Close

जयपुर में घूमने की 10 खास जगह | Top 10 Best Places to Visit in Jaipur

घूमने के लिए बेस्ट जगह जयपुर सिटी जयपुर के टॉप 10 पर्यटन स्थल – घूमने की जगहें

पिंक सिटी जयपुर में घूमने की 10 खास जगह – Top 10 Places To Visit In Jaipur In Hindi. जयपुर में घूमने वाली जगह सिटी पैलेस जयपुर के टॉप दर्शनीय स्थल और घूमने की जगहों के बारे में पढ़ें। देखें

आइए दोस्तों आज हम आपको बताते हैं। कि घूमने के लिए सबसे खूबसूरत और अच्छी जगह कौन सी है। वैसे तो हमारी प्रकृति ऐसी है। कि यहां पर बहुत सारी खूबसूरत चीजें हैं। लेकिन अगर हमारा मन कहीं एक जगह घूमने का करता है। तो हमें जयपुर जरूर घूमना चाहिए।

जयपुर बहुत ही खूबसूरत जगह है। हमारे राज्य राजस्थान की राजधानी को जयपुर कहा जाता है। यह सिटी बहुत ही शांत और सेफ है। हमारे भारतवर्ष का सबसे प्यारा और खूबसूरत राज्य है। राजस्थान यह राज्य इतना मशहूर और खूबसूरत है। जयपुर को पिंक सिटी यानी गुलाबी नगर कहा जाता है।

सबसे पहले हम आपको बताते हैं। कि जयपुर को गुलाबी शहर क्यों कहा जाता है। जयपुर से अपने किलो महलों हवेलीयो के लिए बहुत प्रसिद्ध है। और यहां के इमारतों के निर्माण के लिए गुलाबी रंग के पत्थरों का प्रयोग किया जाता है।

इससे जुड़ी एक कहानी है। सन 1876 में इंग्लैंड की महारानी एलिजाबेथ और वेल्स के राजकुमार क्रॉउन प्रिंस अल्बर्ट जयपुर आने वाले थे‌।

उस समय जयपुर का महाराजा रामसिंह था। जो मेहमान नवाजी के तैयारियों में जुटे हुए थे। और उनका वेलकम करने के लिए पूरे शहर को दुल्हन की तरह सजाया था।

शहर की सड़कें साफ करके उसके किनारे फूल पत्तियां लगाई जा रही थी इतना सब कुछ करने के बाद महाराजा राम सिंह ने सोचा क्यों ना शहर को रंग में रंग दिया जाए

फिर उन्होंने पूरे शहर को गुलाबी रंग रंगवा देने का आदेश दिया उसके बाद के शहर गुलाबी हो गया जो बाद में चलकर गुलाबी नगर कहलाया है। अपनी सुंदरता से पूरे विश्व में लोहा मनवा देने वाला जयपुर शहर देसी विदेशी सैलानियों को खूब आता है।

दुर दराज के क्षेत्रों से लोग यहां अपने ऐतिहासिक विरासत की गवाह बनी इस समृद्ध संस्कृति और परंपरा को देखने आते हैं।

ऐसा कौन सा काम है जो पति पत्नी नंगा होकर करते हैं। नंगा होकर सोने के क्या क्या फायदे हैं।

औरत के सोने के तरीके से जानो उसका चरित्र || चाणक्य नीति ||

काला धागा बांधने के क्या फायदे हैं काला धागा बांधने के कई और अद्भुत फायदे

अगर द्रोपती ने पांच पांडवों से शादी नहीं की होती तो क्या होता जानिए इसके बारे में?

रावण का सामना जब काल से हुआ तब क्या हुआ ?

