता है | यह मौसम की बीमारी से बच नहीं पाते हैं | हर मौसम में यह बीमार पड़ जाते हैं | इसके साथ ही इन्हें छोटी-छोटी बीमारियां भी सताती रहती है और वह भी जल्दी से ठीक नहीं होती है |यह अपने जीवन में ज्यादातर बीमार ही रहते हैं |

गर्दन पर तिल का महत्व

किसी भी जातक या पुरुष के गर्दन पर तिल होता है ऐसे जातक बड़े ही धैर्य वन होते हैं | यह हर काम को धैर्य से करते हैं | यह शांत स्वभाव के होते हैं | यह किसी भी कार्य में कभी भी जल्दबाजी नहीं करते हैं | हर कार्य को शांत तरीके से तथा शांत भाव से करते हैं

बाईं भुजा पर तिल का महत्व

यह व्यक्ति अपने जीवन में बहुत ही भाग्यशाली होते हैं | यह सुर और वीर होते हैं | अतः इनकी जब शादी होती है और इनकी जब पहली संतान होती है , तब पहली संतान के रूप में इनके हमेशा बच्चा ही होता है यानी कि इनको हमेशा पुत्र की प्राप्ति होती है |

नाक पर तिल का महत्व

जिस जातक के नाक पर तिल होता है, यह दिल के साफ होते हैं | यानी कि इनके दिल में किसी भी प्रकार का कोई खोट नहीं होता है | यह ईर्ष्या तथा द्वेष की भावना से रहित होते हैं | ऐसे जातक यात्रा के शौकीन भी होते हैं | यह जातक अपने जीवन में लगभग सभी प्रकार की भौतिक सुखों का आनंद लेते हैं तथा भौतिक सुख प्राप्त करते हैं | इसके साथ यह परिश्रमी m भी होते हैं तथा परिश्रम भी करते हैं |

दाहिने छाती पर तिल का महत्व

दाहिने छाती पर तिल वाले जातक अपने प्रेमी या फिर प्रेमिका से बहुत ही ज्यादा प्यार करने वाले होते हैं | यह उन्हें अपने सच्चे दिल से चाहने वाले होते हैं | यह अपने जीवनसाथी के प्रति हमेशा ईमानदार रहते हैं तथा उनकी हर इच्छा को पूर्ण करने के लिए हमेशा तत्पर रहते हैं |

बाई छाती पर तिल का महत्व

इस प्रकार के लोग जिसकी बाई छाती पर तिल होता है | यह अपने पार्टनर से हमेशा ही लड़ते झगड़ते रहते हैं | यह अपने पार्टनर से कभी भी खुश नहीं होते हैं | इनके अपने पार्टनर के साथ हमेशा ही अनबन बनी रहती है |