Top 10 Best Places to Visit in Jaipur

शानदार महलों वाले शहर को बनाते समय उसमें प्रवेश के लिए 7 द्वार बनाए गए थे जरूर से दीवारों से घिरा हुआ है। यह खूबसूरत शहर जयपुर ऐतिहासिक किले और महल अब तक शान से खड़े हैं।

पहचान बनाते हैं। शहर के चारों तरफ पहाड़ियों के ऊपर के लिए बने हुए हैं। और आज भी अकेले और मैं यहां के योद्धाओं की वीरता की कहानी बयान करते हैं।

सूखी झील के मैदान में बसा है। यह जयपुर शहर जहां आकर अक्सर पर्यटक यहां के रंग में रंग जाते हैं। वैसे तो साल के 365 दिन यह पर्यटकों से भरा रहता है। लेकिन मानसून सीजन की बात ही कुछ और है। मानसून के दौरान जब बारिश की बूंदे गिरी होती है।खूबसूरती कई गुना बढ़ जाती है।

इस दौरान बारिश में खाने और घूमने का एक अलग ही मजा होता है। और साथ ही एक और चीज जो यहां सबसे ज्यादा पसंद की जाती है। वह फोटोग्राफी बारिश के दौरान आप भी कहीं प्लान बना रहे हैं।

तो जयपुर जाए खूबसूरत जगहों के सेर करें यहां पर आसमान में उड़ते गुब्बारों का मनमोहक दृश्य में सभी पर्यटकों को बहुत अच्छा लगता है।

जयपुर में ऐसी कई जगह जहां पर घूमने के बाद आपको एहसास होगा कि जयपुर ट्रिप यकीनन आपकी जिंदगी का बेस्ट होगा जयपुर भारत का पहला ऐसा शहर है। जिसे वास्तु शास्त्र के अनुसार निर्मित किया गया था जहां बसा हुआ है।

कभी 6 गांव हुआ करते थे नाहरगढ़, तालकटोरा, संतोष सागर, आज का मोती कटला, गलताजी, और आज के किशनपोल, को मिलाकर जयपुर को बनाया गया था।

जयपुर नगर का निर्माण शुरू कब हुवा

सन 1727 जयपुर नगर का निर्माण शुरू हो गया इनमें प्रमुख खंडों को बनाने में करीब 4 साल का समय लगा जयपुर के बारे में कहा जाता है। कि नगर नियोजन यहां परंपरा शुरू से चली आ रही है। इसीलिए तो इस शहर को बसाते समय सड़कों और विभिन्न रास्तों की चौड़ाई पर विशेष ध्यान दिया गया था।

महलों और किलो के अलावा जयपुर शहर एक और चीज के लिए प्रसिद्ध है। और चीज के लिए काफी प्रसिद्ध है ।वह है। मेले और त्यौहार और हो भी क्यों ना भारत हमारे देश की जो है।

जयपुर के पारंपरिक पोशाक

1 . यहां पर कार रैली का भी आयोजन होता है। और इसका आयोजन हर साल जनवरी माह में किया जाता है। अन्य त्योहारों में से एक त्योहार और है।

2 . एलीफेंट फेस्टिवल इसका आयोजन अक्सर होली के समय पर किया जाता है। जो हिंदुओं का मुख्य त्योहार होता है। इस महोत्सव में हाथियों को बहुत ही खूबसूरत तरीके से सजाया जाता है।

3 . इसके अलावा गणगौर महोत्सव भी यहां पर बहुत लोकप्रिय हैं। खास बात तो यह है। कि पर्यटक यहां पर कई त्योहारों को देखने के अलावा उन्हें भाग भी ले सकते हैं।

जयपुर की खास बात और है। यहां पर अलग-अलग प्रकार की दुकानें लगी हुई रहती है। या पर आप किसी भी प्रकार का सामान खरीद सकते हैं। यहां पर विभिन्न प्रकार के गहने कपड़े मिट्टी के बर्तन और रत्न मिलते हैं। जो बिल्कुल ही अलग और अनोखे होते हैं।

अगर बात करें हम जयपुर के पारंपरिक पोशाक की औरतें लॉन्ग स्कर्ट और ब्लाउज पहनती हैं।‍ जिसे घाघरा चोली कहा जाता है। और पुरुष धोती कुर्ता और सर पर लाल पगड़ी बांधते हैं। जयपुर में पर्यटक फुर्सत के पल मजे से गुजार सकते हैं।

जयपुर अपने स्वादिष्ट मसालेदार और चटपटे भोजन के लिए भी काफी फेमस है।दाल, बाटी, चूरमा, प्याज की कचोरी, कबाब, अचारी मुर्ग, यहां के प्रसिद्ध व्यंजन है। अगर आपको नए नए खाने का स्वाद चखना है। आप यहां के नेहरू बाजार और जोहरी बाजार में आ कर खा सकते हैं।

जयपुर की प्रसिद्ध मिठाई

यह दोनों फूड्स मार्केट है। यहां पर सभी प्रकार के स्थानीय भोजन के ठेले सड़क के किनारे लगे
इसके अलावा जयपुर की प्रसिद्ध मिठाई घेवर, मिश्री मावा, मावा कचोरी, भी देशभर में काफी लोकप्रिय है। इनका नाम सुनकर मुंह में पानी आ जाएगा

हाल ही में जयपुर को विश्व के 10 खूबसूरत शहरों में शामिल किया गया है। केंद्र सरकार ने पहले ही जयपुर को स्मार्ट सिटी बनाने का फैसला किया था। और इसके लिए भी काम जारी है‌। साथ ही यहां के ऐतिहासिक इमारतों के भी ज्यादा देखरेख रखी जाएगी।

रोज रात को पति का यह अंग पकड़ने से आप करोड़पति बन जाओगे

सामुद्रिक शास्त्र में सौभाग्यशाली स्त्रियों की कुछ विशेषताएं

ऐसे कौन से 5 अंग जिस में छुपा है। आपके करोड़पति बनने का राज

औरत के ऐसे कौन से गुप्त अंग में अगर यह चीज डाल दो तो किस्मत बदल जाएंगी।

जयपुर की बहुत ही खास जगह जो आपने कभी भी नहीं देखी होगी

1 . हवा महल जयपुर

हवा महल जयपुर के बड़ी चौपड़ इलाके में गुलाबी रंग के बलुआ पत्थर से बना हवा महल शहर के सबसे बड़े लैंड मार्क के रूप में प्रसिद्ध है। इस महल को महाराणा प्रताप ने बनवाया था इसमें मुगलों और राजस्थानी काला साफ झलकती है। हवा महल का अर्थ है।

हवाओं का महल इसमें लगभग 953 छोटी-छोटी खिड़कियां हैं। इन्हें हमेशा महल में हवा के प्रवेश के लिए बनाया गया था। यह महल साही महारानियों के लिए बनवाया गया था ताकि वह गली मोहल्ले में हो रहे त्योहारों उत्सवों और हलचल के दर्शक बन सके

हवामहल एक पांच मंजिला इमारत है। इन मंजिलो में जाने के लिए सिढिया नहीं है। आपको मंजिल तक पहुंचने के लिए आपको ढलान भरे रास्तों पर चलना होगा

2 . नाहरगढ़ किला

नाहरगढ़ किला की पहाड़ियों के किनारे पर स्थित नाहरगढ़ किले से गुलाबी शहर जयपुर का मनोरम नजारा दिखता है। रात में तो इसकी खूबसूरती देखते ही बनती है। नाहरगढ़ का अर्थ होता है। शेरों का आवाज और यह सचमुच राजस्थान की विरासत है।

1734 में सवाई जयसिंह द्वितीय ने इसे बनवाया था बारिश के मौसम में आपको यहां जरूर आना चाहिए क्योंकि इसके लिए के सामने है। इसका नजारा मॉनसून काफी शानदार होता है। अपना पूरा दिन बिताने के लिए यह बेहतरीन जगह है शीश महल जयपुर वैक्स म्यूजियम भी है।

3 . जंतर मंतर यूनेस्को

जंतर मंतर यूनेस्को द्वारा महाराजा सवाई जयसिंह द्वारा बनाए गए इस स्थल को यूनेस्को द्वारा विश्व विरासत का दर्जा दिया गया है। संगमरमर व स्थानीय पत्थरो द्वारा बनाया गया खूबसूरत भवन है। जिसे खगोलीय पिंडों की खोज के लिए बनवाया गया था यहां मौजूद समय दिशा अभी का पता लगाया जाता है।

4. जल महल ऐतिहासिक

जल महल ऐतिहासिक जिसका सिर्फ एक फ्लोर पानी की सतह से ऊपर है। बाकी चार पानी के नीचे सत्ता में छुपे हुए हैं। जल महल घूमने लिए सूर्योदय और सूर्यास्त का समय सबसे बेस्ट होता है।

क्योंकि इस दौरान हम प्राकृतिक खूबसूरती से इस महल के बेहतरीन वास्तुकला की सबसे अच्छी तस्वीरें खींच सकते हैं। लेकिन बारिश के दौरान खूबसूरत कई गुना बढ़ जाती है।इस समय यहां मौजूद चीज के पास बैठना और बारिश को एंजॉय करने का अपना ही मजा है। इसका लुप्त आपको जरूर उठाना चाहिए

5 . आमेर का किला

आमेर किला पहाड़ी की चोटी पर स्थित आमेर का किला अपनी वास्तु शिल्प कला और इतिहास के कारण काफी प्रसिद्ध है। यहां पर प्रतिदिन बड़ी संख्या में पर्यटक आते हैं।

यह किला चार मंजिला है। जो गुलाबी और पीली बलुआ पत्थरों से मिलकर बना हुआ है। शाही परिवार कई पीढ़ियों तक यहां रहा था बता दें इस किले में जोधा अकबर जैसी फिल्मों की शूटिंग भी हो चुकी है।

6 . पिंक सिटी बाजार

पिंक सिटी बाजार क्या आपको शॉपिंग करना बहुत अच्छा लगता है। तो आपको यहां बेशक जयपुर आना चाहिए यह चार अलग-अलग बाजारों का मिश्रण है। यहां आपको राजस्थानी जूतियां से लेकर पूरे दुपट्टे और सजावटी सामान तक सब कुछ मिलेगा तो आपको यहां पर जरूर घूमना चाहिए तो आपको जयपुर शहर में जरूर घूमना चाहिए यहां आपका इंतजार पारंपरिक भोजन भी कर रहा है।

7 . सिटी पैलेस जयपुर

सिटी पैलेस सिटी पैलेस जयपुर का एक प्रमुख लैंडमार्क है। जहां से जयपुर को अपनी आंखों में समेट सकते हैं। इसके सौंदर्य गवाह बन सकते हैं। इस साल के भीतर दो और किले भी है।

यह जयपुर के पूर्वोत्तर भाग में स्थित है। सिटी पैलेस राजाओं का तख्त रहा है। इसमें कहीं भवन आंगन और मंदिर स्थित है। इसका निर्माण जय सिंह ने शुरू करवाया था। जिसमें भारतीय और यूरोपीय वास्तुकला शैली का सटीक मिश्रण है।

8 . जयगढ़ किला महाराजा जयसिंह

जयगढ़ किला महाराजा जयसिंह द्वारा बनवाई गई है। यह सुंदर कृति जयपुर के आमेर के अरावली की पहाड़ियों में स्थित है। 400 मीटर मुझे इस किले को आमेर की सुरक्षा के लिए बनाया गया था अगर आप हथियारों को देखने का शौक रखते हैं। तो आप इस किले के अंदर जरूर जाकर देखें।

आचार्य चाणक्य जी के अनुसार सोने से पहले यह पांच काम जरूर करें यह आप को अमीर बना देंगे

कुबेर लोक के कोषाध्यक्ष सुमति तथा कुमति की कहानी ।

सीता माता का जन्म कैसे हुआ ? सीता जी के पिता कौन थे